लाइव टीवी

CM बनते ही पत्रकार पर भड़के उद्धव, पूछा- सेक्युलर का मतलब जानते हैं आप?

News18Hindi
Updated: November 29, 2019, 8:31 AM IST
CM बनते ही पत्रकार पर भड़के उद्धव, पूछा- सेक्युलर का मतलब जानते हैं आप?
उद्धव ठाकरे कैबिनेट की पहली बैठक सहयाद्रि गेस्ट हाउस में हुई.

मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने सीएम पद की शपथ लेने के बाद की कैबिनेट की पहली बैठक में अहम फैसले लिए हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 29, 2019, 8:31 AM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेने के बाद उद्धव ठाकरे ने पहली कैबिनेट की बैठक की. इस बैठक के बाद ठाकरे ने सीएम के तौर पर अपने मंत्रियों के साथ पहली प्रेस कॉन्फ्रेंस भी की और सरकार के फैसलों के बारे में जानकारी दी. लेकिन, इस दौरान उद्धव एक पत्रकार के सवाल पर भड़क गए. पत्रकार ने उद्धव से पूछ लिया कि क्या शिवसेना सेक्युलर हो गई है. यह सुनते ही उद्धव भड़क गए और कहा कि सेक्युलर का क्या मतलब है? संविधान में जो कुछ है वो है. बाद में एनसीपी के विरिष्ठ नेता छगन भुजबल ने बात को संभालते हुए सीएम ठाकरे की तरफ से जवाब दिया.

इससे पहले सूबे के 19वें मुख्यमंत्री के रूप में शपथ लेने के बाद सह्याद्री गेस्ट हाउस में उद्धव ठाकरे ने कैबिनेट की पहली बैठक की. बैठक के बाद प्रेस कॉन्फ्रेंस में प्रदेश की जनता को भरोसा दिलाया कि वे महाराष्ट्र में अच्छी सरकार देंगे और किसानों की खुशहाली के लिए काम करेंगे. वे एक दो दिनों में किसानों के कल्याण की योजनाओं का ऐलान करेंगे.


शिवाजी किले का पुनरुद्धार करने के लिए 20 करोड़ का फंड
Loading...

डिप्टी सीएम के बारे में सवाल का उन्होंने जवाब नहीं दिया. उन्होंने रायगढ़ के शिवाजी किले का पुनरुद्धार करने के लिए 20 करोड़ रुपये का फंड जारी कर दिया है. सीएम उद्धव ठाकरे ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि, 'सरकार पर जनता का आशीर्वाद बना रहना चाहिए. हमारी सरकार आम जनता के लिए काम करेगी.' ठाकरे ने कहा कि बैठक में किसानों पर भी चर्चा हुई. मुख्य सचिव से किसानों को लेकर जानकारी मांगी गई है. उन्होंने कहा कि हमारी सरकार किसानों की खुशहाली के लिए काम करेगी.







जल्द होगा मंत्रिमंडल का विस्तार
सीएम उद्धव के साथ गुरूवार को कांग्रेस पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष बालासाहेब थोराट और कार्यकारी अध्यक्ष नितिन राउत को भी मंत्री पद की शपथ दिलाई गयी है. महाराष्ट्र कांग्रेस कोटे से शपथ लेने वाले थोराट मराठा समुदाय और राउत दलित समुदाय से आते हैं. माना जा रहा है कि अब बहुमत साबित करने के बाद उद्धव ठाकरे के नेतृत्व वाले मंत्रिमंडल का विस्तार होगा. शपथ ग्रहण समारोह में राकांपा प्रमुख शरद पवार एवं पार्टी नेता अजित पवार और सुप्रिया सुले, कांग्रेस के वरिष्ठ नेता अहमद पटेल, केसी वेणुगोपाल और मल्लिकार्जुन खड़गे, मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री कमलनाथ, मनसे प्रमुख राज ठाकरे, द्रमुक नेता एमके स्टालिन और कई अन्य नेता मौजूद थे.

उद्धव ठाकरे के साथ 6 मंत्रियों ने भी ली शपथ
इससे पहले शिवसेना प्रमुख उद्धव ठाकरे ने गुरुवार को महाराष्ट्र में शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के ‘महाराष्ट्र विकास अघाड़ी’ गठबंधन सरकार के मुख्यमंत्री के रूप में शपथ ली थी. उद्धव ठाकरे के साथ शिवसेना, एनसीपी और कांग्रेस के दो-दो मंत्रियों ने भी शपथ ली. जहां शिवसेना की ओर से एकनाथ शिंदे और सुभाष देसाई तो एनसीपी से जयंत पाटिल और छगन भुजबल ने भी मंत्री पद की शपथ ली. मुंबई के शिवाजी पार्क में राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी ने उन्हें पद और गोपनीयता की शपथ दिलाई. इस मौके पर तीनों दलों के वरिष्ठ नेता और हजारों कार्यकर्ता मौजूद थे.


चुनावों के नतीजे आने के 36 दिन बाद बनी है सरकार
शिवाजी पार्क में शपथ ग्रहण के लिए पहुंचने के बाद उद्धव ने सबसे पहले शिवाजी महाराज की मूर्ति को नमन किया. शपथ ग्रहण करने के तुरंत बाद उन्होंने मत्था टेककर जनता का अभिवादन किया और फिर समारोह में मौजूद सभी नेताओं का अभिवादन किया. उद्धव ठाकरे शिवसेना से मुख्यमंत्री बनने वाले तीसरे व्यक्ति हैं. विधानसभा चुनावों के नतीजे आने के 36 दिन बाद शिवसेना-एनसीपी-कांग्रेस की गठबंधन सरकार का गठन हुआ है.

 

ये भी पढ़ेंः संजय राउत का पूर्व CM फडणवीस पर तंज, विरोधी दल का नेता चुने जाने पर दी बधाई!


News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 28, 2019, 10:24 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...