लाइव टीवी

शिवसेना ने हमसे कोई बातचीत नहीं की, हमारे पास सरकार बनाने के लिए नंबर नहीं है: शरद पवार

News18Hindi
Updated: November 4, 2019, 7:45 PM IST
शिवसेना ने हमसे कोई बातचीत नहीं की, हमारे पास सरकार बनाने के लिए नंबर नहीं है: शरद पवार
शरद पवार ने आज शाम कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी से मुलाकात की है.

राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी सुप्रीमो (NCP Chief) शरद पवार (Sharad Pawar) ने कहा है कि अभी उनके पास सरकार बनाने के लिए पर्याप्त नंबर नहीं है. उनके मुताबिक बीजेपी-शिवसेना (BJP-Shiv Sena) को पूर्ण बहुमत हासिल हुआ है, सरकार बनाने की जम्मेदारी उन पर है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 4, 2019, 7:45 PM IST
  • Share this:
मुंबई. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी सुप्रीमो (NCP Chief) शरद पवार (Sharad Pawar) ने कहा है कि अभी उनके पास सरकार बनाने के लिए पर्याप्त नंबर नहीं है. उनके मुताबिक बीजेपी-शिवसेना (BJP-Shiv Sena) को पूर्ण बहुमत हासिल हुआ है, सरकार बनाने की जम्मेदारी उन पर है. जब उनसे पूछा गया कि क्या शिवसेना का सीएम बनाने के लिए एनसीपी समर्थन देगी. तो इसके जवाब में पवार ने कहा कि हमसे किसी ने अभी तक पूछा ही नहीं है. शिवसेना से अभी तक किसी ने हमसे बातचीत नहीं की है न ही हमारी तरफ से ऐसा कोई प्रस्ताव भेजा गया है.

जनता ने हमें विपक्ष में बैठने का नंबर दिया
शरद पवार ने सोमवार शाम कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी के साथ मीटिंग के बाद मीडिया के सामने साफ किया कि जनता की तरफ से उन्हें विपक्ष में बैठने का नंबर दिया गया है. उनके पास सरकार बनाने के लिए नंबर नहीं है. उन्होंने सोनिया के साथ मेरी मीटिंग में एके एंटनी भी मौजूद थे. मैंने महाराष्ट्र की राजनीतिक स्थिति उनके सामने साफ की.

 


Loading...



बीजेपी के खिलाफ बोल रही शिवसेना
पत्रकारों से बातचीत में शरद पवार ने कहा कि हम बीते कुछ दिनों से देख रहे हैं कि शिवसेना लगातार बीजेपी के खिलाफ लाइन ले रही है. शिवसेना के मुखपत्र सामना में लगातार बीजेपी के खिलाफ लिखा जा रहा है. साथ ही वो लगातार सीएम पद की भी मांग कर रहे हैं.

शरद पवार ने कहा कि जो कुछ शिवसेना के मुखपत्र में लिखा जा रहा है, उससे लग रहा है कि उन्हें सरकार में लीडरशिप चाहिए. हालांकि ये उनके गठबंधन के भीतर का मामला है. मैंने इस स्थिति के बारे में सोनिया गांधी को जानकारी दी. हमने तय किया है कि हम जल्द ही फिर मुलाकात करेंगे. उन्होंने कहा कि शिवसेना को समर्थन देने को लेकर हमारे बीच कोई चर्चा नहीं हुई.

राष्ट्रपति शासन पर क्या बोले पवार
जब शरद पवार से पूछा गया कि अब महाराष्ट्र में राष्ट्रपति शासन ही एक विकल्प है तो उन्होंने कहा बीजेपी-शिवसेना गठबंधन को बहुमत मिला है, उन्हें सरकार बनानी चाहिए. शरद पवार ने कहा-हालांकि बीजेपी-शिवसेना के बीच विवाद सिर्फ सीटों के तालमेल तक सीमित नहीं दिख रहा है.

गवर्नर से मिले संजय राउत
गौरतलब है कि सोमवार को ही शिवसेना के दो प्रमुख नेताओं ने राज्यपाल से मुलाकात की है. महाराष्ट्र में सीएम की कुर्सी को लेकर बीजेपी के साथ चल रही सियासी जंग के बीच शिवसेना नेता संजय राउत गवर्नर भगत सिंह कोश्यारी से मिले. उनके साथ पार्टी के वरिष्ठ नेता रामदास कदम भी थे. राज्यपाल से मिलने के बाद मीडिया से बात करते हुए संजय राउत ने कहा कि राज्यपाल से सरकार बनाने पर बात नहीं की. हमने राज्यपाल से महाराष्ट्र के हालातों पर चर्चा की.

सरकार बनाने में शिवसेना रोड़ा नहीं बनेगी. रविवार को संजय राउत ने कहा था कि हमारे पास 170 विधायकों का समर्थन है. उन्होंने कहा था कि वो दो दिन के भीतर महाराष्ट्र के राज्यपाल से मिलेंगे. हालांकि उन्होंने कहा था कि वो राज्यपाल से मिलकर आग्रह करेंगे कि सिंगल लारजेस्ट पार्टी बीजेपी को सरकार बनाने के लिए आमंत्रित किया जाए.
ये भी पढ़ें:

महाराष्ट्र गतिरोध: मराठी अखबार ने ‘बेताल’ से की संजय राउत की तुलना, कही ये बात

...तो क्या 1995 में महाजन और बाल ठाकरे के बीच तय फॉर्मूले पर ही सरकार बनेगी?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Mumbai से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 4, 2019, 6:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...