महाराष्‍ट्र सरकार की स्टेयरिंग वाले बयान पर क्‍या अजित पवार ने उद्धव को किया ट्रोल?
Mumbai News in Hindi

महाराष्‍ट्र सरकार की स्टेयरिंग वाले बयान पर क्‍या अजित पवार ने उद्धव को किया ट्रोल?
अजित पवार की ओर से अपलोड की गई इस फोटो पर उठ रहे सवाल.

उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने कहा था, 'मेरी सरकार का भविष्य विपक्ष के हाथ में नहीं है. स्टेयरिंग मेरे हाथ में है. तीन पहिये (ऑटो-रिक्शा) वाला वाहन गरीब लोगों का है. बाकी के दो पीछे बैठे हैं.'

  • Share this:
नई दिल्‍ली. महाराष्ट्र (Maharashtra) के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) ने हाल ही में विपक्ष को उनकी सरकार गिराने की चुनौती दी थी और कहा था कि यह 'तीन पहिये' की सरकार है लेकिन इसका स्टेयरिंग उन्होंने अच्छी तरह संभाल रखा है. वहीं उद्धव ठाकरे का सोमवार को जन्‍मदिन है. उन्‍हें पीएम मोदी समेत तमाम नेताओं ने बधाई दी. इनमें महाराष्‍ट्र के उप मुख्‍यमंत्री अजित पवार भी शामिल हैं. लेकिन अजित पवार ने ट्विटर पर बधाई के साथ जो फोटो अपलोड की, उसे उद्धव के स्‍टेयरिंग वाले बयान से जोड़कर देखा जा रहा है. वहीं एनसीपी ने इस संबंध में साफ किया है कि अजि पवार की ओर से उद्धव की कोई ट्रोलिंग नहीं की गई है. रिपोर्ट के अनुसार एनसीपी का कहना है कि यह सिर्फ एक साधारण सी जन्‍मदिन की बधाई थी.

बता दें कि शिवसेना अध्यक्ष ठाकरे ने कहा था कि उनके गठबंधन सहयोगी राकांपा और कांग्रेस 'सकारात्मक' हैं और महा विकास अघाड़ी (एमवीए) सरकार को उनके अनुभव का फायदा मिल रहा है. उन्होंने केंद्र की महत्वाकांक्षी मुंबई-अहमदाबाद बुलेट ट्रेन परियोजना पर भी निशाना साधते हुए कहा था कि वह इसके बजाय मुंबई और नागपुर के बीच इस तरह के तेज गति वाले रेल संपर्क को प्राथमिकता देंगे.






ठाकरे ने सोमवार को अपने 60वें जन्मदिन के मद्देनजर रविवार को शिवसेना के मुखपत्र ‘सामना’ में प्रकाशित अपने साक्षात्कार के दूसरे और अंतिम भाग में कहा था, 'मेरी सरकार का भविष्य विपक्ष के हाथ में नहीं है. स्टेयरिंग मेरे हाथ में है. तीन पहिये (ऑटो-रिक्शा) वाला वाहन गरीब लोगों का है. बाकी के दो पीछे बैठे हैं.'

उन्होंने कहा था, 'सितंबर-अक्टूबर का इंतजार क्यों करना जैसा कि अटकलें लगाई जा रही हैं. जिस किसी को भी मेरी सरकार गिरानी है वह आज ही गिराए. कुछ लोगों को बनाने में खुशी मिलती है जबकि कुछ को गिराने में खुशी मिलती है. अगर आपको बिगाड़ने में आनंद मिलता है तो ऐसा ही करिए.'

मुख्यमंत्री ने पूछा, 'आप कहते हैं कि एमवीए सरकार लोकतांत्रिक सिद्धांतों के खिलाफ बनी लेकिन जब आप उसे गिराते हो तब क्या यह लोकतंत्र है?' एक सवाल पर ठाकरे ने कहा कि उन्होंने पाला नहीं बदला था बल्कि एक गठबंधन किया था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading