Sharad Pawar Health Update: शरद पवार के गॉलब्लैडर से देर रात निकाली गई पथरी, हालत स्थिर

शरद पवार अभी डॉक्टरों की निगरानी में हैं (PTI)

शरद पवार अभी डॉक्टरों की निगरानी में हैं (PTI)

शरद पवार (Sharad Pawar) को कुछ दिन से पेट में दर्द की शिकायत थी, जिसके बाद जानकारी हुई कि उनके गॉलब्लैडर (Gallbladder) में कुछ दिक्कत है इसलिए डॉक्टरों ने सर्जरी की बात कही थी. जांच के बाद एनसीपी प्रमुख की पहले से चल रही दवाएं रोक दी गई थीं. बीमार होने के बाद पवार के सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए गए.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 31, 2021, 5:43 PM IST
  • Share this:
मुंबई. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के मुखिया शरद पवार (Sharad Pawar Health Update) का मंगलवार देर रात मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में ऑपरेशन किया गया. डॉक्टरों ने गॉल ब्लैडर में फंसे स्टोन को सफलतापूर्वक बाहर निकाला. इस बात की जानकारी महाराष्ट्र के स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे और ऑपरेशन करने वाले डॉक्टर ने दी.

ऑपरेशन पूरा होने के बाद स्वास्थ्य मंत्री राजेश टोपे और डॉक्टर ने मीडिया से बात करते हुए कहा, 'एनसीपी प्रमुख शरद पवार का ऑपरेशन सफलतापूर्वक पूरा किया गया. अभी कुछ दिन वो डॉक्टरों की निगरानी में रहेंगे. फिलहाल उनकी हालत स्थिर बनी हुई है.'

महाराष्ट्र: संजय राउत ने अनिल देशमुख को बताया 'एक्सीडेंटल' गृह मंत्री, NCP ने किया पलटवार


Youtube Video


गैस्ट्रोएंट्रोलोजिस्ट और एंडोस्कोपी विशेषज्ञ डॉक्टर अमित मेयदेव ने बताया, 'पवार के पेट में कई पथरियां हैं. एक पथरी गॉलब्लैडर में चली गई, जिससे प्रवाह रुक रहा था. इससे उनके पेट में, पीठ में तेज दर्द हुआ और पीलिया की शिकायत हुई. डॉक्टर ने कहा कि एंडोस्कोपी कर पथरी निकाल दी गई है. उन्होंने कहा, 'इसके बेहतर नतीजे आए हैं. उनकी हालत में सुधार हो रहा है.’डॉक्टरों के मुताबिक, शरद पवार अभी तीन से चार दिन अस्पताल में ही रहेंगे.

शरद पवार को कुछ दिन से पेट में दर्द की शिकायत थी, जिसके बाद जानकारी हुई कि उनके गॉलब्लैडर में कुछ दिक्कत है, इसलिए डॉक्टरों ने सर्जरी की बात कही थी. जांच के बाद एनसीपी प्रमुख की पहले से चल रही दवाएं रोक दी गई थीं. बीमार होने के बाद पवार के सभी कार्यक्रम रद्द कर दिए गए.



डॉक्टरों ने ऑपरेशन के लिए 31 मार्च का समय दिया था, लेकिन मंगलवार को पेट में दर्द के बाद उन्हें पूर्व निर्धारित ऑपरेशन से एक दिन पहले अस्पताल में भर्ती कराया गया और फिर देर रात डॉक्टरों ने उनका ऑपरेशन किया.

महाराष्ट्र सरकार में तेज हुई जुबानी जंग, पवार बोले- किसी को भी स्थिति नहीं बिगाड़नी चाहिए

ऑपरेशन के बाद डॉक्टर ने बताया कि भविष्य में अगर लगता है कि उन्हें इस ऑपरेशन से आराम नहीं मिला, तो आगे उनकी हालत को देखते हुए गॉलब्लैडर का भी ऑपरेशन किया जा सकता है. (एजेंसी इनपुट के साथ)
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज