लाइव टीवी
Elec-widget

महाराष्ट्र में सरकार बनाने के मुद्दे पर सोनिया गांधी से मिलेंगे शरद पवार: सूत्र

News18Hindi
Updated: November 14, 2019, 7:04 PM IST
महाराष्ट्र में सरकार बनाने के मुद्दे पर सोनिया गांधी से मिलेंगे शरद पवार: सूत्र
कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी प्रमुख शरद पवार 17 नवंबर को दिल्ली में मुलाकात कर सकते हैं.

कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) 17 नवंबर को दिल्ली में मुलाकात कर सकते हैं और महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर शिवसेना से गठबंधन के मुद्दे पर चर्चा हो सकती है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 14, 2019, 7:04 PM IST
  • Share this:
मुंबई.  कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) 17 नवंबर को दिल्ली में मुलाकात कर सकते हैं और महाराष्ट्र में सरकार बनाने को लेकर शिवसेना से गठबंधन के मुद्दे पर चर्चा हो सकती है. सूत्रों ने गुरुवार को यह जानकारी दी. सूत्रों ने बताया कि कांग्रेस और राकांपा शिवसेना के साथ न्यूनतम साझा कार्यक्रम (CMP) बनाने पर काम करेंगे जिसपर सोनिया गांधी और शरद पवार की बैठक के दौरान चर्चा होगी. बहरहाल, यह स्पष्ट नहीं है कि न्यूनतम साझा कार्यक्रम को अंतिम रूप देने के लिए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे दोनों नेताओं से मिलेंगे या नहीं.

कांग्रेस और राकांपा की 10 सदस्यीय समन्वय समिति की बैठक
उन्होंने बताया कि कांग्रेस और राकांपा की 10 सदस्यीय समन्वय समिति की बैठक बुधवार को सीएमपी पर प्राथमिक चर्चा के लिए हुई. सूत्रों ने बताया कि समन्वय समिति में लिए गए फैसले के तहत महाराष्ट्र कांग्रेस प्रमुख बालासाहेब थोराट और राकांपा प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल ने गुरुवार सुबह ठाकरे से मुलाकात की.

न्यूनतम साझा कार्यक्रम

उन्होंने बताया, ‘उन्होंने (थोराट और पाटिल) ने ठाकरे के साथ प्राथमिक चर्चा की. अब तीनों पार्टियों के राज्य नेता गुरुवार को दोबारा मिलेंगे और न्यूनतम साझा कार्यक्रम बनाएंगे जिसे मंजूरी के लिए तीनों पार्टियों के शीर्ष नेताओं को भेजा जाएगा.’

शिवसेना की मांग पर सहमति नहीं...
बता दें कि भाजपा और शिवसेना ने 21 अक्टूबर को हुए विधानसभा चुनाव में साथ लड़ा था और क्रमश: 105 और 56 सीटों पर जीत दर्ज की थी जो 288 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत से अधिक है. ढाई साल के लिए मुख्यमंत्री पद की शिवसेना की मांग पर सहमति नहीं बनी और भाजपा ने सरकार बनाने से इनकार कर दिया. दूसरी और तीसरी सबसे बड़ी पार्टी शिवसेना और राकांपा ने भी बाद में कहा कि वह सरकार बनाने का तत्काल दावा नहीं करेगी. इसके बाद मंगलवार को राष्ट्रपति शासन लागू कर दिया गया.
Loading...

(रिपोर्ट- एजेंसी इनपुट के साथ रंजीता झा की खबर)

ये भी पढ़ें:

संजय राउत का पलटवार, कहा- जो बातें बंद कमरे में तय हुई वो अमित शाह ने PM को नहीं बताई

महाराष्ट्र का महासंकट: अस्पताल से डिस्चार्ज होते ही सक्रिय हुए संजय राउत, कहा- अब डरना मना है

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 14, 2019, 6:16 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...