उद्धव ठाकरे ने सोनिया गांधी को दिया धन्यवाद, कहा- सपने में भी नहीं सोचा था कि कभी मुख्यमंत्री बनूंगा
Mumbai News in Hindi

उद्धव ठाकरे ने सोनिया गांधी को दिया धन्यवाद, कहा- सपने में भी नहीं सोचा था कि कभी मुख्यमंत्री बनूंगा
तीनों दलों के विधायकों को संबोधित करते हुए शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने सभी को धन्यवाद दिया.

उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) के साथ जयंत पाटिल (Jayant Patil) और बालासाहेब थोराट महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. इस अवसर पर उन्होंने कहा कि, ‘सपने में भी नहीं सोचा था कि एक दिन मुख्यमंत्री बनूंगा.’

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 27, 2019, 7:20 AM IST
  • Share this:
मुंबई. शिवसेना (Shiv sena) -एनसीपी (NCP) और कांग्रेस (Congess) गठबंधन ने मंगलवार की शाम महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद के लिए उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को अपना नेता चुना. इसके बाद गठबंधन के नेताओं ने राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से मुलाकात की और 'महाविकास आघाड़ी' की सरकार बनाने का दावा पेश किया. गठबंधन के उद्धव ठाकरे को अपना नेता चुना. इसके उद्धव का महाराष्ट्र का अगला मुख्यमंत्री बनना तय हो गया है. उनके साथ जयंत पाटिल और बालासाहेब थोराट महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे. तीनों दलों ने अपने गठबंधन को ‘महाराष्ट्र विकास आघाडी’ नाम दिया है. शपथ ग्रहण 28 नवंबर को शाम पांच बजे होगा.

शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने तीनों पार्टियों के विधायकों को संबोधित करते हुए बीजेपी और देवेंद्र फडणवीस पर जमकर हमला बोला. उद्धव ठाकरे ने कहा, 'बीजेपी (BJP) ने हमारे साथ विश्वासघात किया है. बीजेपी के मन में जहर है. जब मैंने देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis) की प्रेस कॉन्फ्रेंस देखी तो मुझे बहुत पीड़ा हुई. मैंने ठान लिया कि ये सरकार अब नहीं चलेगी.'

मेरे हिंदुत्व में झूठापन नहीं है: उद्धव
गठबंधन के विधायकों को संबोधित करते हुए शिवसेना प्रमुख ने हिंदुत्व को लेकर बीजेपी पर हमला बोला. उद्धव ने कहा कि मेरे हिंदुत्व में झूठापन नहीं है. उन्होंने कहा कि प्रमुख बाला साहब ठाकरे ने कहा था कि शब्दों का बहुत महत्व होता है और उनपर कायम रहना चाहिए. हम अपने शब्दों पर कायम हैं और अब सब एक हैं.
हम कुश्ती के अखाड़े में आए हैं, हमारे आड़े नहीं आइएगा: उद्धव


उद्धव ने बीजेपी को संदेश देते हुए कहा कि हम कुश्ती के अखाड़े में आए हैं. हमारे आड़े नहीं आइएगा क्योंकि हम कभी भी दुर्भावना से काम नहीं करते हैं. उन्होंने कहा, 'हमारी सरकार में कई अनुभवी लोग शामिल होंगे, हम परिवार की तरह मिलकर काम करेंगे.'
सीएम बनने वाले बालासाहेब ठाकरे परिवार के पहले सदस्य होंगेइस अवसर पर उद्धव ठाकरे ने कहा कि, ‘सपने में भी नहीं सोचा था कि एक दिन मुख्यमंत्री बनूंगा.’ ठाकरे राज्य के शीर्ष राजनीतिक पद पर पहुंचने वाले बालासाहेब ठाकरे के परिवार के पहले सदस्य होंगे. उन्होंने कांग्रेस की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी को धन्यवाद दिया है.ठाकरे ने कहा, 'मैं सोनिया जी का भी शुक्रिया अदा करना चाहता हूं. अलग विचाराधारा वाले दल साथ आए हैं... जो 30 साल से दोस्त थे, हम पर भरोसा नहीं किया. लेकिन जिनके खिलाफ हम 30 साल लड़ते रहे , उन्होंने मुझ पर भरोसा किया.'ठाकरे ने कहा कि आम लोगों को इसे अपनी सरकार मानना चाहिए. उन्होंने कहा, 'लड़ाई निजी नहीं है.... मेरी सरकार प्रतिशोध की भावना से काम नहीं करेगी.'महाराष्ट्र राकांपा प्रमुख जयंत पाटिल ने प्रस्तावित किया उद्धव ठाकरे का नामयह निर्णय एक होटल में तीनों दलों की संयुक्त बैठक में लिया गया. इससे कुछ घंटे पहले चार दिन पुरानी देवेंद्र फडनवीस के नेतृत्व वाली भाजपा सरकार गिर गई थी. राकांपा के महाराष्ट्र प्रमुख जयंत पाटिल ने '(अगले) मुख्यमंत्री' के रूप में उद्धव ठाकरे का नाम प्रस्तावित किया. राज्य में कांग्रेस के प्रमुख बालासाहेब थोराट ने इस प्रस्ताव को मंजूरी दी.
सुप्रिया सुले को सांसद बनाने में बालासाहेब ठाकरे ने मदद की थी
बैठक में एनसीपी प्रमुख शरद पवार, पार्टी के वरिष्ठ नेता प्रफुल्ल पटेल, कांग्रेस नेता अशोक चव्हाण, स्वाभिमानी शेतकारी संगठन के राजू शेट्टी, समाजवादी पार्टी के अबू आज़मी और इन दलों के सभी विधायक मौजूद थे. उद्धव ठाकरे ने कहा जब सुप्रिया सुले पहली बार सांसद बनीं तब बालासाहेब ठाकरे ने उनकी मदद की थी, अब शरद पवार ने दोस्ती निभाई.


ये भी पढ़ें - 




अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज