अब शरद पवार बोले- 2014 में BJP ने शिवसेना के खिलाफ दिया था ऑफर, हमने नहीं खिलाया कमल

एनसीपी चीफ शरद पवार (PTI)
एनसीपी चीफ शरद पवार (PTI)

शरद पवार (Sharad Pawar) ने ये बातें कही. उन्होंने कहा, 'एनसीपी ने सरकार बनाने के लिए बीजेपी से कभी चर्चा नहीं की, शिवसेना को दूर करके हम सरकार बनाएं ये ऑफर बीजेपी का था, लेकिन अब ‘ठाकरे सरकार’ पांच साल तक चलेगी.'

  • News18Hindi
  • Last Updated: July 13, 2020, 12:25 PM IST
  • Share this:
मुंबई. मध्य प्रदेश की तर्ज पर अब राजस्थान में कांग्रेस सरकार पर संकट के बादल मंडरा रहे हैं. बीजेपी पर विधायकों को जोड़ने-तोड़ने के आरोप लग रहे हैं. इस बीच नेशनलिस्ट कांग्रेस पार्टी (NCP) के अध्यक्ष शरद पवार (Sharad Pawar) ने बीजेपी को लेकर बड़ा खुलासा किया है. पवार ने कहा कि बीजेपी ने साल 2014 में बगैर शिवसेना के महाराष्ट्र में सरकार बनाने के लिए एनसीपी को ऑफर दिया था, लेकिन उन्होंने महाराष्ट्र में बीजेपी का 'ऑपरेशन कमल' कामयाब नहीं होने दिया. शरद पवार ने दावा किया कि उद्धव ठाकरे  सरकार 5 साल का कार्यकाल जरूर पूरा करेगी.

शिवसेना के मुखपत्र 'सामना' को दिए गए इंटरव्यू में शरद पवार ने ये बातें कही. उन्होंने कहा, 'एनसीपी ने सरकार बनाने के लिए बीजेपी से कभी चर्चा नहीं की, शिवसेना को दूर करके हम सरकार बनाएं ये ऑफर बीजेपी का था, लेकिन अब ‘ठाकरे सरकार’ पांच साल तक चलेगी.' पवार ने कहा कि विरोधी विचारों की सरकारें अस्थिर करना सत्ता का दुरुपयोग है. ‘ऑपरेशन लोटस’ उसी का हिस्सा है, लेकिन महाराष्ट्र में ये नहीं चलेगा.

पवार ने देवेंद्र फडणवीस के सभी आरोपों को सिरे से खारिज कर दिया, जिसमें उन्होंने एनसीपी के साथ सरकार बनाने की कोशिश की बात कही थी. पवार ने कहा कि बीजेपी के साथ सरकार बनाने के लिए हमने कभी भी चर्चा नहीं की. ये प्रपोजल लेकर बीजेपी के नेता ही कई बार चर्चा के लिए आए थे. जिसे हर बार ठुकरा दिया गया था.





महाराष्ट्र में तीन दलों की सरकार
एनसीपी चीफ शरद पवार ने कहा कि महाराष्ट्र में तीन दलों की सरकार है. तीनों में संवाद जारी रहना महत्वपूर्ण है. मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने सहयोगियों से बातचीत जारी रखी तो कोई भी ऑपरेशन फेल साबित होगा.

महाराष्ट्र के लोगों ने परिवर्तन के लिए वोट किया
शरद पवार ने कहा, 'महाराष्ट्र के लोगों ने राष्ट्रीय चुनाव के दौरान देश में प्रबल होती भावनाओं के अनुरूप मतदान किया, लेकिन विधानसभा चुनाव के दौरान मिजाज बदल गया. भले ही बीजेपी ने लोकसभा चुनावों में अच्छा प्रदर्शन किया, लेकिन वह विभिन्न राज्यों के विधानसभा चुनाव में बुरी तरह विफल हुई. यहां तक कि महाराष्ट्र के लोगों ने भी परिवर्तन के लिए मतदान किया.'
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज