महाराष्ट्र में बाढ़ जैसे हालात, प्रधानमंत्री ने CM ठाकरे से बात कर दिया हर संभव मदद का भरोसा

पीएम मोदी ने उद्धव ठाकरे से फोन पर बात की. (File photo- ANI)

Mumbai Rains: मुंबई में बुधवार को रुक-रुककर भारी बारिश हुई, हालांकि इससे रेल एवं सड़क यातायात प्रभावित नहीं हुआ. नगर निकाय अधिकारियों ने यह जानकारी दी.

  • Share this:
    मुंबई. महाराष्ट्र के कई हिस्सों में लगातार हो रही भारी बारिश के चलते हालात बेहद खराब हो गए हैं. राज्य में बाढ़ की स्थिति बनी हुई है. इस संबंध में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी (PM Narendra Modi) राज्य के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे (CM Uddhav Thackeray) से फोन पर बातचीत की. प्रधानमंत्री ने राज्य में बारिश से मची तबाही को लेकर चर्चा की. साथ ही उन्होंने ठाकरे को केंद्र सरकार की ओर से हर संभव मदद देने का आश्वासन भी दिया. इसके साथ ही प्रधानमंत्री ने सभी की सुरक्षा और अच्छी सेहत की कामना भी की.

    मुंबई में बुधवार को रुक-रुककर भारी बारिश हुई, हालांकि इससे रेल एवं सड़क यातायात प्रभावित नहीं हुआ. नगर निकाय अधिकारियों ने यह जानकारी दी. रेलवे के प्रवक्ता ने बताया कि ठाणे जिले में उम्बेरमाली और कसारा स्टेशनों के बीच पानी जमा होने के कारण रात को सवा दस बजे से मध्य रेलवे के खारदी और इगतपुरी स्टेशनों के बीच रेल सेवा निलंबित करनी पड़ी.



    ये भी पढ़ें- हल्द्वानी जेल में बंद 16 कैदी निकले HIV पॉजिटिव, जेल प्रशासन में मचा हड़कंप

    मध्य रेलवे के मुख्य प्रवक्ता शिवाजी सुतार ने बताया कि लंबी दूरी की रेलगाड़ियों में पुणे-दरभंगा स्पेशल और सीएसएमटी-वाराणसी स्पेशल का समय बदलना पड़ा. मंगलवार रात से बुधवार रात दस बजे तक कसारा में 207 मिलीमीटर (मिमी) बारिश हुई जिसमें से 45 मिमी बीते एक घंटे में हुई.

    रात में फिर तेज हुई बारिश
    बृहन्मुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) के अधिकारियों ने बताया कि मुंबई में बुधवार को सुबह आठ बजे के बाद दस घंटे के भीतर 68.72 मिलीमीटर बारिश दर्ज की गई जबकि पूर्वी और पश्चिमी उपनगरों में 58.75 मिमी और 58.24 मिमी बारिश दर्ज की गयी. दोपहर में बारिश कुछ कम हुई थी लेकिन रात में फिर से तेज हो गई.

    भारत मौसम विज्ञान विभाग ने बुधवार को मुंबई के लिए ‘रेडअलर्ट’ जारी किया था जो दिखाता है कि यहां भारी से बहुत भारी बारिश हो सकती है.

    पिछले हफ्ते से हो रही भारी बारिश की वजह से मुंबई महानगर को जलापूर्ति करने वाली दो झीलें- तनसा और मोदक सागर- जलसंग्रह क्षेत्र में गुरुवार को भर गईं. बृह्नमुंबई महानगरपालिका (बीएमसी) ने बताया कि इसके साथ ही शहर को पेयजल की आपूर्ति करने वाली चार झीलें लबालब हैं. नगर निकाय के मुताबिक मोदक सागर तड़के 3 बजकर 24 मिनट पर जबकि तनसा 5.48 बजे भरी. इसके बाद मोदक सागर बांद के दो और तनसा बांध का एक दरवाजा खोल दिया गया.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.