Home /News /maharashtra /

बॉलीवुड को टारगेट करना मकसद नहीं, ड्रग्स सिंडिकेट को ध्वस्त करना है एजेंडाः समीर वानखेड़े

बॉलीवुड को टारगेट करना मकसद नहीं, ड्रग्स सिंडिकेट को ध्वस्त करना है एजेंडाः समीर वानखेड़े

ड्रग्स के खिलाफ एनसीबी की कार्रवाई का चेहरा जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े हैं.

ड्रग्स के खिलाफ एनसीबी की कार्रवाई का चेहरा जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े हैं.

NCB के जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े (Sameer Wankhede) ने कहा- बॉलीवुड को शर्मसार करना हमारा एजेंडा नहीं है, लेकिन कोई भी कानून का उल्लंघन करेगा तो उसे बख्शा नहीं जाएगा.

    मुंबई. मुंबई तट पर क्रूज शिप से प्रतिबंधित ड्रग के पकड़े जाने के हाई प्रोफाइल मामले ने एक बार फिर से नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो (NCB) को सुर्खियों में ला दिया है. हालांकि एनसीबी (NCB) पर बॉलीवुड (Bollywood) को टारगेट करने के आरोप भी लगे हैं, क्योंकि फिल्म अभिनेता सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की मौत के बाद एनसीबी ने फिल्म इंडस्ट्री में ड्रग्स नेटवर्क की काफी जांच पड़ताल की थी.

    कोर्डेलिया क्रूज कंपनी (Cordelia Cruises company) के गोवा (Goa) जाने वाले जहाज पर शनिवार की छापेमारी के दौरान आर्यन खान (Aryan Khan) के पास से कोई ड्रग्स नहीं मिला था. ऐसे में सुपरस्टार शाहरुख खान (Shahrukh Khan) के बेटे आर्यन खान की गिरफ्तारी और बाद में तीन दिन की हिरासत पर विशेष रूप से सवाल उठाए जा रहे हैं. एनसीबी ने बाकी दो आरोपियों अरबाज मर्चेंट (Arbaaz Merchant) और मुनमुन धमेचा (Munmun Dhamecha) के पास से 11 ग्राम चरस बरामद की थी. तीनों की जमानत याचिका सोमवार को खारिज कर दी गई.

    सितंबर 2020 के बाद से एनसीबी ने नारकोटिक ड्रग्स एंड साइकोट्रोपिक सब्सटैंस (एनडीपीएस) एक्ट के तहत कुल 114 मामले दर्ज किए हैं और 300 से ज्यादा लोगों को गिरफ्तार किया है. इनमें 34 विदेशी नागरिक हैं और कुछ लोग बॉलीवुड से भी जुड़े हुए हैं. पूरे प्रकरण में एनसीबी ने मुंबई और आसपास के इलाकों मसलन नवी मुंबई, थाणे और महाराष्ट्र के अन्य हिस्सों से 150 करोड़ से ज्यादा की ड्रग बरामद की है.

    ड्रग्स के खिलाफ एनसीबी की कार्रवाई का चेहरा जोनल डायरेक्टर समीर वानखेड़े हैं और उन्होंने इन आरोपों को खारिज किया है कि एजेंसी खासतौर पर बॉलीवुड को टारगेट कर रही है. वानखेड़े ने कहा, ‘एनसीबी का मुख्य एजेंडा ड्रग्स के संगठित नेटवर्क को तोड़ना है. हम इसी दिशा में बढ़ रहे हैं. मुंबई में हमने 12 सिंडिकेट को ध्वस्त किया है. बड़ी मात्रा में ड्रग्स भी बरामद की गई है. ये आकर्षक लेकिन अवैध धंधा है. हमने पाया है कि इस धंधे में विदेशी भी शामिल हैं. इनकी पहचान के लिए हमने विशेष अभियान चला रखा है.’

    उन्होंने कहा कि बॉलीवुड को शर्मसार करना हमारा एजेंडा नहीं है, लेकिन कोई भी कानून का उल्लंघन करेगा तो उसे बख्शा नहीं जाएगा. वानखेड़े ने कहा, ‘मैं खासतौर पर एक केस का जिक्र करना चाहूंगा. लेकिन सभी केस महत्वपूर्ण हैं. हमारे लिए सभी पहलू अहमियत रखते हैं. इनमें वित्तीय पहलू भी है. हम तस्करों तक पहुंचने के लिए कार्रवाई कर रहे हैं. हमें पता चला है कि ये समस्या मुंबई और गोवा अपनी जड़ें जमा चुकी है. हम खुशकिस्मत हैं कि हमें एनसीबी के लिए काम करना का मौका मिला है. ये राष्ट्रसेवा है और इस मुद्दे का राष्ट्रीय महत्व है. हम आखिरी दम तक लड़ेंगे.’

    वानखेड़े की अगुवाई में एनसीबी ने काफी मेहनत की है और जमीन पर इसका असर दिखता भी है. पिछले 22 महीनों में 100 किलो से ज्यादा की ड्रग्स बरामद की गई है. इसमें 30 किलोग्राम चरस, 12 किलोग्राम हेरोइन, 2 किलोग्राम कोकीन, 350 किलोग्राम गांजा, 60 किलोग्राम फेड्रिन (ephedrine) और 25 किलोग्राम एमडी (mephedrone) मुंबई और आसपास के इलाकों से जब्त की गई है. औसत रूप से नारकोटिक्स ब्यूरो मुंबई में हर महीने 12 से 15 छापेमारी की कार्रवाई को अंजाम देती है.

    एनसीबी अधिकारी ने कहा, ‘ड्रग्स की खपत में हमने बदलाव देखा है. मुंबई और गोवा जैसी जगहों पर हमने पाया है कि एमडी की खपत खतरनाक स्तर तक पहुंच गई है. हमारी लड़ाई इससे है. बहुत सारे विदेशी कार्टेल बन गए हैं और ये लोग बहुत खतरनाक हैं. छापेमारी के दौरान काफी घटनाएं हुई हैं. हम अपना नेटवर्क एक्टिव रखे हुए हैं और जानकारी मिलने पर किसी भी तरह के नेटवर्क को ध्वस्त कर देंगे.’

    Tags: Arbaaz Merchant, Aryan Khan, Bollywood, Cordelia Cruises company, Goa, Munmun Dhamecha, NCB, Sameer Wankhede, Shahrukh khan, Sushant singh Rajput, आर्यन खान, एनसीबी, गोवा, ड्रग्स, मुंबई, शाहरुख खान, समीर वानखेड़े

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर