लाइव टीवी
Elec-widget

महाराष्ट्र: उद्धव ठाकरे मंत्रिमंडल में राहुल गांधी की पसंद के इस नेता को मिली अहमियत

Ravishankar Singh | News18Hindi
Updated: November 28, 2019, 9:40 PM IST
महाराष्ट्र: उद्धव ठाकरे मंत्रिमंडल में राहुल गांधी की पसंद के इस नेता को मिली अहमियत
उद्धव ठाकरे के साथ ही तीनों दलों से दो-दो नेताओं को भी मंत्री पद की शपथ दिलाई गई है.

महाराष्ट्र (Maharashtra) में कांग्रेस (Congress) कोटे से दो लोगों ने मंत्री पद की शपथ ली है. जबकि एनसीपी कोटे से जयंत पाटिल और छगन भुजबल को उद्धव ठाकरे मंत्रिमंडल में जगह दी गई है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 28, 2019, 9:40 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में गुरुवार से 'ठाकरे राज' शुरू हो गया है. एनसीपी-कांग्रेस और शिवसेना (NCP-Shiv Sena-Congress) की गठबंधन सरकार में उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने मुख्यमंत्री पद की शपथ ले ली है. उद्धव ठाकरे के साथ ही राज्यपाल ने तीनों दलों से दो-दो नेताओं को भी मंत्री पद की शपथ दिलाई. शिवसेना कोटे से एकनाथ शिंदे और सुभाष देसाई ने मंत्री पद की शपथ ली. जबकि एनसीपी कोटे से जयंत पाटिल और छगन भुजबल को मंत्री पद की शपथ दिलाई गई तो वहीं कांग्रेस कोटे से बालासाहेब थोराट और नितिन राउत ने शपथ ली. नितिन राउत के बारे में कहा जाता है कि वह राहुल गांधी के बेहद ही खास हैं.

उद्धव ठाकरे मंत्रिमंडल में राहुल गांधी की पसंद को भी मिली तरजीह
शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे राज्य के 29वें मुख्यमंत्री के तौर पर कार्यभार संभाल लिया है. बता दें कि शिवसेना कोटे से मंत्री बने सुभाष देसाई पिछली सरकार में भी उद्योग मंत्री रह चुके हैं. सुभाष देसाई, गोरेगांव से तीन बार विधायक रह चुके हैं. एनसीपी के जयंत पाटिल भी महाराष्ट्र के ग्रामीण विकास मंत्री रह चुके हैं. जयंत पाटिल, मुंबई 26/11 में कांग्रेस-एनसीपी सरकार में गृह राज्य मंत्री बनाए गए थे. वहीं छगन भुजबल भी एनसीपी-कांग्रेस की पिछली सरकार में मंत्री रह चुके हैं. भुजबल येवला सीट से लगातार चौथी बार जीत दर्ज कर विधानसभा पहुंचे हैं.

शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे राज्य के 29वें मुख्यमंत्री के तौर पर कार्यभार संभाल लिया है.
शिवसेना सुप्रीमो उद्धव ठाकरे राज्य के 29वें मुख्यमंत्री के तौर पर कार्यभार संभाल लिया है.


कांग्रेस कोटे से मंत्री बने बालासाहेब थोराट महाराष्ट्र कांग्रेस में काफी बड़ा नाम है. बालासाहेब थोराट महाराष्ट्र कांग्रेस के अध्यक्ष और कांग्रेस विधायक दल के नेता भी चुने गए थे. थोराट गांधी परिवार के करीबी माने जाते हैं. थोराट ने संगमनेर सीट से 1985 से अब तक कोई चुनाव नहीं हारा है. कांग्रेस कोटे से दूसरे मंत्री बने नितिन राउत महाराष्ट्र के साथ-साथ राष्ट्रीय कांग्रेस में भी काफी अहम पदों पर रहे हैं. बाद में वह महाराष्ट्र विधानसभा का चुनाव लड़ा और मंत्री बने हैं. नितिन राउत 2019 में नागपुर उत्तर सीट से जीते हैं और पहले भी मंत्री रह चुके हैं.

नितिन राउत का नागपुर क्षेत्र में है दबदबा
नितिन राउत के बारे में कहा जाता है कि वह राहुल गांधी के बेहद ही करीबी माने जाते हैं और इनकी विदर्भ क्षेत्र में मजबूत पकड़ है. कांग्रेस को मिली 44 सीटों में से विदर्भ क्षेत्र में ही 15 सीटें जीती है. राहुल गांधी जब कांग्रेस अध्यक्ष थे तो नितिन राउत को केंद्र में महत्वपूर्ण जिम्मेदारी थी. महाराष्ट्र विकास आगाड़ी (MVI) गठबंधन में शामिल नितिन राउत अभी भी एआईसीसी अनुसूचित जाति विंग के अध्यक्ष हैं. ऐसा माना जा रहा है कि राहुल गांधी की पसंद को भी सोनिया गांधी ने महाराष्ट्र कैबिनेट में जगह दी है. ऐसी खबरें आ रही थी कि राहुल गांधी महाराष्ट्र में जो राजनीतिक घटनाक्रम हुए उससे अपने आपको अलग रखा था.
Loading...


बता दें, मुख्यमंत्री के शपथ ग्रहण कार्यक्रम में सुरक्षा के व्यापक इंतजाम किए गए थे. शिवाजी पार्क की सुरक्षा में कम से कम 2,000 पुलिसकर्मियों को तैनात किया गया था. यह ऐतिहासिक स्थल शपथग्रहण के दौरान अभेद्य किले में तब्दील हो गया. शिवसेना से जुड़े लोग शिवाजी पार्क से भावनात्मक तौर पर जुड़े हुए हैं क्योंकि यह वह स्थान है जहां पार्टी के संस्थापक दिवंगत बाल ठाकरे अपनी दशहरा रैलियों को संबोधित करते थे. इस परंपरा को अब उनके बेटे उद्धव ठाकरे निभा रहे हैं.

ये भी पढ़ें: 

प्याज को लेकर रामविलास पासवान ने किए थे बड़े-बड़े दावे और अब ये कहा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 28, 2019, 8:34 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...
Listen to the latest songs, only on JioSaavn.com