PMC Scam: बैंक में फंसे 90 लाख रुपये, खाताधारक की हुई हार्ट अटैक से मौत
Mumbai News in Hindi

PMC Scam: बैंक में फंसे 90 लाख रुपये, खाताधारक की हुई हार्ट अटैक से मौत
संजय गुलाटी के परिवार ने बताया कि संजय गुलाटी को व्यापार के लिए रुपयों की जरूरत थी और इसी के चलते वे कई दिनों से परेशान चल रहे थे.

परिजन ने कहा- व्यापार (Business) में रुपयों की जरूरत के चलते अवसाद (Dipression) में थे, सोमवार को बैंक (Bank) के खिलाफ हुए प्रदर्शन में भी हुए थे शामिल.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 15, 2019, 10:48 AM IST
  • Share this:
मुंबई. पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक (PMC) घोटाले (Scam) के बाद पीड़िता खाताधारकों (Account holder) के परेशान होने या फिर अपने गहने बेच कर घर चलाने जैसी खबरें तो आ रही थीं लेकिन अब एक खाताधारक की दिल का दौरा (Heart Attack) पड़ने से मौत हो गई है. मृतक की पहचान 51 साल के संजय गुलाटी के तौर पर हुई है. बताया जा रहा है कि संजय के खाते में 90 लाख रुपये जमा थे.

प्राप्त जानकारी के मुताबिक, संजय सोमवार को निवेशकों के साथ एक रैली में शामिल हुए थे, जहां उन्होंने निवेशकों को अपने पैसों की खातिर रोता-गिड़गिड़ाता देखा. लोगों का यह हाल देखने के बाद जब वह घर लौटे तो काफी बेचैन थे, जिसके कुछ देर बाद उनकी मौत हो गई.





व्यापार में जरूरत थी रुपयों की
संजय गुलाटी के अलावा उनके 80 वर्षीय पिता सीएल गुलाटी, 75 वर्षीय मां वर्षा गुलाटी तथा 46 वर्षीय पत्नी बिंदु गुलाटी के बैंक अकाउंट भी पीएमसी बैंक में थे. परिवार ने बताया कि संजय गुलाटी को व्यापार के लिए रुपयों की जरूरत थी और इसी के चलते वे कई दिनों से परेशान चल रहे थे. उनको दिनों दिन घाटे का सामना करना पड़ रहा था और इसी के चलते वह अवसाद में थे. सोमवार रात को उन्हें दिल का दौरा पड़ा और मौत हो गई. उनके परिजन ने कहा कि उनकी मौत के लिए पीएमसी पूरी तरह से जिम्मेदार है.

एक दिन पहले ही आरबीआई ने बढ़ाई थी लिमिट
भारतीय रिजर्व बैंक ने पंजाब एंड महाराष्ट्र को-ऑपरेटिव बैंक के खाताधारकों को सोमवार को कुछ राहत भी दी थी. आरबीआई ने पीएमसी बैंक से पैसे निकासी की सीमा को 25,000 रुपये से बढ़ाकर 40,000 रुपये कर दिया था. बता दें कि यह तीसरी बार हुआ है जब आरबीआई ने पीएमसी बैंक से पैसे निकासी की सीमा को बढ़ाया है.

तीसरी बार बढ़ाई लिमिट
रिजर्व बैंक ने 3 अक्टूबर को PMC बैंक के ग्राहकों के लिए कैश निकालने की सीमा 10,000 रुपये से बढ़ाकर 25,000 रुपये कर दी थी. अभी इस बैंक के ग्राहक अपने खातों से 40,000 रुपये तक निकाल सकते हैं जबकि पहले वे 25,000 रुपये ही निकाल सकते थे. एक वरिष्ठ अधिकारी के मुताबिक डिपॉजिटर्स के हित और बैंक का रिवाइवल पहली प्राथमिकता है.
ये भी पढ़ेंः PMC बैंक के सभी ग्राहकों के लिए खुशखबरी, RBI ने लिया ये बड़ा फैसला
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading