शिवसेना-NCP का ढाई-ढाई साल CM फ़ॉर्मूले पर सोनिया-पवार में हुई चर्चा, कांग्रेस की ये है शर्त!
Mumbai News in Hindi

शिवसेना-NCP का ढाई-ढाई साल CM फ़ॉर्मूले पर सोनिया-पवार में हुई चर्चा, कांग्रेस की ये है शर्त!
महाराष्‍ट्र में सरकार गठन के लिए शिवसेना को कांग्रेस बाहर से समर्थन दे सकती है (File Photo)

महाराष्‍ट्र (Maharshtra) में सरकार बनाने को लेकर कांग्रेस अध्‍यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) और एनसीपी चीफ शरद पवार (sharad Pawar) के बीच चर्चा हुई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 4, 2019, 11:11 PM IST
  • Share this:
नई दिल्‍ली. एनसीपी (NCP) चीफ शरद पवार (Sharad Pawar) ने कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी (Sonia Gandhi) से मुलाक़ात के बाद सोमवार को स्पष्ट कर दिया कि कांग्रेस-एनसीपी (Congress-NCP) के पास सरकार बनाने के नंबर नहीं हैं, साथ ही शिवसेना (SHiv Sena) के साथ सरकार बनाने पर कोई चर्चा नहीं हुई है. हालांकि सूत्रों के मुताबिक इस बैठक में एनसीपी-शिवसेना के ढाई-ढाई साल CM फ़ॉर्मूले पर सरकार बनाने पर चर्चा हुई है. पवार वापस महाराष्ट्र लौटकर शिवसेना को ये ऑफर दे सकते हैं और कांग्रेस इस सरकार को बाहर से समर्थन दे सकती है.

कांग्रेस ने भी रखी है शर्त
सूत्रों के मुताबिक सोनिया गांधी को शरद पवार के इस प्रस्ताव पर एतराज नहीं है लेकिन कांग्रेस की तरफ से कुछ शर्तें रखी गई हैं. सोनिया गांधी ने कहा कि शिवसेना को पहले NDA से संबंध तोड़ने की घोषणा करनी होगी. इसके अलावा विवादित मुद्दों पर शिवसेना की राय अतिवादी न हो, इसकी ज़िम्मेदारी पवार की होगी. कांग्रेस को पूरे देश मे राजनीति करनी है लिहाजा उसके मत को ध्यान में रखकर ही शिवसेना और उसके नेताओं को आगे बयानबाजी करनी होगी.

सरकार में कांग्रेस के शामिल होने पर संशय



कांग्रेस के विश्वस्त सूत्रों के मुताबिक अभी सरकार में शामिल होने की बाबत सोनिया गांधी ने कोई आश्वासन नहीं दिया और कहा कि फिलहाल कांग्रेस सरकार में शामिल नहीं होगी, बाद में देखेंगे. पवार इन सभी शर्तों और प्रस्तावों पर वापस महाराष्ट्र जाकर शिवसेना से चर्चा करेंगे और फिर सोनिया गांधी से एक बार और मुलाक़ात करेंगे. हालांकि ये स्पष्ट है कि पहले एनसीपी-शिवसेना का हाथ मिलाना ज़रूरी है इसी के बाद कांग्रेस इस गठबंधन में शामिल हो सकती है.



पवार ने क्या कहा
इससे पहले सोनिया गांधी से मुलाक़ात के बाद शरद पवार ने मीडिया से बातचीत में कहा था कि बीजेपी-शिवसेना को पूर्ण बहुमत हासिल हुआ है, सरकार बनाने की जिम्मेदारी उन पर है. जब उनसे पूछा गया कि क्या शिवसेना का सीएम बनाने के लिए एनसीपी समर्थन देगी. तो इसके जवाब में पवार ने कहा कि हमसे किसी ने अभी तक पूछा ही नहीं है. शिवसेना से अभी तक किसी ने हमसे बातचीत नहीं की है न ही हमारी तरफ से ऐसा कोई प्रस्ताव भेजा गया है.

ये भी पढ़ें: 

देवेंद्र फडणवीस के लिए दूसरी बार CM बनने से ज्यादा बड़ी है महाराष्ट्र की जंग!
शिवसेना ने हमसे बात नहीं की, हमारे पास सरकार बनाने के लिए नंबर नहीं: शरद पवार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading