लाइव टीवी

महाराष्ट्र राजभवन में लगाई गई RTI, मांगा गया लोगों और वाहनों के आने का रिकॉर्ड

News18Hindi
Updated: November 23, 2019, 11:30 PM IST
महाराष्ट्र राजभवन में लगाई गई RTI, मांगा गया लोगों और वाहनों के आने का रिकॉर्ड
महाराष्ट्र का राजभवन. (फाइल फोटो)

महाराष्ट्र (Maharashtra) राजभवन ((Raj Bhavan)) में लगाई गई इस आरटीआई (RTI) में शुक्रवार दोपहर 3:00 बजे से शनिवार सुबह 8:00 बजे तक के रिकॉर्ड मांगे गए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 23, 2019, 11:30 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) के राजभवन (Raj Bhavan) में शुक्रवार को सूचना के अधिकार (RTI) के तहत एक आवेदन दाखिल किया गया है. इस आरटीआई में महाराष्ट्र राजभवन में शुक्रवार दोपहर 3:00 बजे से शनिवार सुबह 8:00 बजे तक के रिकॉर्ड मांगे गए हैं. आरटीआई में इस दौरान राजभवन आने वाले लोगों, वाहनों की जानकारी मांगी गई है. इससे पहले देवेंद्र फडणवीस के महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री और अजित पवार के उप मुख्यमंत्री पद की शनिवार सुबह शपथ लेने के बाद दिनभर राजनीतिक घटनाक्रम तेजी से बदले.

आरटीआई आवेदन का स्क्रीनशॉट.


बस थोड़ा संयम रखें, हम ही सरकार बनाएंगे: उद्धव ठाकरे
महाराष्ट्र में तेजी से बदलती घटनाओं के क्रम में शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे ने शनिवार को अपने सभी निर्वाचित विधायकों से मुंबई स्थित ललित होटल में बातचीत की. उद्धव ने शिवसेना विधायकों को महाराष्ट्र में हो रहे सियासी घटनाक्रम की विस्तारपूर्वक जानकारी दी. उन्होंने शरद पवार और कांग्रेस नेताओं के साथ हुई बातचीत के बारे में भी उन्हें बताया. ठाकरे ने विधायकों से एकजुट रहने और आगे की रणनीति तक उनसे मुंबई में रहने को कहा है. उन्होंने विधायकों से कहा कि, 'परेशान होने की कोई जरूरत नहीं है, कोई हिम्मत न हारे, बस थोड़ा संयम रखें, हम ही सरकार बनाएंगे'.

उद्धव बोले, यह महाराष्ट्र पर फर्जिकल स्ट्राइक है
उद्धव ठाकरे भाजपा पर जमकर बरसे. उन्होंने कहा कि, ‘मैंने सुना है कि आज तड़के केंद्रीय कैबिनेट की बैठक हुई. पाकिस्तान के खिलाफ जिस तरह से ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ की गई, उसी तरह से यह महाराष्ट्र पर ‘फर्जिकल स्ट्राइक’ है... यह जनादेश और संविधान का स्पष्ट रूप से अनादर है. यह महाराष्ट्र के लोगों पर ‘सर्जिकल स्ट्राइक’ है और वे इसका जवाब देंगे.’

पार्टी विधायकों का दल-बदल कराने की सारी कोशिशें नाकाम कर देंगे कार्यकर्ता: उद्धव ठाकरे
Loading...

उद्धव ठाकरे ने शिवसैनिक के तेवर में कहा, ‘हर कोई जानता है कि जब छत्रपति शिवाजी महाराज के साथ विश्वासघात किया गया था और उन पर पीछे से हमला किया गया था तब उन्होंने क्या किया था. शिवसेना के कार्यकर्ता पार्टी विधायकों का दल-बदल कराने की सारी कोशिशें नाकाम कर देंगे.’ भाजपा की खिंचाई करते हुए ठाकरे ने कहा, ‘वह पार्टी सहयोगी दल, विपक्षी और अंदरूनी प्रतिद्वंद्वी नहीं चाहती है. शिवसेना इस प्रवृत्ति के खिलाफ लड़ रही है. हम चाहते हैं कि सब कुछ कानून और संविधान के मुताबिक हो. हम (शिवसेना-राकांपा-कांग्रेस) साथ मिल कर सरकार बनाएंगे.’

ये भी पढे़ं - 

अजित पवार के शपथ में शामिल होने वाले 7 विधायक राकांपा में वापस लौटे

अजित पवार का कदम अनुशासनहीनता, शिवसेना-NCP-कांग्रेस बनाएगी सरकार: शरद पवार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 23, 2019, 10:48 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...