लाइव टीवी

यूपी स्थापना दिवस पर बोले पर्यटन मंत्री- योगी सरकार ने 'विवाद के विषय' को बनाया 'विकास का विषय'

Abhishek Pandey | News18Hindi
Updated: January 26, 2020, 11:30 PM IST
यूपी स्थापना दिवस पर बोले पर्यटन मंत्री- योगी सरकार ने 'विवाद के विषय' को बनाया 'विकास का विषय'
मुंबई में अभियान संस्था ने सांताक्रूज में यूपी दिवस पर कार्यक्रम आयोजित किया

मुंबई (Mumbai) में अभियान संस्था की ओर से सांताक्रूज में आयोजित यूपी दिवस (UP Day) के कार्यक्रम में नीलकंठ तिवारी बोल रहे थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 26, 2020, 11:30 PM IST
  • Share this:
मुंबई. उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के स्थापना दिवस को लेकर योगी सरकार के पर्यटन मंत्री डॉ नीलकंठ तिवारी (Tourism Minister Dr Neelkanth Tiwari) ने पिछली सरकार पर निशाना साधा है. तिवारी ने कहा है कि यूपी में अब तक सरकारें सिर्फ राजनीति करती रहीं और उत्तर प्रदेश के स्थापना को लेकर एक सीधा निर्णय तक नहीं ले पाईं, जबकि योगी सरकार (Yogi Government) ने आते ही तत्कालीन राज्यपाल राम नाइक (Ram Naik) के नेतृत्व में उत्तर प्रदेश का स्थापना दिवस मानने का सिलसिला शुरू किया. यूपी दिवस (UP Day) आज तीसरी बार मनाया गया है. पिछली सरकारों को उन्हें अपने गौरव का कोई भान नहीं था.

मुंबई (Mumbai) में अभियान संस्था की ओर से सांताक्रूज में आयोजित यूपी दिवस के कार्यक्रम में नीलकंठ तिवारी बोल रहे थे. इस मौके पर महाराष्ट्र (Maharashtra) के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी, यूपी के पूर्व राज्यपाल राम नाइक, भाजपा नेता व पूर्व मंत्री आशीष शेलार, पूर्व कांग्रेसी नेता कृपाशंकर सिंह आदि लोग मौजूद थे.

अटल आवासीय स्कूल खुलेंगे
डॉ नीलकंठ तिवारी ने कहा कि उत्तर प्रदेश बदल चुका है. यह बाबा विश्वनाथ और बुद्ध की भूमि है. श्रीराम-कृष्ण की जन्म भूमि है, जहां पावन गंगा बहती है, सबसे अधिक तीर्थ स्थल यूपी में है. पर्यटन (Tourism) की दृष्टि से यूपी बहुत महत्वपूर्ण राज्य है लेकिन पिछली सरकारों ने इसे बढ़ाने का कोई प्रयास नहीं किया. लेकिन योगी सरकार ने यूपी दिवस के अवसर पर जनता को कुछ न कुछ नई योजनाएं लाकर उपहार दिया है.

तिवारी ने कहा, "पहली बार जब उत्तर प्रदेश दिवस मनाया गया तो वन डिस्ट्रिक वन प्रोडक्ट योजना (ODOP Scheme) की घोषणा की गई. प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से प्रेरणा लेकर मुख्यमंत्री योगी ने उक्त योजनाओं को लॉन्च किया. इस बार भी मुख्यमंत्री योगी ने गरीब मजदूरों के लिए अटल आवासीय विद्यालयों की घोषणा की है. जो सभी 18 कमिश्नरी में एक साथ शुरू हो रही है. जिसमें शिक्षा, स्किल डेवलपमेंट के साथ खेलने के मैदान भी होंगे."

पर्यटन मंत्री ने यह भी कहा कि यूपी को पहले अपराधों की भूमि (Land of Crimes) के रूप में भी लोग जानते थे, लेकिन अब माफिया राज पूरी तरह से साफ हो चुका है. अपराधी निपट गए हैं. उत्तर प्रदेश में उद्योगपति आकर योगी राज में उद्योग धंधे लगा रहे हैं.

योगी सरकार ने विवाद के विषय को बनाया विकास का विषयतिवारी ने कहा, "अयोध्या को पिछली सरकारों ने विवाद का विषय बना दिया जबकि योगी सरकार ने सत्ता में आते ही इसे विकास का विषय बना दिया, ये गौरव के पक्ष हैं जिसे पिछली सरकारों ने नहीं देखा. हमने तो अयोध्या का विकास सत्ता में आते शुरू कर दिया था, सम्माननीय सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने तो अब जाकर निर्णय दिया है. अयोध्या के अलावा राज्य के सभी धार्मिक स्थलों को विकसित किया है, यूपी में आइये काशी एकदम बदल गई."

पर्यटन मंत्री ने बताया, "अयोध्या (Ayodhya) में नगर निगम बनाया, तीर्थ स्थल के रूप में, पर्यटन स्थल तीर्थाटन को विकसित कर रहे हैं. अब ब्रज के मथुरा -वृंदावन भी आईये, अद्भुत और परम्पराएं दिखाई देंगी, अपनी संस्कृति को हमने संजोकर और संवारकर रखा है. प्रयाग को भी जरूर देखिये, जो कुंभ के समय हुआ उसकी स्मृतियों को भी देखिये. विध्यांचल, चित्रकूट धाम, नैमिषारण्य, श्रृंगवेरपुर विकसित कर रहे हैं. जितने भी गौरव के पक्ष है हम उसे लेकर आगे बढ़ रहे है विकसित कर रहे. आपका उत्तर प्रदेश प्रश्नों के उत्तर देने वाला प्रदेश है."

इस दौरान सालों से उत्तर प्रदेश दिवस (Uttar Pradesh Day) मनाने वाले अमरजीत मिश्रा कहा कि इसे महाराष्ट्र और मुंबई के बीच सांस्कृतिक विकास होगा और एक दूसरे के प्रति सम्मान बढ़ेगा.

यह भी पढ़ें: तेलंगाना: भीम आर्मी चीफ चंद्रशेखर आजाद को हैदराबाद पुलिस ने हिरासत में लिया

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 26, 2020, 11:30 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर