चुनाव से पहले शिवसेना का बड़ा बयान- अगला मुख्यमंत्री हमारी पार्टी से होगा

महाराष्ट्र में सत्तारूढ़ गठबंधन में शामिल शिवसेना ने कहा है कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री उसकी पार्टी से होगा. बता दें कि प्रदेश में इसी साल विधानसभा चुनाव होने वाले हैं.

News18Hindi
Updated: June 20, 2019, 8:56 PM IST
चुनाव से पहले शिवसेना का बड़ा बयान- अगला मुख्यमंत्री हमारी पार्टी से होगा
पार्टी का कहना है कि राज्य में उसका बीजेपी के साथ गठबंधन है पर उसका एक स्वतंत्र राजनीतिक अस्तित्व है.
News18Hindi
Updated: June 20, 2019, 8:56 PM IST
महाराष्ट्र में विधानसभा चुनाव होने में कुछ ही महीने का समय बाकी है, ऐसे में शिवसेना की तरफ से बड़ा बयान आया है. शिवसेना ने कहा है कि राज्य का अगला मुख्यमंत्री उनकी पार्टी से होगा. पार्टी ने बुधवार को अपने मुखपत्र ‘सामना’ में ऐसे समय में यह बात कही है, जब मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस मुंबई में हुए शिवसेना के स्थापना दिवस कार्यक्रम में शामिल हुए. पार्टी का कहना है कि राज्य में उसका बीजेपी के साथ गठबंधन है, पर उसका एक स्वतंत्र राजनीतिक अस्तित्व है.

मुखपत्र में कहा गया है कि पार्टी दृढ़प्रतिज्ञ है कि अगली विधानसभा को ‘भगवा’ रंग में रंगा जाए और अगले साल होने वाले 54वें स्थापना दिवस पर उसके मंच पर पार्टी का ही मुख्यमंत्री दिखाई दे.

सीएम ने उद्धव को कहा- बड़ा भाई

शिवसेना के इस बयान से इतर महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने उद्धव ठाकरे को ‘बड़ा भाई’ कहा है. सीएम बुधवार को शिवसेना के 53वें स्थापना दिवस के कार्यक्रम में बतौर मुख्य अतिथि बोल रहे थे. ऐसा पहली बार हुआ है कि शिवसेना के स्थापना दिवस पर दूसरी पार्टी के नेता को आमंत्रित किया गया. इस कार्यक्रम के मंच पर शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे और मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस दोनों मौजूद थे.

राम मंदिर पर उग्र हुआ शिवसेना का रुख

गौरतलब है कि बीते कुछ समय में एनडीए की प्रमुख सहयोगी शिवसेना ने राम मंदिर निर्माण को लेकर उग्र रुख अख्तियार किया है. दो दिन पहले शिवसेना ने कहा है कि लोकसभा में 350 से अधिक सांसदों वाली केंद्र सरकार को अब राम मंदिर के निर्माण के लिए उचित कदम उठाना चाहिए. साथ ही अयोध्या में मंदिर का निर्माण करके भगवान राम का वनवास समाप्त करें. बीते 16 जून को पार्टी अध्यक्ष उद्धव ठाकरे, उनके बेटे आदित्य और 18 शिवसेना सांसदों की अयोध्या यात्रा के बाद पार्टी के मुखपत्र ‘सामना’ में यह बात कही गई थी.

2014 में सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी बीजेपी
Loading...

महाराष्ट्र में 2014 में हुए विधानसभा चुनाव में भारतीय जनता पार्टी सबसे बड़ी पार्टी बनकर उभरी थी. उससे पहले बीजेपी के पास शिवसेना से कम सीटें हुआ करती थीं. 288 सदस्यों वाली विधानसभा में बीजेपी को 122 सीटें हासिल हुई थीं. शिवसेना को 63 सीटें हासिल हुई थीं. पहली बार बीजेपी के देवेंद्र फडणवीस राज्य के मुख्यमंत्री बने थे. उस चुनाव में बीजेपी और शिवसेना में सीटों को लेकर सहमति नहीं बन पाई थीं. बीजेपी शुरुआत में अपने लिए 144 सीटें मांग रही थी लेकिन बाद में इसे घटाकर 130 कर दिया था लेकिन शिवसेना इस पर भी राजी नहीं हुई. आखिरकार दोनों ने अलग-अलग चुनाव लड़ा और बीजेपी को बड़ी सफलता हासिल हुई.

ये भी पढ़ें:

हार्ड कौर ने मोहन भागवत व योगी पर की टिप्पणी, केस दर्ज

शिवसेना का बुर्काबंदी के बाद अब लॉन्जरी पर हमला
First published: June 20, 2019, 7:47 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...