लाइव टीवी

साई बाबा के जन्मस्थान विवाद को सुलझाने के लिए अब उद्धव उठाएंगे ये कदम
Mumbai News in Hindi

भाषा
Updated: January 18, 2020, 10:01 PM IST
साई बाबा के जन्मस्थान विवाद को सुलझाने के लिए अब उद्धव उठाएंगे ये कदम
उद्धव ठाकरे के बयान के बाद इस मामले में विवाद हो रहा हैै. फाइल फोटो

महाराष्ट्र (Maharashtra) के शिरडी (Shiradi) में स्थानीय लोगों ने साई बाबा (Sai Baba) के जन्म स्थान को लेकर उपजे विवाद के बाद रविवार को बंद का आह्वान किया है. हालांकि, साई बाबा मंदिर के न्यासियों ने शनिवार को कहा कि बंद के बावजूद मंदिर खुला रहेगा.

  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) साईबाबा (Sai Baba) के जन्म स्थान को लेकर उत्पन्न विवाद को सुलझाने के लिए बातचीत करेंगे. यह जानकारी शनिवार शाम को जारी आधिकारिक विज्ञप्ति में दी गई. यह घोषणा ऐसे समय की गई है जब शिरडी (Shiradi) के स्थानीय नेताओं ने रविवार को इसके खिलाफ बंद का आह्वान किया है। शिरडी में ही साईबाबा (Sai Baba) का मंदिर है. बता दें कि  यह विवाद उस समय पैदा हुआ जब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने परभणी जिले के पाथरी में साई बाबा जन्मस्थान पर सुविधाओं का विकास करने के लिए 100 करोड़ रुपये की राशि आवंटित करने की घोषणा की थी.

शिरडी के स्थानीय लोगों एवं नेताओं ने पाथरी को साईबाबा का जन्म स्थान बताने पर आपत्ति दर्ज कराई और दावा किया कि उनका जन्मस्थान और उनका धर्म अज्ञात है. मुख्यमंत्री कार्यालय की ओर से जारी बयान के मुताबिक इस मुद्दे को सुलझाने के लिए ठाकरे सभी संबंधित पक्षों के साथ राज्य सचिवालय में बैठक करेंगे.

शिरडी में रविवार को बंद, लेकिन साई मंदिर खुला रहेगा
महाराष्ट्र के शिरडी में स्थानीय लोगों ने साई बाबा के जन्म स्थान को लेकर उपजे विवाद के बाद रविवार को बंद का आह्वान किया है. हालांकि, साई बाबा मंदिर के न्यासियों ने शनिवार को कहा कि बंद के बावजूद मंदिर खुला रहेगा. शिरडी स्थित साई मंदिर में देशभर के लाखों श्रद्धालु आते हैं. यह विवाद उस समय पैदा हुआ जब महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने परभणी जिले के पाथरी में साई बाबा जन्मस्थान पर सुविधाओं का विकास करने के लिए 100 करोड़ रुपये की राशि आवंटित करने की घोषणा की थी.

कुछ श्रद्धालु पाथरी को साई बाबा का जन्मस्थान मानते हैं जबकि शिरडी के लोगों का दावा है कि उनका जन्मस्थान अज्ञात है. शिरडी स्थित श्री साईबाबा संस्थान न्यास के मुख्य कार्यकारी अधिकारी दीपक मुगलीकर ने बताया कि बंद के बावजूद मंदिर खुला रहेगा. स्थानीय बीजेपी विधायक राधाकृष्ण विखे पाटिल ने कहा कि उन्होंने स्थानीय लोगों द्वारा बुलाए गए बंद का समर्थन किया है. उन्होंने कहा, ‘मुख्यमंत्री को साई बाबा का जन्मस्थान पाथरी होने संबंधी बयान को वापस लेना चाहिए.’

पूर्व राज्यमंत्री ने कहा, ‘देश के कई साई मंदिरों में एक पाथरी में भी है. सभी साई भक्त इससे आहत हुए हैं, इसलिए इस विवाद को खत्म होना चाहिए.’ कांग्रेस नेता और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक चव्हाण ने शुक्रवार को कहा था कि श्रद्धालुओं के लिए सुविधाओं का पाथरी में विकास का विरोध जन्मस्थान विवाद की वजह से नहीं किया जाना चाहिए.

ये भी पढ़ें: CAA Protest: बंद रास्तों से छात्र परेशान, HC का निर्देश- जल्द एक्शन ले पुलिस
दिल्ली विधानसभा चुनाव से पहले केजरीवाल का 'गारंटी कार्ड', जल्द होगा लॉन्च

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 18, 2020, 9:43 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर