शक्ति मिल गैंगरेप का एक आरोपी गंभीर अपराधों में फिर से जेल की सलाखों के पीछे, बना लिया अपना गैंग

Mumbai police की गिरफ्त में आकाश और अंकित (तस्वीर- News18)

Mumbai police की गिरफ्त में आकाश और अंकित (तस्वीर- News18)

28 फरवरी के दिन बांद्रा में एक रिज़वान कुरैशी नाम के शख्स पर आकाश और अंकित ने चाकुओं से हमला करके गंभीर रूप से घायल कर दिया था.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 4, 2021, 12:51 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र (Maharashtra) स्थित मुंबई (Mumbai) के शक्ति मिल गैंगरेप (Shakti Mill Gangrape) के आरोपियों में से एक को मुंबई क्राइम ब्रांच ने हत्या, हत्या की कोशिश, धमकी, फिरौती आदि जैसे गंभीर अपराधों में शामिल होने पर दुबारा से गिरफ्तार किया. अभियुक्त की पहचान आकाश जाधव (25) के तौर पर की गयी है. क्राइम ब्रांच के द्वारा गिरफ्तार किये गए दूसरे आरोपी की पहचान अंकित नायक ( 25) की गयी है.

अभी हाल में 28 फरवरी के दिन बांद्रा में एक रिज़वान कुरैशी नाम के शख्स पर आकाश और अंकित ने चाकुओं से हमला करके गंभीर रूप से घायल कर दिया था. कुरैशी अभी अस्पताल में रहकर स्वास्थ्य लाभ कर रहे हैं. मुंबई क्राइम ब्रांच के डीसीपी अकबर पठान ने कहा, 'हमें सूचना मिली थी कि एक गैंग काम कर रह है और लोगों में डर का माहौल पैदा कर रहा है. हमें यह भी पता चला कि अभियुक्तों का पहले भी आपराधिक रिकॉर्ड रहा है. हमनें उन्हें पकड़ने के लिए जाल बिछाया और उनमें से दो को धर दबोचा.'

क्राइम ब्रांच की यूनिट 9 में सीनियर पुलिस इंस्पेक्टर नंदकुमार गोपाल के अनुसार आरोपी समाज में आतंक और भय उत्पन्न करने की कोशिश कर रहे थे. वह पहले से कई गंभीर अपराधों में संलिप्त रहे हैं और कई आपराधिक मामले उनके खिलाफ दर्ज़ हैं. इस गैंग का सरगना आकाश है. क्राइम ब्रांच के अधिकारियों के अनुसार शक्ति मिल गैंगरेप केस में आकाश एक किशोर आरोपी था.



आकाश ने अपना गैंग बनाया
साल 2013 में एक 22 वर्षीय फोटो जर्नलिस्ट अपने पुरुष सहकर्मियों के साथ एक असाइनमेंट पर शक्ति मिल के अंदर की तसवीरें लेने के लिए गयी थी. पांच आरोपी जो पहले से ही मिल के अंदर मौजूद थे, पुरुष सहकर्मियों को रस्सी की मदद से बांध दिया और बारी-बारी से महिला के साथ रेप किया. उनमें से एक आरोपी किशोर था. क्योंकि वह आरोपी वयस्क नहीं था उसे सुधार के लिए रिमांड पर भेजा गया और वह कुछ सालों में बाहर आ गया.

इस किशोर आरोपी की पहचान आकाश के तौर पर की गयी है. सुधार गृह से वापस आने के बाद आकाश ने अपना गैंग बनाया. पुलिस अधिकारियों के अनुसार आकाश का गैंग काफी खतरनाक था. आकाश और उसके गैंग ने हत्या, हत्या का प्रयास, गंभीर चोट पहुँचाना, फिरौती और भी कई गंभीर अपराध किये हैं. आकाश और उसके दोस्त अंकित के खिलाफ मुंबई के कई थानों में गंभीर आपराधिक मामले दर्ज़ हैं. पुलिस इस मामले में आगे छान बीन कर रही है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज