मुंबई में बारिश बनी 'आफत', अबतक 27 लोगों की मौत, सड़कों पर उतरी नौसेना

भारी बारिश का कहर मुंबई और आसपास के इलाकों में आफत बनकर बरस रहा है. बारिश के कारण हुए हादसों में अब तक 22 लोगों के मारे जाने की खबर है.

News18Hindi
Updated: July 2, 2019, 5:03 PM IST
News18Hindi
Updated: July 2, 2019, 5:03 PM IST
महाराष्ट्र की राजधानी मुंबई और राज्य के बाकी हिस्सों में हो रही बारिश लोगों के लिए 'आफत' बन गई है. इस बारिश में अब तक 27 लोगों की मौत की खबर है. पिछले कई दिन से हो रही लगातार बारिश के चलते कभी ना थमने वाले मुंबई शहर की रफ्तार पर मानो ब्रेक लग गया है. सड़कों पर पानी भर गया है तो रेलवे स्‍टेशन और रनवे भी इससे खासे प्रभावित हुए हैं. यही नहीं, घर और दुकानों में पानी के घुसने से हालात और बेकाबू हो गए हैं. बारिश के कहर से पूरा शहर परेशान है तो अब नौसैनिक भी मैदान में उतर गए हैं. इसे दशक की सबसे भारी बारिश बताया जा रहा है. जबकि लगातार हो रही बारिश से दीवार गिरने की घटनाएं भी सामने आ रही हैं. ऐसी ही एक घटना में 18 लोगों की मौत हो गई तो 50 लोग घायल बताए जा रहे हैं. यह घटना मलाड ईस्ट के पिंपरीपाड़ा इलाके की है.

राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) के अधिकारियों ने बताया कि देर रात करीब दो बजे हुई पूर्वी मलाड इलाके के पिम्परीपाड़ा स्थित एक परिसर की दीवार ढह गई और पास की झुग्गियों में रहने वाले लोग उसकी चपेट में आ गए.

इस घटना में घायल हुए लोगों को नजदीक के अस्पतालों में भर्ती कराया गया है. मौके पर पहुंची एनडीआरएफ की टीम राहत कार्य में जुट गई है और मलबा हटाया जा रहा है. न्यूज एजेंसी एएनआई के मुताबिक अम्बेगांव में स्थित सिंहगड कॉलेज की दीवार गिरने से कई लोग चपेट में आ गए. यह हादसा रात करीब 1:15 बजे हुआ.

मलाड की घटना को लेकर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने कहा,' मलाड में हुई दुर्घटना में गई जानों को लेकर वह दुखी हैं और सभी परिवारों के साथ हैं. सभी घायल लोगों के जल्दी ठीक होने के लिए प्रार्थना करते हैं. सभी मृतकों के परिवारों को 5 लाख रुपये की सहायता दी जाएगी.'






स्‍कूल और ऑफिस रहेंगे बंद
मौसम विभाग की ओर से मंगलवार को भी भारी बारिश जारी रहने की संभावना जताई गई है और इसे देखते हुए सरकार ने 2 जुलाई को सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल-ऑफिस बंद रखने का फैसला किया है. बृहन्मुंबई म्यूनिसिपल कॉर्पोरेशन (बीएमसी) की ओर से कहा गया है कि आज (2 जुलाई) सभी सरकारी और प्राइवेट स्कूल बंद रहेंगे. इसके साथ ही सभी सरकारी और प्राइवेट ऑफिसों को भी बंद रहेंगे.





कल्‍याण और पुणे में भी हुआ बड़ा हादसा
मलाड के अलावा मुंबई के कल्याण में भी एक दीवार गिरने से तीन लोगों की मौत की खबर सामने आई है. जबकि कुछ दिन पहले पुणे के कोंडवा इलाके में एक इमारत की चहारदीवारी ढहने से 15 लोगों की मौत हो गई थी. मजदूरी कर रहे ये सभी लोग मूल रूप से बिहार के रहने वाले थे. मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मृतकों के आश्रितों को चार-चार लाख रुपए मुआवजा देने की घोषणा की थी.



मौसम देखकर निकलने की सलाह
मुंबई पुलिस ने अपने ट्विटर अकाउंट पर लिखा है, 'मुंबई और आसपास के इलाके में मौसम विभाग के मुताबिक अगले तीन दिनों तक भारी बारिश होने की संभावना जताई गई है. हम मुंबईवासियों से अपने दिन की प्लानिंग करने से पहले मौसम के अपडेट्स चेक करने की सलाह देते हैं. अपना ध्यान रखें और सुरक्षित रहें.'



