मुंबई में एक दिन में सामने आए 5000 से ज्यादा नए केस, सार्वजनिक उत्सवों पर लगा प्रतिबंध

मुंबई कोविड से प्रभावित शीर्ष 10 जिलों में है (File pic)

मुंबई कोविड से प्रभावित शीर्ष 10 जिलों में है (File pic)

Mumbai Coronavirus Cases: महाराष्ट्र में 14 फरवरी से 23 मार्च के बीच कोरोना वायरस के मामलों में इससे पहले के चार महीनों की तुलना में तिगुनी दर से बढ़ोतरी हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 26, 2021, 12:03 AM IST
  • Share this:
मुंबई. देश की आर्थिक राजधानी मुंबई में कोरोना वायरस (Mumbai Coronavirus Case) के अब तक के सबसे अधिक केस सामने आए हैं. मुंबई में गुरूवार 5,185 केस सामने आए. महामारी की शुरुआत होने के बाद से यह पहली बार है कि वायरस से बुरी तरह प्रभावित शीर्ष 10 जिलों में शामिल मुंबई में 5000 से ज्यादा केस आए हैं. मुंबई में कुल मामलों की संख्या बढ़कर 3 लाख 74 हजार 641 हो गई है. बीएमसी द्वारा लगाए गए तमाम प्रतिबंधों के बाद भी मुंबई में कोरोना मामाले तेजी से बढ़ रहे हैं. ऐसे ही बीएमसी ने लोगों से अतिरिक्त सावधानी बरतने और सभी नियमों का पालन करने का आग्रह किया है.

संक्रमण को रोकने के लिए बीएमसी ने सार्वजनिक जगहों पर होने वाले होली उत्सवों पर प्रतिबंध लगा दिया है. इसके साथ ही मॉल जाने वाले लोगों के लिए आरटीपीसीआर टेस्ट अनिवार्य तक दिया है. मुंबई का अंधेरी फिलाहल कोविड हॉटस्पॉट बना हुआ है. प्रशासन ने जुहू बीच को पूरी तरह से रोकने की योजना बनाई हुई है. महाराष्ट्र में बुधवार को एक दिन में कोरोना वायरस संक्रमण के अब तक सबसे अधिक 31,855 नए मामले सामने आए. उन्होंने कहा कि राज्य में संक्रमितों की संख्या अब बढ़कर 25,64,881 हो गई है। इससे पहले राज्य में 21 मार्च को संक्रमण के सबसे अधिक 30,535 मामले सामने आए थे.

Youtube Video




21 मार्च को सामने आए थे सबसे ज्यादा केस
अधिकारी ने कहा कि 93 और रोगियों की मौत के बाद मृतकों की कुल संख्या 53,684 हो गई है. दिनभर में 15,098 लोगों के संक्रमण मुक्त होने के बाद ठीक हो चुके लोगों की कुल संख्या 22,62,593 हो गई है. राज्य में उपचाराधीन रोगियों की संख्या 2,47,299 है. महाराष्ट्र में इससे पहले 21 मार्च को अब तक के सबसे अधिक 30,535 केस सामने आए थे. नए मामलों का ये रिकॉर्ड बुधवार को टूट गया. राज्य में 95 लोगों की मौत के बाद कोविड से जान गंवाने वालों की संख्या 53,684 हो गई है.

मुंबई के दो पड़ोसी शहरों नवी मुंबई और कल्याण-डोंबिवली- में क्रमशः 566 और 929 नए मामले सामने आए. पुणे शहर और इसके पड़ोसी औद्योगिक शहर पिंपरी चिंचवाड़ में क्रमशः 3,566 और 1,828 नए मामले सामने आए. औरंगाबाद शहर में बुधवार को 899 मामले दर्ज हुए. विदर्भ क्षेत्र के नागपुर शहर में 2,965 नए मामले पाए गए.

महाराष्ट्र में तीन गुना बढ़े केस
बता दें महाराष्ट्र में 14 फरवरी से 23 मार्च के बीच कोरोना वायरस के मामलों में इससे पहले के चार महीनों की तुलना में तिगुनी दर से बढ़ोतरी हुई है. अक्टूबर से मामलों में गिरावट आने के बाद 14 फरवरी से इनमें उल्लेखनीय बढ़ोतरी हुई है. महाराष्ट्र में 20 मार्च को संक्रमण के 30,000 से अधिक नए मामले दर्ज किए गए, जो महामारी की शुरुआत के बाद से सर्वाधिक संख्या है.

राज्य में 14 फरवरी से 23 मार्च के बीच 37 दिन की अवधि में राज्य में संक्रमण के 4,68,748 मामले सामने आए और अब तक संक्रमित हुए लोगों की कुल संख्या बढ़कर 25,33,026 हो गई. औसतन रोजाना 12,668 मामले सामने आए.

इससे पहले के महीनों में 4.68 लाख नए मामले सामने आने में 119 दिन लगे थे. राज्य में 18 अक्टूबर, 2020 से 13 फरवरी, 2021 के बीच 4,68,897 नए मामले सामने आए थे, यानी औसतन रोजाना 3,940 नए मामले सामने आए.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज