NCB-ANC की कार्रवाई से ड्रग्स तस्करों में मची खलबली, 21 दिनों में 40 करोड़ की ड्रग्स बरामद

सिर्फ फरवरी में अब तक करीब 40 करोड़ का ड्रग्स पकड़ा जा चुका है और 45 ड्रग्स पेडलर गिरफ्तार किए जा चुके हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

सिर्फ फरवरी में अब तक करीब 40 करोड़ का ड्रग्स पकड़ा जा चुका है और 45 ड्रग्स पेडलर गिरफ्तार किए जा चुके हैं. (सांकेतिक तस्वीर)

Mumbai Drugs Racket: मुंबई पुलिस के एंटी नारकोटिक्स सेल के डीसीपी दत्ता नलावाड़े ने बताया कि उनकी टीम लगातार कार्रवाई में जुटी हुई है. हमारा टारगेट ड्रग्स के जाल को ही खत्म करना है, क्योंकि इसकी चपेट में छोटे-छोटे बच्चे आ रहे हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 24, 2021, 6:14 PM IST
  • Share this:
मुंबई. मुंबई में फैले ड्रग्स के जाल (Mumbai Drug Racket) को खत्म करने के लिए एनसीबी (NCB) और मुंबई पुलिस (Mumbai Police) को एंटी नारकोटिक्स सेल (Anti Narcotics Sell) द्वारा लगातार की जा रही ताबड़तोड़ कार्रवाइयों ने ड्रग्स तस्करों में खलबली मचा दी है. एनसीबी और एएनसी की जुगलबंदी का अंदाजा इसी बात से लगाया जा सकता है कि सिर्फ फरवरी में अब तक करीब 40 करोड़ की ड्रग्स पकड़ी जा चुकी है और 45 ड्रग्स पैडलर गिरफ्तार किए जा चुके हैं. एनसीबी और एएनसी के आला अधिकारियों से मिली जानकारी के मुताबिक लगातार हो रहे एक्शन के चलते मायानगरी में ड्रग्स की सप्लाई करने वाले बड़ी संख्या ड्रग्स पैडलर या तो अंडरग्राउंड हो गए हैं या फिर चोरी-छिपे ड्रग्स की तस्करी कर रहे हैं.

एनसीबी की कार्रवाइयों की बात करें तो फरवरी के 21 दिनों में करीब 25 करोड़ की ड्रग्स पकड़ी गई है और 32 ड्रग्स पैडलरों को गिरफ्तार किया गया है. इतना ही नहीं, फरवरी महीने में 15 मामले भी दर्ज हुए हैं. एनसीबी के आंकड़े के मुताबिक फरवरी के पहले सप्ताह में सबसे बड़ी कार्रवाई की गई, जिसमें एनसीबी ने न सिर्फ दाऊद के बेहद करीबी आरिफ भुजवाला और चिंकू पठान को गिरफ्तार किया, बल्कि उनकी ड्रग्स फैक्ट्री को नष्ट करते हुए 12 करोड़ की एमडी ड्रग्स बरामद की.

ये भी पढ़ें- रेलवे ने बदला इन सभी ट्रेनों का रूट, सफर से पहले चेक कर लें ये लिस्ट!



दूसरी बड़ी कार्रवाई 18 फरवरी को मुंबई एयरपोर्ट पर की गई, जहां एनसीबी ने एक विदेशी महिला को 9 करोड़ की हेरोइन के साथ पकड़ा. तीसरी बड़ी कार्रवाई में एनसीबी ने मुंबई से इब्राहिम कासकर और आसिफ राजकोटवाला को गिरफ्तार करते हुए 2 करोड़ से ज्यादा की एमडी ड्रग्स बरामद की.
ड्रग्स के जाल को खत्म करने की कोशिश में एनसीबी
मुंबई एनसीबी के जॉइंट डायरेक्टर समीर वानखेड़े ने बताया कि एनसीबी का टारगेट मुंबई में फैले ड्रग्स के जाल को पूरी तरह से खत्म करना है और हमारी टीम इसी दिशा में काम कर रही है. यही वजह है कि हमने फरवरी के सिर्फ 21 दिनों में करीब 25 करोड़ की ड्रग्स बरामद की है. 16 मामले दर्ज करते हुए 32 ड्रग्स पैडलरों को गिरफ्तार किया गया है.

इस मामले में मुंबई पुलिस की एंटी नारकोटिक्स सेल भी पीछे नहीं रही और एनसीबी का साथ देते हुए फरवरी महीने में करीब 15 करोड़ की ड्रग्स बरामद करते हुए एक दर्जन से ज्यादा ड्रग्स तस्करों को सलाखों के पीछे पहुंचाया. एंटी नारकोटिक्स सेल द्वारा जारी किए गए आंकड़ों के मुताबिक फरवरी के पहले सप्ताह में एंटी नारकोटिक्स सेल ने एक बड़ी कार्रवाई करीब 4 करोड़ की एमडी ड्रग्स बरामद की. फरवरी के दूसरे सप्ताह के शुरुआत में ही एंटी नारकोटिक्स सेल ने 33 लाख रुपये की एमडी ड्रग्स फिर से पकड़ी. 19 फरवरी को बांद्रा में एक बड़ी कार्रवाई में एंटी नारकोटिक्स सेल ने करीब 64 लाख की हेरोइन को जब्त किया. 21 फरवरी को मलाड में एंटी नारकोटिक्स सेल ने 60 लाख रुपये की चरस बरामद करते हुए 3 ड्रग्स पैडलर्स को गिरफ्तार किया.

मुंबई पुलिस के एंटी नारकोटिक्स सेल के डीसीपी दत्ता नलावाड़े ने बताया कि उनकी टीम लगातार कार्रवाई में जुटी हुई है. हमारा टारगेट ड्रग्स के जाल को ही खत्म करना है, क्योंकि इसकी चपेट में छोटे-छोटे बच्चे आ रहे हैं.

सुशान्त सिंह राजपूत केस में ड्रग्स कनेक्शन सामने आने के बाद मुंबई में फैले ड्रग्स के गहरे जाल का पर्दाफाश हुआ था. इसी पर्दाफाश के बाद से इसी जाल को जड़ से खत्म करने में एनसीबी और एएनसी लगातार जुटी हुई हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज