महाराष्ट्र में काला जादू करने वाले तीन भाइयों को कोर्ट ने सुनाई 7 साल की सजा

भाषा
Updated: August 16, 2019, 11:17 PM IST
महाराष्ट्र में काला जादू करने वाले तीन भाइयों को कोर्ट ने सुनाई 7 साल की सजा
प्रतीकात्मक तस्वीर

अतिरिक्त लोक अभियोजक रेखा हिवराले ने अदालत को बताया कि ये तीनों भाई वाडा में ओम शिव आरोग्यधाम दारु मुक्ति केंद्र चलाते थे.

  • Share this:
महाराष्ट्र में ठाणे की एक अदालत ने महाराष्ट्र के पालघर जिले के तीन भाइयों को उनके द्वारा चलाए जाने वाले नशा मुक्ति केंद्र में मरीजों को शारीरिक रूप से प्रताड़ित करने और उन पर काला जादू करने के लिए सात साल की कड़ी कैद की सजा सुनाई है.

ठाणे जिला अदालत के न्यायाधीश शैलेंद्र तांबे ने बुधवार को पारित अपने आदेश में दोषियों- कांतिलाल पुरुषोत्तम देशमुख (52), नंदकुमार (58) और उमेश (46) पर 1.2 लाख रुपए का जुर्माना भी लगाया. अतिरिक्त लोक अभियोजक रेखा हिवराले ने अदालत को बताया कि ये तीनों भाई वाडा में ओम शिव आरोग्यधाम दारु मुक्ति केंद्र चलाते थे.

हालांकि वे मरीजों को बेल्ट और अन्य चीजों से मारा करते थे. वे पीड़ितों को धमकाते थे कि अगर उन्होंने निर्देश नहीं माने तो उन्हें दर्द सहना होगा और परिणाम भुगतने होंगे. हिवराले ने बताया कि ये सब 2010 से 2015 के बीच होता रहा.

अदालत ने मामले की जांच करने वाले संजय हजारे समेत कई अन्य पीड़ितों के बयानों पर भरोसा करते हुए तीनों को भारतीय दंड संहिता की धारा 420 (धोखाधड़ी), 323 (जानबूझ कर चोट पहुंचाना), 506 (आपराधिक धमकी) और 201 (सबूत मिटाना) और महाराष्ट्र मानव बलि एवं अन्य अमानवीय, बुराई और अघोरी प्रथाओं की रोकथाम एवं उन्मूलन तथा काला जादू कानून, 2013 की धाराओं के तहत दोषी पाया.

ये भी पढ़ें-

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 16, 2019, 8:15 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...