मुंबई में लाखों ऑटो रिक्शा चालकों पर मंडरा रहा कैंसर का खतरा!

तंबाकू उत्पादों के सेवन की वजह से मुंबई के लाखों ऑटो चालकों पर कैंसर का खतरा मंडरा रहा है. इनमें बड़ी संख्या में ऑटो रिक्शाचालक यूपी-बिहार से हैं.

News18Hindi
Updated: May 15, 2019, 12:10 PM IST
मुंबई में लाखों ऑटो रिक्शा चालकों पर मंडरा रहा कैंसर का खतरा!
मुंबई में ऑटो रिक्शा चालकों पर मंडरा रहा कैंसर का खतरा
News18Hindi
Updated: May 15, 2019, 12:10 PM IST
तंबाकू उत्पादों के सेवन की वजह से मुंबई के लाखों ऑटो रिक्शाचालकों पर कैंसर का शिकार होने का खतरा मंडरा रहा है. इनमें बड़ी संख्या में ऑटो रिक्शाचालक यूपी, बिहार से हैं. मुंबई के कैंसर पेशेंट्स एड एसोसिएशन (सीपीएए) द्वारा ऑटो चालकों पर किए अध्ययन में यह बात सामने आई है. सीपीएए ने करीब 35 हजार ऑटो चालकों के मुंह के स्वास्थ्य की जांच में पाया कि इनमें से 45 फीसदी में कैंसर के खतरे के लक्षण उभर चुके हैं. मुंबई मेट्रोपोलिटन रीजन में आधिकारिक रूप से 3 लाख से ज्यादा ऑटो रिक्शाचालक हैं, जबकि अवैध रूप से चलने वाले ऑटोरिक्शा 4 लाख से अधिक हैं.

सीपीएए की एक्जीक्यूटिव डायरेक्टर अनीता पीटर ने कहा कि आने वाले सालों में यह बड़ा खतरा है. मुंबई में करीब 70 से 80 फीसदी ऑटोचालक उत्तर भारतीय हैं. ज्यादातर ऑटोचालक तंबाकू, गुटका या पान मसाला खाते हैं. इससे इनके मुंह में अक्सर छाले रहते हैं. कैंसर की शुरुआत से पहले मुंह के अंदर सफेद दाग पड़ जाते हैं, जिन्हें मेडिकल की भाषा में ल्यूकोप्लेकिया कहा जाता है.



इस स्टेज में तंबाकू उत्पादों का सेवन बंद नहीं किया तो खतरा बढ़ता जाता है. जो मुंह या गले के कैंसर के रूप में सामने आ सकता है. पीटर ने कहा कि सीपीएए इन ऑटोरिक्शा चालकों को तंबाकू का सेवन छोड़ने के लिए अभियान चलाएगा और उन्हें जागरूक बनाने के लिए मराठी के बजाय हिंदी में प्रचार करेगा. उन्होंने कहा कि ऑटोरिक्शा चालकों की जीवन परिस्थितियां बहुत अच्छी नहीं होती और वे तनाव की वजह के तंबाकू उत्पादों का सेवन करते हैं, लेकिन भविष्य में कैंसर जैसे जानलेवा खतरे को देखते हुए उन्हें यह छोड़ देना चाहिए.

ये भी पढ़ें -

वाराणसी से PM मोदी के खिलाफ निर्दलीय चुनाव लड़ रहे अतीक अहमद ने मैदान छोड़ा

आतंकियों को मारने के लिए क्या चुनाव आयोग से अनुमति लेंगे: PM

सुल्तानपुर में पहली बार किन्नरों ने डाला वोट, कहा...एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर

News18 चुनाव टूलबार

चुनाव टूलबार