PMC घोटाला: ED की बड़ी कार्रवाई, वीवा ग्रुप के 6 ठिकानों पर मारी रेड

ED की बड़ी कार्रवाई, वीवा ग्रुप के 6 ठिकानों पर मारी रेड (सांकेतिक तस्वीर)

प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) को इस घोटाले में गिरफ्तार हो चुके आरोपी प्रवीण राउत और ठाकुर परिवार के बीच मनी लॉन्ड्रिंग (Money Laundering) के कई अहम सबूत हाथ लगे हैं, जिसके बाद आज सुबह ईडी ने वीवा ग्रुप के 6 ठिकानों पर छापा मारा है.

  • Share this:
    मुंबई. पंजाब एंड महाराष्ट्र कोऑपरेटिव बैंक (PMC Bank) घोटाले में मनी लॉन्ड्रिंग (Money Laundering) एंगल की जांच कर रही प्रवर्तन निदेशालय (Enforcement Directorate) की टीम ने शुक्रवार को मुंबई (Mumbai) में कई जगहों पर रेड की है. अभी तक की जानकारी के मुताबिक ईडी की टीम ने वीवा ग्रुप के ओनर और पूर्व विधायक हितेंद्र ठाकुर और जयेंद्र उर्फ भाई ठाकुर के 6 ठिकानों पर रेड डाली है. ये रेड मुंबई के मीरा भायंदर और वसई विरार इलाके में डाली गई है. बता दें कि ईडी को इस घोटाले में गिरफ्तार हो चुके आरोपी प्रवीण राउत और ठाकुर परिवार के बीच मनी लॉन्ड्रिंग (Money Laundering) के कई अहम सबूत हाथ लगे हैं, जिसके बाद आज सुबह ईडी ने वीवा ग्रुप के 6 ठिकानों पर छापा मारा है.

    वीवा ग्रुप और इसकी समूह कंपनियां भाई ठाकुर के परिवार के सदस्यों की ओर से संचालित की जाती हैं. बता दें कि भाई ठाकुर की वसई और विरार में अच्छी पकड़ है. भाई ठाकुर पर तस्करी, हत्या, जमीन हड़पने जैसे कई मामले पहले ही दर्ज है. इनमें से कुछ मामलों में वह जेल भी जा चुके हैं. कुछ साल पहले 'टाडा' कानून के तहत उनके खिलाफ केस भी दर्ज किया गया था.

    इसे भी पढ़ें :- PMC बैंक घोटाला: दिल्ली हाई कोर्ट ने केंद्र, दिल्ली सरकार और RBI को नोटिस जारी कर मांगा जवाब

    गौरतलब है कि PMC बैंक में फर्जी खातों के जरिए एक डेवलपर को 6500 करोड़ रुपए का कर्ज दिया गया था. इस घोटाले की जानकारी ​साल 2019 में रिजर्व बैंक को लगी थी. रिजर्व बैंक ने सितंबर 2019 में बैंक पर कड़े प्रतिबंध लगा दिए थे. 23 सितंबर 2019 से RBI का मोरेटोरियम लगा है. इसके तहत बैंक के जमाकर्ताओं पर निकासी प्रतिबंध लगा है. RBI ने PMC बैंक के बोर्ड को भंग कर दिया था.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.