सड़कों पर उतरी नौसेना
बारिश के कहर से पूरा शहर परेशान है तो अब नौसैनिक भी मैदान में उतर गए हैं. अधिकारी ने बताया कि उपनगरीय कुर्ला में एनडीआरएफ, नौसेना और दमकल विभाग ने एक साझा अभियान में करीब 1,000 लोगों को वहां से सुरक्षित निकाल कर आश्रय स्थल पहुंचाया.

सेंट्रल रेलवे ने उठाया ये कदम
बारिश के कहर को देखते हुए सेंट्रल रेलवे ने भी कुछ छोटी और लंबी दूरी की ट्रेनें रद्द कर दी हैं. रेलवे की ओर से करीब आठ मुख्य ट्रेनों को रद्द किया गया है. इसके अलावा हवाई यातायात भी प्रभावित हुआ है. सेंट्रल रेलवे  के मुख्य प्रवक्ता सुनील उदासी ने कहा कि आरपीएफ जवानों की मदद से मध्य रेलवे ने आधीरात को चलने वाली ट्रेन (लोकल) में फंसे हजारों यात्रियों को निकाला और कई स्टेशनों पर चाय, बिस्कुट और अन्य खाद्य पदार्थ भी बांटे. मध्य रेलवे के अधिकारी ने बताया कि भारी बारिश के कारण मध्य एवं पश्चिमी रेलवे ने लंबी दूरी की 20 से अधिक ट्रेनें या तो रद्द कर दी हैं या फिर उन्हें मुंबई से बाहर स्टेशनों पर ही रोक दिया है. जबकि बिजली कंपनियों ने भी एहतियात के तौर पर मुम्बई के कुछ उपनगरीय इलाकों में आपूर्ति को निलंबित कर दिया है.



बहरहाल, विरार, पालघर और नालासोपारा स्टेशनों पर जलभराव के चलते 16 अप और डाउन मेन लाइन ट्रेन्स को अन्य स्टेशनों पर रोका गया है और वैकल्पिक व्यवस्था पर काम किया जा रहा है. ट्रेन संख्या 12904, 22904, 22928,12962, 12902, 19208, 19218, 22944,12928, 12264, 19424, 12450,19020, 59442, 12298 और 12268 को कई स्टेशनों पर रोका गया है. इनके अलावा आठ ट्रेनें रद्द की गई हैं, जिनमें गाड़ी संख्या 12922, 59024, 12009, 22953, 59038, 59440, 69164 और 69174 शामिल हैं.

मुंबई एयरपोर्ट के रनवे पर फिसली स्पाइस जेट की फ्लाइट

खराब मौसम के चलते मुंबई के ‘छत्रपति शिवाजी अंतरराष्ट्रीय हवाई अड्डे’ पर 54 विमानों के मार्ग बदले गए और 52 उड़ाने रद्द कर दी गई. जबकि मुंबई एयरपोर्ट पर सोमवार रात एक बड़ा हादसा होने से बच गया. दरअसल जयपुर से मुंबई आई स्पाइस जेट की फ्लाइट लैंडिंग के समय रनवे एरिया में फिसल गई. विमान में सवार सभी यात्री सुरक्षित बताए जा रहे हैं. वहीं, बारिश की वजह से मुंबई एयरपोर्ट का मुख्य रनवे बंद कर दिया गया है.





इससे पहले रविवार रात सूरत कस्टम एयरपोर्ट पर एक बड़ा हादसा होने से बच गया. दरअसल भोपाल से सूरत आई स्पाइस जेट की फ्लाइट लैंडिंग के समय रनवे एरिया से फिसलकर रनवे एंड सेफ्टी एरिया (रेसा) में चली गई. हादसा बड़ा हो सकता था लेकिन विमान के पहिए वहां मौजूद कीचड़ में धंस गए, जिसके कारण विमान रुक गया. सभी 47 यात्रियों और क्रू मेंबर को सुरक्षित विमान से उतार लिया गया था.

छात्रा को मिला और वक्‍त
मुंबई विश्वविद्यालय की परीक्षाएं भी स्थगित कर दी गई हैं. साथ ही एमबीबीएस, बीडीएस और बीएएएफएस पाठ्यक्रमों में दाखिले के लिए छात्रों को अब पांच जुलाई तक का वक्त दे दिया गया है.

ये भी पढ़ें-भारी बारिश से बेहाल हुई मायानगरी, लोकल ट्रेन सेवाओं पर असर

अमिताभ बच्चन के घर के बाहर भरा पानी, मुश्किल हो सकते हैं हालात

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 2, 2019, 8:14 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...