उद्धव ठाकरे मंत्रिमंडल का विस्‍तार आज, कांग्रेस की ओर से 12 मंत्री ले सकते हैं शपथ

बालासाहेब थोराट ने कहा कि, महाराष्ट्र विकास अघाड़ी गठबंधन के घटक दलों में गुरुवार शाम तक विभागों का बंटवारा हो जाएगा.  (फाइल फोटो)
बालासाहेब थोराट ने कहा कि, महाराष्ट्र विकास अघाड़ी गठबंधन के घटक दलों में गुरुवार शाम तक विभागों का बंटवारा हो जाएगा. (फाइल फोटो)

अहम मंत्रालय नहीं दिए जाने को लेकर उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) सरकार में शामिल कांग्रेस (Congress) की नाराजगी की खबर सामने आई थी.

  • भाषा
  • Last Updated: December 30, 2019, 12:00 AM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) की उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) सरकार के सोमवार को होने वाले मंत्रिमंडल विस्तार से पहले कांग्रेस के प्रदेश अध्यक्ष और राजस्व मंत्री बाला साहेब थोराट (Balasaheb Thorat) ने बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि मंत्रियों की सूची को अंतिम रूप दे दिया गया है. कांग्रेस के 12 मंत्री होंगे जिनमें से 10 कैबिनेट रैंक के हैं.

दरअसल, अहम मंत्रालय नहीं दिए जाने को लेकर उद्धव सरकार में शामिल कांग्रेस की नाराजगी की खबर सामने आई थी.

उद्धव मंत्रिमंडल का विस्‍तार 30 दिसंबर को
मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे के नेतृत्व में नवनिर्मित सरकार के मंत्रिमंडल का 30 दिसंबर को विस्तार होगा. सरकार गठन के करीब एक महीने बाद ठाकरे सरकार के मंत्रिमंडल का यह विस्तार होने जा रहा है.





कांग्रेस के प्रति निष्ठा में कभी कमी नहीं आई: थोराट
थोराट ने रविवार को कहा कि बीजेपी नेता राधाकृष्ण विखे पाटिल की उस टिप्पणी पर ध्यान देने की जरूरत नहीं है कि वह (थोराट) कुछ दिन पहले भगवा पार्टी में शामिल होने के बारे में विचार कर रहे थे. विखे पाटिल राज्य में इस साल हुए विधानसभा चुनाव से पहले कांग्रेस छोड़कर बीजेपी में शामिल हो गए थे.

बीजेपी नेता के दावे पर प्रतिक्रिया देते हुए थोराट ने कहा, 'मैंने कभी अपने सिद्धांतों और कांग्रेस के प्रति प्रतिबद्धता से समझौता नहीं किया. उनके बयान को अधिक महत्व देने की आवश्यकता नहीं है. पूरा प्रदेश जानता है कि विपक्ष के नेता के रूप में कांग्रेस को आगे बढ़ाने के लिए उन्होंने (पाटिल) क्या काम किया. हालांकि, मैं हमेशा कांग्रेस के साथ खड़ा रहा, कठिन समय में भी.'

पाटिल और थोराट दोनों अहमदनगर जिले से हैं तथा दोनों चिर प्रतिद्वंद्वी हैं. महाराष्ट्र विधानसभा में 2014 से 2019 के बीच राधाकृष्ण विखे पाटिल नेता विपक्ष के रूप में रहे थे.

BJP में शामिल होने के बारे में विचार कर रहे थे थोराट: राधाकृष्ण विखे पाटिल
शिरडी में पाटिल ने कहा था, ''तीन साल पहले थोराट बीजेपी में शामिल होने के बारे में विचार कर रहे थे. आज उन्हें जो भी मिला है, (कैबिनेट मंत्री का पद) वह उन्हें अचानक मिल गया है. विधानसभा चुनाव के दौरान वह अपने निर्वाचन क्षेत्र से बाहर प्रचार भी नहीं कर सके.

ये भी पढ़ें-

उद्धव मंत्रिमंडल का विस्‍तार कल, NCP-कांग्रेस से ये नेता बन सकते हैं मंत्री

शिवसेना ने की सोनिया गांधी की तारीफ, BJP पर बोला हमला
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज