लाइव टीवी

Maharashtra Election Results 2019: सतारा लोकसभा सीट से BJP उम्मीदवार उदयनराजे भोंसले के पीछे रहने का क्या मतलब?

News18Hindi
Updated: October 24, 2019, 1:19 PM IST

सतारा महाराष्ट्र

सीट संख्या: 45 | क्षेत्र: West Maharashtra
लाइवस्थिति
पार्टी प्रत्याशी का नाम
NCP Shrimant Chh. Udayanraje Pratapsinhmaharaj Bhonsle
जीते
Maharashtra Election Results 2019: सतारा लोकसभा सीट से BJP उम्मीदवार उदयनराजे भोंसले के पीछे रहने का क्या मतलब?
महाराष्ट्र् के सतारा लोकसभा सीट से बीजेपी के उदयन राजे भोंषले एनसीपी उम्मीदवार से पिछड़ते गए हैं(उदयन सफेद कुर्ता में)

महाराष्ट्र (Maharashtra) की राजनीति में मराठा समुदाय में गहरी पकड़ रखने वाले उदयनराजे प्रताप सिंह भोंसले (Udyanraje Pratap singh Bhonsle) छत्रपति शिवाजी की पारंपरिक उपाधि रखते हैं. शिवाजी महाराज (shivaji maharaj) के 13वें वंशज उदयनराजे भोंसले सतारा से एनसीपी (ncp) के 3 बार के सांसद हैं और हाल ही में एनसीपी का साथ छोड़कर बीजेपी (bjp) का हाथ थामा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 24, 2019, 1:19 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. महाराष्ट्र (Maharashtra) में एक तरफ जहां विधानसभा चुनाव (Maharashtra Assembly Election 2019)  में बीजेपी  (BJP) और शिवसेना (Shiv Sena) गठबंधन वापसी करती दिखाई दे रही है. लेकिन राज्य की सतारा सीट पर चौकाने वाले नतीजे आते दिख रहे हैं. यहां से बीजेपी (BJP) के उदयन राजे भोंषले (Udyanraje Pratap singh Bhonsle) ) लगातार पिछड़ते चले जा रहे हैं. इस सीट पर एनसीपी के श्रीनिवास पाटिल (Shri Niwas Patil) बीजेपी उम्मीदवार से लगातार बढ़त बनाए हुए हैं. उदयनराजे खुद महाराष्ट्र के एक चर्चित नेता है. उनका इस तरह से पिछड़ने से एक अहम राजनीतिक संकेत ये भी मिल रहा है कि राज्य के इस हिस्से में शरद पवार की पकड़ बहुत मजबूत है.

सतारा लोकसभा सीट के उपचुनाव में बीजेपी प्रत्याशी पिछ़ड़े

सतारा विधानसभा इलेक्शन रिजल्ट

लाइव
पार्टी मतदान हुआ वोट प्रतिशत प्रत्याशी का नाम
NCP 579026 51.91% Shrimant Chh. Udayanraje Pratapsinhmaharaj Bhonsleविजेता
SHS 452498 40.57% Narendra Annasaheb Patil
VBA 40673 3.65% Sahadeo Kerappa Aiwale
NOTA 9227 0.83% Nota
IND 8593 0.77% Sagar Sharad Bhise
BSP 6963 0.62% Ananda Ramesh Thorawade
IND 5846 0.52% Shailendra Ramakant Veer
IND 5141 0.46% Punjabrao Mahadev Patil (Talgaonkar)
BRSP 5055 0.45% Dilip Shrirang Jagtap
IND 2412 0.22% Abhijit Wamanrao Bichukale



महाराष्ट्र की राजनीति में मराठा समुदाय में गहरी पकड़ रखने वाले उदयनराजे प्रताप सिंह भोंसले छत्रपति शिवाजी से जुड़े हैं. शिवाजी महाराज के 13वें वंशज उदयनराजे भोंसले सतारा से एनसीपी के 3 बार के सांसद हैं और हाल ही में एनसीपी का साथ छोड़कर बीजेपी का हाथ थामा है. हालांकि 28 साल के सियासी करियर में उदयनराजे कई पार्टियों में शामिल हुए. पहले बीजेपी फिर कांग्रेस और फिर एनसीपी यानी राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी में रहे. लेकिन पीएम मोदी के विचारों से प्रभावित हो कर उन्होंने एनसीपी छोड़ दी और फिर से बीजेपी में शामिल हो गए.

