लाइव टीवी

शिवसेना का BJP सरकार पर हमला, पूछा- धार्मिक ध्रुवीकरण वाला हमेशा का हथियार तो नहीं?
Mumbai News in Hindi

News18Hindi
Updated: December 5, 2018, 9:52 AM IST
शिवसेना का BJP सरकार पर हमला, पूछा- धार्मिक ध्रुवीकरण वाला हमेशा का हथियार तो नहीं?
उद्धव ठाकरे (File Photo)

सामना ने लिखा है, "प्रधानमंत्री ने ख़ुद कहा था कि 80 फीसदी गोरक्षक गोरखधंधा करते हैं इन पर कार्रवाई हो ,लेकिन गोरक्षकों का उन्माद कम नहीं हुआ."

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 5, 2018, 9:52 AM IST
  • Share this:
उत्तर प्रदेश के बुलंदशहर में हुई हिंसा घटना के बहाने शिवसेना ने भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) की सरकार पर हमला बोला है. सामना के संपादकीय में पूछा गया है कि धार्मिक ध्रुवीकरण वाला हमेशा का हथियार तो नहीं? क्योंकि सवाल 80 सीटों का है.

बुलंदशहर में एक धार्मिक आयोजन के आखिरी दिन गौ हत्या की अफवाह फैली, और हिंसाचार हुआ. क्या इस हिंसाचार के बहाने किसी ने सुबोध कुमार सिंह की हत्या की साज़िश रची थी. सामना ने लिखा है, "2015 में उत्तर प्रदेश के दादरी में हुई अखलाख हत्या की तफ्तीश सुबोध कुमार सिंह ने ही की थी. गो मांस रखने के संदेह के चलते उस समय भीड़ ने अखलाख की निर्मम हत्या कर दी थी. उस मामले के आरोपी को गिरफ्तार करने के लिए सुबोध कुमार ने सख्त भूमिका अपनाई थी, ऐसा अब कहा जा रहा है."

सामना ने लिखा है, "प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने ख़ुद कहा था कि 80 फीसदी गोरक्षक गोरखधंधा करते हैं इन पर कार्रवाई हो ,लेकिन गोरक्षकों का उन्माद कम नहीं हुआ."

2019 में होने वाले लोकसभा चुनाव को लेकर भी सामना ने बीजेपी पर निशाना साधा है. सामना ने अपने संपादकीय में लिखा है, "अब 2019 के लोकसभा चुनाव के नगाड़े बजने लगे हैं. यह चुनाव हमारे लिए आसान नहीं, ये बात सत्ताधारी भाजपावालों की समझ में आ गया है. इसी के लिए हमेशा वाला धार्मिक ध्रुवीकरण का हथियार इस्तेमाल तो नहीं किया जा रहा."



सामना ने आगे लिखा है कि दिल्ली में सत्ता की चाभी 80 सीटों वाले उत्तरप्रदेश से होकर जाती है, लेकिन 2014 के 71 सीटों वाले रिकॉर्ड को दुहराना मुश्किल है. ऊपर से सारे विरोधी एक हो गए हैं. इसलिए गो हत्या का संशय पिशाच लोगों की गर्दन पर बैठाकर धार्मिक उन्माद और वोटों के ध्रुवीकरण का रक्त रंजित पैटर्न फिर से चलाने की कोशिश शुरू है क्या? आखिर सवाल उत्तर प्रदेश की 80 सीटों का है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 5, 2018, 9:52 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर