लाइव टीवी

महाराष्ट्र: अभी एक मंत्री ने दिया है इस्तीफा, कुछ दिनों में खुद ही गिर जाएगी सरकार: नितिन गडकरी
Nagpur News in Hindi

भाषा
Updated: January 6, 2020, 10:20 AM IST
महाराष्ट्र: अभी एक मंत्री ने दिया है इस्तीफा, कुछ दिनों में खुद ही गिर जाएगी सरकार: नितिन गडकरी
नितिन गडकरी ने कहा कि शिवसेना प्रमुख दिवंगत बाल ठाकरे अवैध बांग्लादेशी घुसपैठियों को मुंबई से बाहर का रास्ता दिखाना चाहते थे. (फाइल फोटो)

केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) में मंत्रालयों के आवंटन को लेकर तीनों दलों के बीच असहमति की खबरें हैं.

  • Share this:


नागपुर. महाराष्ट्र की सियासत में हो रही उथल पुथल को देखते हुए केंद्रीय मंत्री नितिन गडकरी (Nitin Gadkari) ने रविवार को तंज कसा. उन्होंने कहा कि शिवसेना, कांग्रेस और राकांपा (NCP) के बीच गठबंधन अस्वाभाविक है तथा महाराष्ट्र विकास आघाड़ी की सरकार खुद ही गिर जाएगी. भाजपा नेता ने यहां संवाददाताओं से बातचीत में यह भी दावा किया कि उद्धव ठाकरे नीत सरकार के एक मंत्री ने इस्तीफा दे दिया है. हालांकि, उन्होंने मंत्री का नाम नहीं बताया.


 केंद्रीय मंत्री ने कहा कि पिछले कुछ दिनों से महाराष्ट्र सरकार में मंत्रालयों के आवंटन को लेकर तीनों दलों के बीच असहमति की खबरें हैं. ऐसे में गठबंधन अस्वाभाविक है. उन्होंने कहा कि आज ही एक मंत्री ने इस्तीफा दे दिया है. कुछ दिनों में सरकार खुद ही गिर जाएगी, क्योंकि शिवसेना तथा कांग्रेस-राकांपा के बीच कोई वैचारिक समानता नहीं है.



मौजूदा सरकार इसके खिलाफ है
नितिन गडकरी ने इस संदर्भ में उदाहरण देते हुए कहा कि शिवसेना प्रमुख दिवंगत बाल ठाकरे अवैध बांग्लादेशी घुसपैठियों को मुंबई से बाहर का रास्ता दिखाना चाहते थे, लेकिन मौजूदा सरकार इसके खिलाफ है. वह जाहिर तौर पर नागरिकता संशोधन कानून को लेकर महाराष्ट्र के सत्तारूढ़ गठबंधन के कुछ हलकों से आ रहे विरोधी बयानों की ओर इशारा कर रहे थे.


शिवसेना प्रदर्शनों का समर्थन करती हैबता दें कि शिवसेना के राज्यसभा सांसद संजय राउत ने शनिवार को कहा था कि उनकी पार्टी संशोधित नागरिकता कानून के खिलाफ हो रहे प्रदर्शनों का समर्थन करती है. राउत ने कहा था कि महाराष्ट्र  देश के लिए एक ‘सबक’ है. ऐसे में किसी को भयभीत होने की जरूरत नहीं है. संजय राउत ने सीएए पर जमात-ए-इस्लामिक हिंद और एसोसिएशन फॉर प्रोटेक्शन ऑफ सिविल राइट्स द्वारा आयोजित एक बैठक के दौरान ये बातें कहीं. उन्होंने कहा कि मेरी पार्टी सीएए के खिलाफ चल रहे प्रदर्शनों के पक्ष में है.


हार को भाजपा नहीं पचा पा रही है
तब संजय राउत ने दावा किया कि महाराष्ट्र में हार को भाजपा अब भी नहीं पचा पा रही है. राउत ने कहा कि, 'वे अब तक दुख में हैं और हमें उन्हें और दुख देना चाहिए. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र ने देश को सबक दिया है कि डरो मत. उनका इशारा संभवत: भाजपा से संबंध तोड़कर राज्य में कांग्रेस और राकांपा के साथ मिलकर सरकार बनाने की तरफ था. उन्होंने कहा कि महाराष्ट्र ने देश को रास्ता दिखाया है. देश हमारा धर्म है. हम सबको एकजुट होना चाहिए और इसी से वे (भाजपा) डरे हुए हैं.’




ये भी पढ़ें- 


जेएनयू परिसर में नकाबपोशों ने छात्रों, शिक्षकों पर हमला किया, पुलिस बुलाई गई


शिक्षकों ने JNU की सुरक्षा पर उठाए सवाल, हमलावरों के साथ मिलीभगत का आरोप

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Nagpur से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 6, 2020, 7:43 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर