दूसरी लहर: मुंबई में कोरोना महामारी से कोहराम, दिल्‍ली में टूटे सभी रिकॉर्ड

दिल्ली और मुंबई में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है.

दिल्ली और मुंबई में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या लगातार बढ़ती ही जा रही है.

Coronavirus Epidemic: दिल्‍ली में गुरुवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 7,437 नए मामले सामने आए जो कि इस साल एक दिन की सर्वाधिक संख्या है. इस दौरान महामारी से 24 संक्रमितों की मौत भी हो गई.

  • Share this:
नई दिल्‍ली. कोरोना वायरस महामारी (Coronavirus Epidemic) की रफ्तार ने फिर लोगों की चिंता बढ़ा दी है. हर दिन डराने वाले आंकड़े सामने आ रहे हैं. महाराष्‍ट्र और दिल्‍ली (Maharashtra & Delhi) की स्थिति भयावह है. देश की आर्थिक राजधानी मुंबई के भी हाल बदतर हैं. मुंबई में गुरुवार को भी कोविड-19 के 8,938 नए केस सामने आए. जबकि इस दौरान 23 मरीजों की मौत भी हो गई. हालांकि 4,503 मरीज स्‍वस्‍थ होकर घर भी लौटे. वहीं, दिल्‍ली में फिर कोरोना केस का रिकॉर्ड टूटा है.

दिल्‍ली में गुरुवार को कोरोना वायरस संक्रमण के 7,437 नए मामले सामने आए जो कि इस साल एक दिन की सर्वाधिक संख्या है. इस दौरान महामारी से 24 संक्रमितों की मौत भी हो गई. इसके साथ ही राजधानी में 23,181 सक्रिय मामले हैं. जबकि अभी तक 6,98,005 लोग संक्रमित हो चुके हैं.

UP में कोरोना ने तोड़े सभी रिकॉर्ड
बता दें कि उत्‍तर प्रदेश में भी कोरोना संक्रमण बहुत तेजी से बढ़ रहा है. महामारी ने इस साल के सारे रिकॉर्ड तोड़ दिए हैं. राज्‍य में पिछले 24 घंटे में 8490 मामले सामने आए हैं. अपर मुख्य सचिव स्वास्थ्य अमित मोहन प्रसाद ने बताया कि इनमें से 50 फ़ीसदी मामले लखनऊ, प्रयागराज, वाराणसी और कानपुर से हैं. प्रदेश में अभी भी एक्टिव केस 39338 हैं.
कोरोना की दूसरी लहर ने शैक्षणिक संस्थानों को भी चपेट में लिया


कोरोना वायरस संक्रमण की दूसरी लहर उत्तराखंड के अग्रणी शैक्षणिक संस्थानों में तेजी से फैलती जा रही है और केंद्रीय अकादमी राज्य वन सेवा, दून स्कूल तथा भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रूड़की में पिछले तीन दिनों में कोविड-19 के 56 नये मामले सामने आ चुके हैं. कोविड नियंत्रण कक्ष के अधिकारियों ने गुरुवार को यहां बताया कि बुधवार को भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रूड़की में 29, वन अकादमी में 14 तथा दून स्कूल में कोविड का एक मामला सामने आया है. उन्होंने बताया कि दून स्कूल में एक दिन पहले मंगलवार को सात छात्रों सहित कुल 12 लोगों में महामारी की पुष्टि हुई थी.

ये भी पढ़ें: वैक्सीन पर आरोप-प्रत्यारोप: केंद्र ने कहा-महाराष्ट्र ने 5 लाख डोज बर्बाद किए

ये भी पढ़ें: VIDEO: गोविंदा ने दी कोरोना को मात, वीडियो शेयर कर बोलें- 'अपुन आ गयेला है'

उन्होंने बताया कि उनत्तीस नए मामलों के साथ ही भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान रूड़की में कोरोना वायरस संक्रमित मरीजों की संख्या बढकर 89 हो गई है. नियंत्रण कक्ष अधिकारियों ने बताया कि परिसर की तीन इमारतों-काटले भवन, सरोजिनी भवन और कस्तूरबा छात्रावास को निषिद्ध क्षेत्र घोषित कर दिया गया है.

उन्होंने बताया कि दून स्कूल में कोविड पीडि़त छात्रों और शिक्षकों को स्कूल परिसर में ही बने वेलनेस सेंटर में रखा गया है. दून स्कूल की विकास एवं एल्युमिनाई रिलेशन अधिकारी कृतिका जुगरान ने बताया कि स्कूल प्रशासन हाई अलर्ट पर है और हरेक से कोविड प्रोटोकॉल का सख्ती से अनुपालन कराया जा रहा है. उन्होंने बताया कि संक्रमित छात्रों और शिक्षकों के संपर्क में आने वाले हर व्यक्ति की आरटी-पीसीआर जांच कराई जा रही है. दून स्कूल में अब तक 1500 से ज्यादा आरटी-पीसीआर जांच हो चुकी हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज