लाइव टीवी

मुंबई : BJP सांसद का बेतुका बयान- लोग लॉकडाउन में हॉलीडे मनाने गांव जा रहे, इनमें प्रवासी मजदूर नहीं
Pratapgarh-Uttar-Pradesh-2 News in Hindi

News18Hindi
Updated: May 21, 2020, 12:03 PM IST
मुंबई : BJP सांसद का बेतुका बयान- लोग लॉकडाउन में हॉलीडे मनाने गांव जा रहे, इनमें प्रवासी मजदूर नहीं
मजदूरों की घर वापसी के लिए रेलवे श्रमिक स्पेशल ट्रेनें चला रहा है.

प्रतापगढ़ के लोकसभा सांसद और बीजेपी नेता संगम लाल गुप्ता (Sangam Lal Gupta) ने कहा, 'भीड़ को ध्यान से देखिए, इनमें एक भी मजदूर (Migrant Labourers) नहीं लगता. प्रवासी मजदूर तो कब के अपने गांव लौट चुके हैं. ये वो लोग हैं, जो गर्मी की छुट्टियां मनाने के लिए ट्रेन यात्रा करने आए थे.'

  • Share this:
आशीष सिंह

मुंबई. कोरोना महामारी को फैलने से रोकने के लिए देश में लॉकडाउन (Lockdown 4.0) का चौथा फेज चल रहा है. कामबंदी और तालाबंदी के चलते देश के अलग-अलग हिस्सों में फंसे प्रवासी मजदूरों (Migrant Labourers) के सामने खाने-कमाने का संकट पैदा हो गया है. ऐसे में वे मजबूरन अपने गांव और शहर लौट रहे हैं. प्रवासी मजदूरों की घर वापसी को लेकर राजनीतिक बयानबाजी भी जारी है. उत्तर प्रदेश के प्रतापगढ़ से बीजेपी सांसद संगमलाल गुप्ता (Sangam Lal Gupta) ने प्रवासियों को लेकर आपत्तिजनक बयान दिया है.

मुंबई के कांदिवली इलाके में प्रतापगढ़ और जौनपुर जाने वाले मजदूरों की ट्रेनें कैंसिल होने के बाद बौखलाए मजदूरों को आश्वासन देने पहुंचे बीजेपी सांसद संगमलाल ने कहा, 'ये लोग इस लॉकडाउन में गांव में छुट्टियां मनाने जाने वाले लोग हैं. इनमें से कोई प्रवासी मजदूर नहीं है. मजदूर तो कब के जा चुके हैं.'



इन लोगों को नहीं होगा कोरोना संक्रमण



प्रतापगढ़ के लोकसभा सांसद और बीजेपी नेता संगम लाल गुप्ता ने कहा, 'भीड़ को ध्यान से देखिए, इनमें एक भी मजदूर नहीं लगता. प्रवासी मजदूर तो कब के अपने गांव लौट चुके हैं. ये वो लोग हैं, जो गर्मी की छुट्टियां मनाने के लिए ट्रेन यात्रा करने आए थे. जब दो महीने में इन्हें कोरोना वायरस का कोई संक्रमण नहीं हुआ, तो आगे समझ लें कि इन्हें कुछ नहीं होगा.'

SANGAM LAL
यूपी के प्रतापढ़ से बीजेपी सांसद संगम लाल गुप्ता (फोटो-लोकसभा टीवी)


कांग्रेस बस कर रही है राजनीति
वहीं, उत्तर प्रदेश बॉर्डर पर प्रवासी मजदूरों की बसें रोक दिए जाने को लेकर संगम लाल ने कहा, 'कांग्रेस को कुछ काम तो नहीं है. बस बैठे-बैठे राजनीति कर रही है.' उन्होंने कहा कि यूपी बॉर्डर पर उत्तर प्रदेश सरकार की तरफ से मजदूरों को पहुंचाने के लिए बसें लगी हुई हैं. लेकिन, कांग्रेस इसमें बेवजह बाधा डाल रही है.

आक्रोशित हो रहे हैं मजदूर
बता दें कि लॉकडाउन के चलते देश के अलग-अलग हिस्सों में फंसे प्रवासी मजदूरों का गुस्सा भड़कने लगा है. सोमवार को ऐसी ही तस्वीरें तीन प्रदेशों से सामने आई. गुजरात के अहमदाबाद में पैदल घर के लिए निकले सैकड़ों मजदूरों को पुलिस ने रोका तो भीड़ आक्रोशित हो गई. मजदूरों ने पुलिस पर पथराव शुरू कर दिया. गाड़ियां तोड़ दीं. इस दौरान दो पुलिसवाले घायल हो गए.

उधर, उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में हजारों की भीड़ श्रमिक स्पेशल ट्रेन के लिए रजिस्ट्रेशन कराने जुटे. इसके साथ ही हरियाणा के सोनीपत में भी दो हजार से ज्यादा मजदूर बस पकड़ने के लिए स्टैंड पर जुट गए. बाद में पुलिस ने किसी तरह हालात पर काबू पाया.

ये भी पढ़ें:- 

महाराष्ट्र के पुणे में भूख-प्यास से तड़पकर 40 वर्षीय प्रवासी मजदूर की मौत

लॉकडाउन: इन बातों का रखेंगे खयाल तो एक से दूसरे राज्य पहुंचने में नहीं आएंगी परेशानियां

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए प्रतापगढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 21, 2020, 11:28 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
corona virus btn
corona virus btn
Loading