लेटर बम: अनिल देशमुख ने की सीएम उद्धव से बात, NCP के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल बोले- गृहमंत्री नहीं देंगे इस्तीफा

अनिल देशमुख

अनिल देशमुख

Parambir Singh Letter News: मुंबई पुलिस के पूर्व कमिश्नर परमबीर सिंह ने दावा किया है कि अनिल देशमुख ने सचिन वाजे को उगाही करके हर महीने 100 करोड़ रुपये देने का टारगेट दिया था. परमबीर सिंह की चिट्ठी पर विपक्ष के नेता देवेंद्र फडणवीस ने गृह मंत्री से इस्तीफा मांगा है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 21, 2021, 10:56 AM IST
  • Share this:
मुंबई. NCP के प्रदेश अध्यक्ष जयंत पाटिल ने कहा है कि महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख (Anil Deshmukh) इस्तीफा नहीं देंगे. उन्होंने कहा है कि किसी को खुश करने के लिए मुंबई के पूर्व पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने चिट्ठी लिखी है. पाटिल ने ये भी कहा है कि सचिन वाजे को शिवसेना से जोड़ना गलत होगा. बता दें कि परमबीर सिंह (Parambir Singh Letter News) ने देशमुख पर बड़ा आरोप लगाया है. उन्होंने महाराष्ट्र के राज्यपाल भगत सिंह कोश्यारी और सीएम उद्धव ठाकरे को चिट्ठी में लिखी है कि सचिन वाजे ने उन्‍हें बताया था कि अनिल देशमुख ने उनसे हर महीने 100 करोड़ रुपये वसूलने को कहा था. पूर्व पुलिस कमिश्नर के इस बयान के बाद राज्‍य की सियासत गरमा गई है.

इस बीच परमबीर सिंह की चिट्ठी के बाद एनसीपी अध्यक्ष शरद पवार से महाराष्ट्र के गृह मंत्री अनिल देशमुख ने फोन पर बातचीत की है. कहा जा रहा है कि दोनों के बीच लंबी बातचीत हुई और इस दौरान देशमुख ने पवार के सामने अपना पक्ष रखा. देशमुख ने सीएम उद्धव ठाकरे से भी बात की है और उनके सामने भी अपना पक्ष रखा है साथ ही इस मामले में जांच करने के लिए अनुरोध किया है.

इस्तीफा दें देशमुख
इस बीच बीजेपी नेता राम कदम ने सवाल उठाया है कि आखिर क्यों सचिन वाजे अपनी गाड़ी में कैश काउंटिंग मशीन ले कर घूमता था. उन्होंने कहा, 'गृहमंत्री को नार्को टेस्ट कराते हुए तुरंत इस्तीफा देना चाहिए और जब तक वो ऐसा नहीं करते तब तक हमारा विरोध जारी रहेगा. हम किसी का पक्ष नही ले रहे हैं. लेकिन परमबीर सिंह ने जो खुलासा किया है उसकी जांच होनी ही चाहिए. अगर परमबीर को वाजे के ऐसा करने को जानकारी थी तो उनसे भी पूछताछ होनी चाहिए.'




बार और पब से वसूली करने के लिए कहा

परमबीर सिंह ने अपनी चिट्ठी में लिखा है कि 100 करोड़ रुपये टारगेट को पूरा करने के लिए मुंबई के बार, पब और रेस्टोरेंट से वसूली करने को कहा गया था. चिट्ठी के मुताबिक, इस टारगेट पर सचिन वाजे ने कहा था कि वो 40 करोड़ रुपये तो पूरा कर सकते हैं लेकिन 100 करोड़ बहुत ज्यादा है. परमबीर सिंह ने दावा किया कि 100 करोड़ का टारगेट पूरा करने के लिए अनिल देशमुख ने सचिन वाजे को दूसरे तरीके इजाद करने के लिए कहा था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज