लाइव टीवी

बाल ठाकरे की श्रद्धांजलि सभा में BJP-शिवसेना ने एक दूसरे से कन्नी काटी, फडणवीस के पहुंचने से पहले निकल गए उद्धव

News18Hindi
Updated: November 17, 2019, 11:44 PM IST
बाल ठाकरे की श्रद्धांजलि सभा में BJP-शिवसेना ने एक दूसरे से कन्नी काटी, फडणवीस के पहुंचने से पहले निकल गए उद्धव
शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने दिवंगत पार्टी संस्थापक बाल ठाकरे को श्रद्धांजलि दी. (File Photo)

राकांपा (NCP) अध्यक्ष शरद पवार (Sharad Pawar) ने ट्वीट के माध्यम से बाल ठाकरे (Bal Thackeray) को श्रद्धांजलि देते हुए कहा, ‘दिवंगत बालासाहेब ने एक मराठी मानुस को तैयार किया, जिसे उसकी क्षेत्रीय पहचान पर गर्व होता था.’

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 17, 2019, 11:44 PM IST
  • Share this:
मुंबई. शिवसेना और भाजपा (Shiv Sena and BJP) नेताओं ने दिवंगत शिवसेना संस्थापक बाल ठाकरे (Bal Thackeray) को रविवार को मुंबई के शिवाजी पार्क (Shivaji Park) में उनकी सातवीं पुण्यतिथि के अवसर पर श्रद्धांजलि दी. हालांकि दोनों दलों के नेता एक दूसरे के सामने आने से बचते दिखे. शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) और उनके बेटे आदित्य ठाकरे (Aditya Thackeray) समेत उनके परिवार के सदस्यों ने पार्टी के अन्य नेताओं के साथ शिवाजी पार्क में जाकर बाल ठाकरे के स्मारक के समक्ष श्रद्धांजलि दी. हालांकि उद्धव ठाकरे देवेंद्र फडणवीस के पहुंचने से पहले ही निकल गए थे.

कांग्रेस और राकांपा के साथ सरकार बनाने की कोशिश कर रही है शिवसेना
शिवसेना के नेता सुबह 10 से 12 बजे के बीच स्मारक पहुंचे, वहीं भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस, विनोद तावड़े और पंकजा मुंडे एक बजे वहां पहुंचे और बालासाहेब ठाकरे को श्रद्धांजलि दी. तब तक उद्धव ठाकरे और शिवसेना नेता वहां से जा चुके थे. वहां केवल उद्धव के सहयोगी मिलिंद नारवेकर उपस्थित थे. पिछले महीने महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव के परिणाम में बहुमत पाने के बाद भी शिवसेना और भाजपा का गठबंधन टूट गया. भाजपा ने मुख्यमंत्री पद साझा करने की शिवसेना की मांग को नहीं माना. अब शिवसेना राज्य में सरकार बनाने के लिए कांग्रेस तथा राकांपा के साथ बातचीत कर रही है. फिलहाल प्रदेश में राष्ट्रपति शासन लगा है.

शिवसेना-भाजपा गठबंधन के लिए परिवार के मुखिया की तरह थे बालासाहेब: विनोद तावड़े

पिछले सप्ताह मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने वाले फड़णवीस ने बाल ठाकरे के चुनिंदा भाषणों का वीडियो भी ट्वीट किया और उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की. ठाकरे के चुने गए ये भाषण ‘सम्मान और गौरव’ से संबंधित हैं. फड़णवीस सरकार में मंत्री रहे विनोद तावड़े ने कहा, ‘दिवंगत बालासाहेब शिवसेना और भाजपा गठबंधन के लिए परिवार के मुखिया की तरह थे.’

हमें बालासाहेब ठाकरे की कमी खलती है: पंकजा मुंडे
भाजपा सरकार में मंत्री रहीं पंकजा मुंडे ने कहा, ‘हमें बालासाहेब ठाकरे की कमी खलती है.’ उन्होंने कहा, ‘समाज को पहले रखने की उनकी राजनीति, उनके भाषणों और उनके स्पष्ट रुख के कारण उनके समर्थकों से उन्हें बिना शर्त और अपार स्नेह मिलता था.’कुछ कांग्रेस नेताओं ने बाल ठाकरे को ट्वीट करके दी श्रद्धांजलि
निजी तौर पर बालासाहेब से अच्छे संबंध रखने वाले लेकिन उनके राजनीतिक प्रतिद्वंद्वी रहे शरद पवार को इस समय कांग्रेस तथा राकांपा के साथ शिवसेना के गठबंधन का रचनाकार माना जा रहा है. प्रदेश राकांपा अध्यक्ष जयंत पाटिल और वरिष्ठ पार्टी नेता छगन भुजबल भी शिवाजी पार्क पहुंचे. भुजबल भी एक समय शिवसेना में रह चुके हैं. किसी वरिष्ठ कांग्रेसी नेता को स्मारक आते नहीं देखा गया लेकिन राज्य के कुछ कांग्रेस नेताओं ने बाल ठाकरे को ट्वीट करके श्रद्धांजलि दी.

ये भी पढ़ें - 

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए नहीं जुटाया जा रहा है चंदा: विहिप

राम मंदिर के डिजाइन की तरह दिखेगा अयोध्या रेलवे स्टेशन का बाहरी हिस्सा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 17, 2019, 8:16 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर