अपना शहर चुनें

States

मुंबई के शहरी इलाकों में आज से नाइट कर्फ्यू, 15 दिन ज्यादा सतर्क रहने के आदेश

महाराष्ट्र में मंगलवार से नाइट कर्फ्यू लगाया जाएगा (सांकेतिक तस्वीर)
महाराष्ट्र में मंगलवार से नाइट कर्फ्यू लगाया जाएगा (सांकेतिक तस्वीर)

Night Curfew in Mumbai: महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) के आदेश के मुताबिक यूरोप (Europe) से आने वाले लोगों को क्वारंटाइन सेंटर (Quarantine Centre) में रखा जाएगा जबकि दूसरे देश के लोगों को घर पर होम क्वारंटाइन किया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: December 22, 2020, 1:15 AM IST
  • Share this:
मुंबई. क्रिसमस और न्‍यू ईयर को देखते हुए महाराष्ट्र सरकार (Maharashtra Government) ने राज्य के नगर निगम क्षेत्रों में 22 दिसम्बर से पांच जनवरी तक रात 11 बजे से सुबह छह बजे तक रात्रिकालीन कर्फ्यू (Night Curfew) की घोषणा की है. मुंबई के लोगों को 15 दिन ज्यादा सतर्क रहने के आदेश दिए गए हैं. इसके अलावा ब्रिटेन में कोरोना वायरस का नया स्ट्रेन पाए जाने की खबर के बाद महाराष्ट्र सरकार विशेष एहतियात बरत रही है. महाराष्ट्र सरकार के आदेश के मुताबिक यूरोप से महाराष्ट्र में आने वाले लोगों को 14 दिनों के लिये संस्थागत पृथक-वास में भेजा जायेगा. जबकि दूसरे देश के लोगों को घर पर होम क्वारंटाइन किया जाएगा.

इस आदेश के एक दिन पहले ही महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे ने कहा था कि राज्य में स्थिति काबू में है और उनकी सरकार की नाइट कर्फ्यू या फिर लॉकडाउन लगाने की कोई योजना नहीं है. ठाकरे ने राज्य की जनता को सोशल मीडिया के जरिये संबोधित करते हुए कहा कि विशेषज्ञ फिर से रात का कर्फ्यू या दूसरा लॉकडाउन लागू करने के पक्ष में हैं, लेकिन वह (ठाकरे) इस तरह के कदम उठाने के समर्थन में नहीं हैं. ठाकरे से कहा था कि अगले छह महीने के लिए मास्क पहनना अनिवार्य होगा.

ये भी पढ़ें- खुशखबरी! एक लाख से ज्‍यादा रेल कर्मचारियों को जल्‍द मिल सकता है बकाया भत्‍ता



मास्क पहनना जरूरी
मुख्यमंत्री ने लोगों से नववर्ष के उत्सव के दौरान सतर्क रहने की अपील की. उन्होंने कहा कि राज्य में कोरोना वायरस संक्रमण के प्रसार को पूरी तरह से काबू नहीं किया जा सका है, फिर भी स्थिति नियंत्रण में है. ठाकरे ने कहा, 'इलाज से बेहतर बचाव है. कम से कम अगले छह महीने तक सार्वजनिक स्थानों पर मास्क पहनने की आदत डाल लेनी चाहिए.' उन्होंने कहा कि जो लोग सुरक्षा नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं उन्हें समझना चाहिए कि वे कानून का पालन कर रहे लोगों की जिंदगी खतरे में डाल रहे हैं.

पटरी पर लौट रहा जीवन
नववर्ष के जश्न के दौरान लोगों से सतर्क रहने की अपील करते हुए ठाकरे ने कहा कि यूरोप में कोरोना वायरस के एक नए स्वरूप (स्ट्रेन) की खोज हुई है, जिस वजह से कई देशों में लॉकडाउन लागू किया गया है क्योंकि और कोई विकल्प नहीं था.

मुख्यमंत्री ने कहा कि धीरे-धीरे राज्य में जनजीवन वापस पटरी पर लौट रहा है, लेकिन स्कूलों को फिर से खोले जाने में समस्या है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज