लाइव टीवी
Elec-widget

संजय राउत बोले- BJP जब PDP के साथ मिलकर बना सकती है सरकार तो हम NCP के साथ क्यों नहीं?

भाषा
Updated: November 11, 2019, 12:13 PM IST
संजय राउत बोले- BJP जब PDP के साथ मिलकर बना सकती है सरकार तो हम NCP के साथ क्यों नहीं?
शिवसेना सांसद का कहना है कि जब बीजेपी जम्मू-कश्मीर में पीडीपी के साथ सरकार बना सकती है तो हम एनसीपी और कांग्रेस के साथ महाराष्ट्र में क्यों नहीं.

सबसे पुराने सहयोगी शिवसेना के साथ बीजेपी का गठबंधन टूट की कगार पर है. शिवसेना (Shiv Sena) का कहना है कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) अगर महाराष्ट्र (Maharashtra) में मुख्यमंत्री पद साझा करने का वादा पूरा नहीं करना चाहती तो गठबंधन में बने रहने को कोई मतलब नहीं है.

  • भाषा
  • Last Updated: November 11, 2019, 12:13 PM IST
  • Share this:
मुंबई. सबसे पुराने सहयोगी शिवसेना के साथ बीजेपी का गठबंधन टूट की कगार पर है. शिवसेना (Shiv Sena) का कहना है कि भारतीय जनता पार्टी (BJP) अगर महाराष्ट्र (Maharashtra) में मुख्यमंत्री पद साझा करने का वादा पूरा नहीं करना चाहती तो गठबंधन में बने रहने को कोई मतलब नहीं है. महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी (Bhagat Singh Koshyari) के शिवसेना को सरकार बानने का दावा पेश करने के लिए आमंत्रित करने के एक दिन बाद संजय राउत (Sanjay Raut) ने कहा कि ने कहा, बीजेपी 50-50 के फॉर्मूले का पालन नहीं करके जनादेश का 'अपमान' कर रही है. उन्होंने दावा किया कि लोकसभा चुनाव से पहले इस पर निर्णय ले लिया गया था.

...तो गठबंधन में रहने का कोई मतलब नहीं
उन्होंने यह भी कहा कि अगर बीजेपी पीपुल्स डेमोक्रेटिक पार्टी (पीडीपी) के साथ मिलकर जम्मू-कश्मीर में सरकार बना सकती है तो शिवसेना महाराष्ट्र में एनसीपी और कांग्रेस के साथ क्यों नहीं. राज्यसभा सदस्य ने कहा, ‘बीजेपी का यह अहंकार कि वह विपक्ष में बैठ लेगी लेकिन मुख्यमंत्री पद साझा नहीं करेगी, के कारण ही मौजूदा स्थिति उत्पन्न हुई है...अगर बीजेपी अपना वादा पूरा करने को तैयार नहीं है, तो गठबंधन में रहने का कोई मतलब नहीं है.’

मतभेद भूलकर आएं साथ

राउत ने सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए कम समय मिलने की भी बात कही. उन्होंने कहा कि बीजेपी को सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए 72 घंटे मिले, हमें 24 घंटे दिए गए. राउत ने कांग्रेस और राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी से राज्य के हित में साथ आने की अपील की. उन्होंने कहा कि कांग्रेस, एनसीपी को मतभेद भूल कर महाराष्ट्र के हित में एक न्यूनतम साझा कार्यक्रम के साथ आना चाहिए. राउत ने कहा, ‘शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस महाराष्ट्र के हित की रक्षा पर सहमत हैं.’

अरविंद सावंत ने दिया इस्तीफा
बीजेपी के रविवार को सरकार बनाने से इनकार करने के कुछ घंटों बाद राज्यपाल ने शिवसेना को सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए आमंत्रित किया था. शिवसेना एक ओर जहां एनसीपी और कांग्रेस से संपर्क साध रही है वहीं शरद पवार के नेतृत्व वाली पार्टी एनसीपी ने रविवार को कहा कि शिवसेना को पहले राजग से अलग होना होगा. इस बीच, केन्द्रीय भारी उद्योग मंत्री और शिवसेना नेता अरविंद सावंत ने सोमवार को केंद्र की राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन सरकार से अलग होने की घोषणा की. मोदी मंत्रिमंडल में शिवसेना के इकलौते मंत्री ने टि्वटर पर अपने फैसले की घोषणा की.
Loading...

ये भी पढ़ें-

कांग्रेस की मदद के बिना नहीं बनेगी शिवसेना-NCP की सरकार, ये है समीकरण

शिवसेना भी नहीं बना पाई सरकार तो क्या होगी महाराष्ट्र में आगे की राह?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 11, 2019, 11:55 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...