मुंबई हादसा: मरम्मत के लिए बनी 445 की लिस्ट से गायब था CST ओवर ब्रिज का नाम

मुंबई CST ओवर ब्रिज हादसे में अबतक 5 लोगों की मौत हो चुकी है और 34 लोग घायल हैं. इस हादसे के बाद सवाल उठने लगे हैं कि आखिर क्यों मुंबई के ये ओवर ब्रिज लोगों को मौत के मुंह में लेकर जा रहे हैं.

News18Hindi
Updated: March 15, 2019, 12:27 AM IST
मुंबई हादसा: मरम्मत के लिए बनी 445 की लिस्ट से गायब था CST ओवर ब्रिज का नाम
हादसे में अबतक 5 लोगों की मौत हो चुकी है और 34 घायल हैं
News18Hindi
Updated: March 15, 2019, 12:27 AM IST
मुंबई CST ओवर ब्रिज हादसे में अबतक 5 लोगों की मौत हो चुकी है और 34 लोग घायल हैं. इस हादसे के बाद सवाल उठने लगे हैं कि आखिर क्यों मुंबई के ये ओवर ब्रिज लोगों को मौत के मुंह में लेकर जा रहे हैं. पिछले साल अंधेरी के जीके गोखले रोड ओवर ब्रिज ढह जाने से दो लोगों की मौत हो गई थी. उसके बाद ये मांग उठने लगी कि मुंबई के सारे जर्जर ओवर ब्रिज को दुरुस्त किया जाना चाहिए. safety audit ordered after राज्य के 445 ऐसे ब्रिज की लिस्ट बनाई गई पर CST ओवर ब्रिज का नाम इस लिस्ट से नदारद था.

वहीं मुंबई के सीएसटी रेलवे स्टेशन के बाहर गिरे फुटओवर ब्रिज पर कांग्रेस नेता मिलिंद देवड़ा ने बड़ा दावा किया है. हादसे के बाद घटनास्थल पर पहुंचे मिलिंद देवड़ा ने कहाा था कि इस ब्रिज का 6 महीने पहले ही ऑडिट हुआ था और इसे पूरी तरह सेफ बताया गया था लेकिन इसके बावजूद ये हादसा हो गया. मिलिंद देवड़ा ने इसे महाराष्ट्र सरकार की लापरवाही बताते हुए ऑडिट करने वाले लोगों पर हत्या का केस दर्ज करने की मांग की.

फडणवीस के मंत्री का बयान, 'इतना खराब नहीं था ब्रिज, बस थोड़ी रिपेयर की जरूरत थी'



कांग्रेस के नेता संजय निरूपम ने भी बीएमसी और रेल मंत्री को इस हादसे के लिए जिम्मेदार बताया. संजय निरूपम ने कहा कि बीएमसी के लोगों को मुंबई के लोगों से माफी मांगनी चाहिए.

मुंबई ब्रिज हादसा: चश्मदीद ने खोला हादसे का राज, इस वजह से गई लोगों की जान
Loading...

और भी देखें

पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...