अजित पवार पर सुप्रिया सुले बोलीं- कभी नहीं मिला ऐसा धोखा, टूट गई पार्टी और परिवार

सुप्रिया सुले में कहा कि अजित हमारे बड़े भाई हैं और हमेशा रहेंगे (फाइल फोटो)
सुप्रिया सुले में कहा कि अजित हमारे बड़े भाई हैं और हमेशा रहेंगे (फाइल फोटो)

महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी ने (BJP) एनसीपी (NCP) के साथ मिलकर नई सरकार का गठन कर लिया. बीजेपी के देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने शनिवार सुबह महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के तौर पर एक बार फिर से शपथ ले ली.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 23, 2019, 12:20 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में नई सरकार के गठन के बाद राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी के सुप्रीमो शरद पवार (Sharad Pawar) की बेटी सुप्रिया सुले (Supriya Sule) ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि पार्टी और परिवार में टूट हो गई है. सुप्रिया सुले ने वॉट्सऐप स्टेटस पर यह जानकारी दी है.

वहीं एक अन्य वॉट्सऐप स्टेटस में उन्होंने लिखा, 'जिंदगी में किसका विश्वास करें... जीवन में कभी इस तरह छला हुआ महसूस नहीं किया. उनका बचाव किया, प्यार किया... देखों बदले में मुझे क्या मिला.'

Supriya Sule
अजित पवार की चचेरी बहन और शरद पवार की बेटी सुप्रिया का वॉट्सपऐप स्टेटस




गौरतलब है कि तमाम अटकलों और कयासों के बीच महाराष्ट्र में भारतीय जनता पार्टी ने (BJP) एनसीपी के साथ मिलकर नई सरकार का गठन कर लिया है. बीजेपी के देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) ने शनिवार सुबह महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री के तौर पर एक बार फिर से शपथ ले ली. राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने उन्हें शपथ दिलाई. साथ ही एनसीपी के अजित पवार ने डिप्टी सीएम पद की शपथ ली.



महाराष्ट्र को स्थिर सरकार चाहिए, खिचड़ी नहीं
शपथ लेने के बाद मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीसने कहा कि हमें सरकार बनाने का जनादेश मिला था लेकिन शिवसेना ने दूसरी पार्टियों के साथ गठबंधन का प्रयास किया. जिसका परिणाम यह निकला कि सूबे में राष्ट्रपति शासन लागू हो गया. महाराष्ट्र की जनता को स्थिर सरकार चाहिए न कि कोई खिचड़ी. शिवसेना से जनादेश का सीधे तौर पर अपमान किया है. इस दौरान उन्होंने अजित पवार का अभार जताया, कहा- मैं अभारी हूं कि वे मेरे साथ आए. अब हम महाराष्ट्र में एक स्थिर सरकार देंगे.

किसानों के लिए सरकार में आए
वहीं शपथ लेने के बाद अजीत पवार ने कहा ‌कि हम लोगों की समस्या के लिए साथ आए हैं. हम किसानों की समस्या को खत्म करना चाहते हैं. उनकी भलाई के लिए ही सरकार में आए हैं. उन्होंने कहा कि लोगों ने जिसे सरकार बनाने के लिए चुना था उन्हीं को सरकार बनानी भी चाहिए.

ये भी पढ़ें-  

कांग्रेस नेता शत्रुघ्न सिन्हा ने महाराष्ट्र में स्थिर सरकार की जताई उम्मीद

महाराष्ट्र महापौर चुनाव: शिवसेना-कांग्रेस-NCP ने किया BJP से बेहतर प्रदर्शन
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज