उद्धव बोले- BJP के साथ गठबंधन अटल है, हम सत्ता चाहते हैं

'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को नेतृत्व और दिशा प्रदान की है जिसमें प्रगति और विकास करने की अपार क्षमता है. संविधान के अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को समाप्त करने तथा चंद्रयान -2 अभियान के लिए मैं मोदी को बधाई देता हूं ...'

News18Hindi
Updated: September 7, 2019, 6:05 PM IST
उद्धव बोले- BJP के साथ गठबंधन अटल है, हम सत्ता चाहते हैं
उद्धव बोले- हम सत्ता चाहते हैं
News18Hindi
Updated: September 7, 2019, 6:05 PM IST
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में होने वाले विधानसभा चुनाव (Assembly Election 2019) से पहले राजनीतिक गलियारों में बीजेपी-शिवसेना (BJP Shiv Sena) गठबंधन को लेकर चर्चा का बाजार गर्म है. ऐसे में शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने अपना रुख स्पष्ट कर दिया है. उद्धव ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की उपस्थिति में कहा- दोनों दलों का गठबंधन 'अटल’ है और यह गठबंधन एक बार फिर से सत्ता में वापसी करेगा.

यहां एक कार्यक्रम में अपने संबोधन के दौरान ठाकरे ने अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को समाप्त करने के लिए प्रधानमंत्री की सराहना की. साथ ही अयोध्या में भव्य राम मंदिर बनाने तथा समान नागरिक संहिता लाने की अपील की.

चंद्रयान -2 अभियान के लिए मैं मोदी को बधाई देता हूं
ठाकरे ने कहा, 'प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने देश को नेतृत्व और दिशा प्रदान की है जिसमें प्रगति और विकास करने की अपार क्षमता है. संविधान के अनुच्छेद 370 के अधिकतर प्रावधानों को समाप्त करने तथा चंद्रयान -2 अभियान के लिए मैं मोदी को बधाई देता हूं ...अब राष्ट्र अयोध्या में भव्य राम मंदिर का निर्माण तथा समान नागरिक संहिता का इंतजार कर रहा है'.

'मोदी में, देश को (सही) दिशा देने वाला नेतृत्व मिला है'
उन्होंने कहा, 'कश्मीर भारत का अभिन्न अंग है और रहेगा. मोदी ने इसे न केवल शब्दों में बल्कि वास्तविकता में सिद्ध कर दिया है'. ठाकरे ने कहा कि महत्वाकांक्षी चंद्रमा मिशन की लिए देश को इसरो के वैज्ञानिकों पर भी गर्व है. ठाकरे ने कहा, 'भारत में अपार क्षमता है, और मोदी में, देश को (सही) दिशा देने वाला नेतृत्व मिला है.'

'गठबंधन ‘अटल’ है' हम सत्ता चाहते हैं
Loading...

ठाकरे ने यह भी कहा कि भारतीय जनता पार्टी के साथ गठबंधन जारी रहेगा. उन्होंने कहा, 'गठबंधन ‘अटल’ है' हम सत्ता चाहते हैं ...इसमें कोई शंका नहीं है, लेकिन हम ऐसा राज्य के विकास के लिए चाहते हैं. भाजपा शिवसेना ‘यूति’ (गठबंधन) प्रदेश में चुनावों के बाद एक बार फिर सत्ता में वापस लौटेगी. मुझे इस बात की खुशी है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी राज्य की बढ़ती जनसंख्या के लिए सुविधायें मुहैया करा रहे हैं'

कार्यक्रम में अपने भाषण में मुख्यमंत्री देवेंद्र फड़णवीस ने कहा कि देश ने कभी किसी प्रधानमंत्री को इसरो वैज्ञानिकों के बीच बैठ कर उनका मनोबल बढ़ाते नहीं देखा. इससे पहले दिन में मोदी ने इसरो प्रमुख के सिवन को देर तक और लंबे समय तक गले लगाया. चंद्रयान-2 के लैंडर विक्रम के चंद्रमा पर साफ्ट लैंडिंग में विफल होने के बाद सिवन भावुक हो गए थे.

 

शिवसेना राज्य में आधी सीट चाहती है
खबरों के अनुसार शिवसेना चाहती है कि विधानसभा चुनावों में भाजपा के साथ सीटों का बंटवारा आधा-आधा हो. जिसका मतलब है कि दोनों पार्टी बराबर-बराबर सीटों पर चुनाव लड़ेंगी. विधानसभा की कुल 288 सीटों में से, भाजपा और शिव सेना ने 18 सीटें छोटे सहयोगियों को आवंटित करने पर सहमति जतायी है, लेकिन इस पर औपचारिक रूप से मुहर लगनी बाकी है.
(एजेंसी इनपुट के साथ)

ये भी पढ़ें: 

मुंबई में PM मोदी ने की 19 हजार करोड़ की मेट्रो लाइनों की शुरुआत

मौसम विभाग ने जारी किया अलर्ट, अगले 2 दिन मुंबई में भारी बारिश के अनुमान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 7, 2019, 6:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...