Shivaji Maharashtra News
महाराष्ट्र की राजनीति में मराठा समुदाय में गहरी पकड़ रखने वाले उदयनराजे प्रताप सिंह भोंसले छत्रपति शिवाजी से जुड़े हैं.(फाइल फोटो)


उदयनराजे ने भोंसले ने अपने राजनीतिक करियर की शुरुआत नगरसेवक के रूप में की. साल 1991 में वो नगर पालिका चुनाव में खड़े हुए. वार्ड का चुनाव जीतने के बाद वो पांच साल नगर सेवक रहे. उन्होंने पहला संसदीय चुनाव बतौर निर्दलीय उम्मीदवार लड़ा. साल 1996 में उन्होंने कांग्रेस के कद्दावर नेता प्रतापराव भोंसले के खिलाफ चुनाव लड़ा. हालांकि, उदयन राजे भोंसले चुनाव नहीं जीत सके लेकिन वो 1 लाख 13 हज़ार 685 वोटों के साथ तीसरे स्थान पर रहे. एक निर्दलीय नेता को इतने सारे वोट मिलने पर सब हैरान भी थे. बीजेपी नेता स्वर्गीय गोपीनाथ मुंडे ने उदयनराजे भोंसले की मराठा वोटरों पर पकड़ को भांपते हुए उन्हें बीजेपी में शामिल करा दिया. साल 1998 में उदयनराजे भोंसले सतारा विधानसभा सीट से चुनाव जीते और शिवसेना-बीजेपी की सरकार में राजस्व मंत्री बने.

बीजेपी प्रत्याशी शिवाजी महाराज के वंशज

साल 1999 में विरोधी उम्मीदवार अभय सिंह राजे के एक समर्थक शरद लेहवे की हत्या के आरोप में वो 22 महीने तक जेल में रहे . आरोप से बरी होने के बाद जेल से रिहा हो गए लेकिन उसके बाद चुनाव हार गए. साल 2008 में उदयनराजे कांग्रेस में शामिल हो गए. साल 2009 में जब कांग्रेस ने सतारा की सीट एनसीपी के लिए छोड़ दी तो उदयनराजे एनसीपी में शामिल हो गए और उन्होंने सतारा से चुनाव लड़ा. सतारा से उदयनराजे ने हैटट्रिक लगाते हुए एनसीपी के टिकट पर लगातार 2009, 2014 और 2019 का लोकसभा चुनाव लड़ा और जीता. उदयनराजे एक बार निर्दलीय और तीन बार एनसीपी के सांसद रह चुके हैं.
Loading...

शरद पवार अपनी सभाओं में पुरानी गलती को दोहराने की बात करते
शरद पवार अपनी सभाओं में पुरानी गलती को दोहराने की बात करते


बता दें कि चुनाव प्रचार के आखिरी दिन 78 साल के एनसीपी प्रमुख ने शरद पवार ने 18 अक्‍टूबर की शाम को भारी बारिश के बीच सतारा में रैली को संबोधित किया था. बारिश में पूरी तरह भीगे पवार ने अपने संक्षिप्त भाषण के दौरान कहा कि उन्होंने इस साल की शुरुआत में हुए लोकसभा चुनाव में उम्मीवारों के चयन में एक गलती की, लेकिन अब लोग उस गलती को सुधारने का इंतजार कर रहे हैं. पवार ने सभा में कहा था, 'इंद्रदेव ने 21 अक्टूबर को होने वाले चुनाव के लिए राकांपा को आशीर्वाद दिया है और इंद्र देव के आशीर्वाद से, सतारा जिला महाराष्ट्र में एक चमत्कार करेगा. वह चमत्कार 21 अक्टूबर से शुरू होगा.' एनसीपी छोड़ने के बाद जिस तरह से उदयराजे पिछड़े हैं उससे ये भी संकेत मिल रहे हैं कि इलाके में शरद पवार की मजबूत पकड़ बरकरार है.

यह भी पढ़ें-
प्रत्यर्पण कानून रद्द, ​हांगकांग के नौजवानों से क्यों हार गया चीन?
अमेरिका में लग्जरी गुफाओं में रहता है अजीब कम्यून, हर शख्स की कई बीवियां

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 24, 2019, 12:54 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...