होम /न्यूज /महाराष्ट्र /उद्धव ठाकरे चुने जाएंगे शिवसेना-कांग्रेस-एनसीपी विधायक दल के नेता, फिर सरकार बनाने का दावा करेंगे पेश

उद्धव ठाकरे चुने जाएंगे शिवसेना-कांग्रेस-एनसीपी विधायक दल के नेता, फिर सरकार बनाने का दावा करेंगे पेश

उद्धव ठाकरे चुने जाएंगे शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस विधायक दल के नेता

उद्धव ठाकरे चुने जाएंगे शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस विधायक दल के नेता

शिवसेना (Shiv Sena) नेता ने कहा, ‘‘उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) मुंबई के होटल में शाम को होने वाली बैठक में तीनों पार ...अधिक पढ़ें

    मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) में भाजपा नेता देवेंद्र फडणवीस (Devendra Fadnavis)  के मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद बदले राजनीतिक परिदृश्य में सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए शिवसेना-राकांपा- कांग्रेस ने उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) को अपना संयुक्त नेता चुनने का फैसला किया है. शिवसेना के एक वरिष्ठ नेता ने मंगलवार को यह जानकारी दी.

    राज्य में देवेंद्र फडणवीस Uddhav Thackeray नीत नवगठित भाजपा सरकार ने बहुमत साबित करने से पहले ही मंगलवार को इस्तीफा दे दिया. जिसके बाद शिवसेना (Shiv Sena) राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी से सरकार बनाने का न्यौता पाने की हकदार हो गई है. शिवसेना 56 सीटों के साथ विधानसभा में दूसरी सबसे बड़ी पार्टी है.

    शिवसेना नेता ने कहा, ‘‘उद्धव ठाकरे मुंबई के होटल में शाम को होने वाली बैठक में तीनों पार्टियों के संयुक्त नेता चुने जाएंगे, ताकि सरकार बनाने का दावा पेश किया जा सके. इसके बाद शिवसेना, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी(राकांपा) और कांग्रेस संयुक्त रूप से सरकार बनाने के लिए राज्यपाल के समक्ष संयुक्त पत्र सौंपेंगे.’’

    एनसीपी के एक वरिष्ठ नेता ने कहा कि तीनों पार्टियां-- शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस अधिकतर मुद्दों को सुलझा चुकी हैं. उन्होंने कहा, ‘‘मैं नहीं समझता कि तीनों पार्टियां सरकार बनाने का दावा पेश करने में और समय लेंगी.’’ विधान भवन के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि फडणवीस के इस्तीफे की घोषणा के बाद उच्चतम न्यायालय के आदेशानुसार बुधवार को सदन के पटल पर शक्तिपरीक्षण कराने की कोई जरूरत नहीं है.

    उन्होंने कहा, ‘‘इसके बजाय राज्यपाल दूसरी सबसे बड़ी पार्टी शिवसेना को सरकार बनाने का दावा पेश करने के लिए आमंत्रित करेंगे.’’ अधिकारी के मुताबिक इसके लिए राज्यपाल को शिवसेना, राकांपा और कांग्रेस के संयुक्त बयान और विधायकों के हस्ताक्षर वाली सूची की जरूरत होगी.

    किसके कितने विधायक
    शिवसेना के 56, राकांपा के 54 और कांग्रेस के 44 विधायकों की संयुक्त संख्या 154 होती है जबकि 288 सदस्यीय विधानसभा में बहुमत के लिए केवल 145 सदस्यों की जरूरत है.

    फडणवीस ने दिया इस्तीफा
    मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के तीन दिन बाद मंगलवार को देवेंद्र फडणवीस ने अपने इस्तीफे की घोषणा कर दी. उन्होंने कहा कि उप मुख्यमंत्री और राकांपा नेता अजित पवार के निजी कारणों से इस्तीफा देने के बाद भाजपा के पास सदन में बहुमत नहीं है.

    " isDesktop="true" id="2640283" >

    Tags: Devendra Fadnawis, Maharashtra, Shiv sena, Uddhav thackeray

    टॉप स्टोरीज
    अधिक पढ़ें