ईडी के सामने पेश होंगे राज ठाकरे, MNS ने ठाणे बंद वापस लिया

भाषा
Updated: August 20, 2019, 4:42 PM IST
ईडी के सामने पेश होंगे राज ठाकरे, MNS ने ठाणे बंद वापस लिया
राज ठाकरे (फाइल फोटो)

इन्फ्रास्ट्रक्चर लीजिंग एंड फाइनेंशियल सर्विसेज (Infrastructure Leasing and Financial Services) घोटाले की जांच के सिलसिले में ईडी ने मनसे प्रमुख राज ठाकरे को को समन किया है.

  • Share this:
महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (Maharashtra Navnirman Sena/मनसे) के प्रमुख राज ठाकरे मनी लॉन्ड्रिंग जांच के सिलसिले में प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate/ईडी) के समक्ष पेश होंगे और उन्होंने पार्टी कार्यकर्ताओं से अपील की है कि इस मुद्दे पर विरोध प्रदर्शन नहीं करें. पार्टी के एक प्रवक्ता ने मंगलवार को बताया कि मनसे ने बृहस्पतिवार को प्रस्तावित ठाणे बंद को भी वापस ले लिया है.

क्या है मामला
इन्फ्रास्ट्रक्चर लीजिंग एंड फाइनेंशियल सर्विसेज (आईएलएंडएफएस) घोटाले की जांच के सिलसिले में ईडी ने ठाकरे को बृहस्पतिवार को समन किया है. एजेंसी आईएलएंडएफएस द्वारा कोहिनूर सीटीएनएल इन्फ्रास्ट्रक्चर कंपनी में 450 करोड़ रुपये से अधिक के ऋण एवं इक्विटी निवेश से जुड़ी कथित अनियमितताओं की जांच कर रही है. कोहिनूर सीटीएनएल इन्फ्रास्ट्रक्चर कंपनी मुंबई के दादर इलाके में कोहिनूर स्क्वायर टावर का निर्माण कर रही है.

राज ठाकरे ने पार्टी नेताओं के साथ की बैठक

राज ठाकरे ने इस मुद्दे और आगामी कार्रवाई पर चर्चा करने के लिए मंगलवार को अपने आवास पर पार्टी पदाधिकारियों की बैठक की. बैठक के बाद देशपांडे ने कहा कि राज ठाकरे बृहस्पतिवार को ईडी के समक्ष पेश होंगे. उन्होंने मनसे कार्यकर्ताओं से अपील की कि ऐसा कोई विरोध प्रदर्शन नहीं करें जिससे लोगों को समस्या हो. उन्होंने बताया कि पार्टी ने ठाणे में बंद के आह्वान को भी वापस ले लिया है.

देशपांडे ने कहा कि राज ठाकरे नहीं चाहते कि बंद के कारण लोगों को दिक्कत हो. मनसे प्रवक्ता ने आरोप लगाए कि ईडी केवल विपक्षी दलों के नेताओं को नोटिस जारी कर रहा है. यह राजनीतिक बदला है न कि कोई गंभीर जांच.

ईडी के सामने पेश हुए पूर्व सीएम मनोहर जोशी के बेटे उन्मेश जोशी 
Loading...

इस मामले में महाराष्ट्र के पूर्व मुख्यमंत्री और शिवसेना के वरिष्ठ नेता मनोहर जोशी के बेटे उन्मेश जोशी को भी ईडी ने समन किया है. अधिकारियों ने बताया कि सोमवार को वह ईडी के सामने पेश हुए और प्रिवेंशन ऑफ मनी लॉन्ड्रिंग एक्ट (पीएमएलए) के तहत उनका बयान दर्ज किया गया.

ये भी पढ़ें-

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 20, 2019, 4:38 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...