लाइव टीवी

उद्धव के शपथ ग्रहण से पहले मुंबई में लगे बाला साहेब ठाकरे और इंदिरा गांधी के पोस्टर

News18Hindi
Updated: November 28, 2019, 1:18 PM IST
उद्धव के शपथ ग्रहण से पहले मुंबई में लगे बाला साहेब ठाकरे और इंदिरा गांधी के पोस्टर
शिवसैनिकों ने मुंबई में लगाए इंदिरा गांधी और बाला साहेब के पोस्टर.

शिवसैनिकों ने शपथ ग्रहण के दिन शिवसेना भवन के पास शिवसेना के संस्थापक बालासाहेब ठाकरे और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की तस्वीर वाले पोस्टर लगाए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 28, 2019, 1:18 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में गुरुवार की सुबह शिवसेना (Shiv Sena) और शिवसैनिकों के लिए नई सूरज की किरण लेकर आई है. आज बाला साहेब ठाकरे का सपना साकार होने जा रहा है, क्योंकि शिवसेना का मुख्यमंत्री महाराष्ट्र की सत्ता संभालने वाला है.

महाराष्ट्र में शिवसेना-एनसीपी और कांग्रेस गठबंधन की सरकार बन रही है, जिसमें उद्धव ठाकरे मुख्यमंत्री होंगे. आज महाराष्ट्र में इस बात को लेकर हर शिवसैनिक खुशी से झूम उठा है. शिवसैनिकों ने शपथ ग्रहण से पहले शिवसेना भवन के पास शिवसेना के संस्थापक बाला साहेब ठाकरे और पूर्व प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की तस्वीर वाले पोस्टर लगाए हैं. साथ ही पोस्टर में बाल ठाकरे, शरद पवार और जॉर्ज फर्नांडिस की तस्वीर को भी लगाया है.


Loading...

पोस्टर में क्या है
शिवसैनिकों ने पोस्टर पर लिखा - आज बाला साहेब ठाकरे का सपना साकार हो रहा है. शिवसेना का मुख्यमंत्री बन रहा है. पोस्टर में लगी तसवीर में बाला साहेब ठाकरे इंदिरा गांधी का अभिवादन करते हुए नजर आ रहे हैं. पोस्टर में सबसे ऊपर लिखा है- महाविकास अघाड़ी, इसके बाद सत्यमेव जयते लिखा गया है.

बता दें कि बाला साहेब ने साल 1975 में प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी की इमर्जेंसी का भी समर्थन किया था. लेकिन उस समय ज्यादातर विपक्षी पार्टियां इसके विरोध में थीं. जिसके बाद तमाम विपक्षी दल के नेताओं को गिरफ्तार कर लिया गया था.



बाला साहेब ने 1966 में बनाई थी शिवसेना
बाला साहेब ठाकरे ने साल 1966 में शिवसेना की नींव रखी थी. इस पार्टी की स्थापना मराठियों के हित और उनकी आवाज उठाने के लिए की गई थी. बाला साहेब ठाकरे ने ही मराठी समाचार 'सामना' को शुरू किया था. जो आज शिवसेना का मुख पत्र है. सामना समाचार पत्र हिंदी और मराठी दोनों भाषाओं में प्रकाशित होता है. अपने जीवन में बाला साहेब ठाकरे ने कभी भी कोई राजनीतिक पद नहीं लिया. बता दें कि बाला साहेब ने 17 नवंबर 2012 को अंतिम सांस ली थी.

महाराष्ट्र विधानसभा चुनाव 2019 में किसी भी दल को पूर्ण बहुमत नहीं मिला था. यहां भाजपा की 105, शिवसेना की 56, एनसीपी की 54 और कांग्रेस की 44 सीटें आई थीं. जिसके बाद शिवसेना-एनसीपी और कांग्रेस मिलकर 'महा विकास अघाड़ी' सरकार बना रहे हैं.

 

 

ये भी पढ़ें- शिवसेना का फडणवीस पर तंज, कहा- हमारी 'विकास' की सरकार है

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 28, 2019, 10:02 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...