महाराष्ट्र: महाविकास अघाड़ी में पोस्टरबाजी, शिवसेना के पोस्टर में NCP के चेहरे, कांग्रेस गायब
Maharashtra News in Hindi

महाराष्ट्र: महाविकास अघाड़ी में पोस्टरबाजी, शिवसेना के पोस्टर में NCP के चेहरे, कांग्रेस गायब
इसी पोस्टर को लेकर मचा है घमासान

Shiv Sena Vs Congress: इससे नाराज कांग्रेस ने शिवसेना को जवाब देने के लिए उसी पोस्टर के नीचे एक और पोस्टर लगा डाला है, जिनमें लिखा है कि गांधी परिवार की वजह से महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे (Uddhav Thackeray) सरकार आयी है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 31, 2020, 10:55 AM IST
  • Share this:
मुंबई. ऐसा लग रहा है कि महाराष्ट्र (Maharashtra) में महाविकास अघाड़ी सरकार में एक बार फिर से सबकुछ ठीक ठाक नहीं चल रहा है. मुंबई से सटे ठाणे में कांग्रेस और शिवसेना (Congress and Shiv Sena) के बीच में पोस्टरबाजी शुरू हो गई है. महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे सरकार के किए कामों को लेकर शिवसेना के नेताओं ने शहर के अलग-अलग हिस्सो में पोस्टर लगाए है. इस पोस्टर में शिवसेना और एनसीपी के नेताओं की फोटो लगी है, लेकिन कांग्रेस के नेता इन पोस्टरों में नहीं हैं.

कांग्रेस ने भी लगाए पोस्टर
ऐसे में कांग्रेस के कार्यकर्ता बेहद नाराज हो गए हैं और उन्होंने शिवसेना को जवाब देने के लिए उसी पोस्टर के नीचे एक और पोस्टर लगा डाला है. कांग्रेस के कार्यकताओं ने जो पोस्टर लगाए हैं उनमें लिखा है कि गांधी परिवार की वजह से महाराष्ट्र में उद्धव ठाकरे सरकार आयी है. साथ ही कांग्रेस के नेताओं ने सवाल उठाए हैं कि सरकार तीन पार्टियों की है तो फिर नाम दो पार्टियों के नेताओं के ही क्यों हैं.

पार्टी में तकरार?
महाविकास अघाड़ी सरकार में नाराजगी की ये कोई पहली घटना नहीं है. इससे पहले भी खींचतान मचती रही है.  बता दें कि कुछ महीने पहले विधान परिषद की 12 खाली सीटों को लेकर शिवसेना और कांग्रेस के बीच भी तल्खी देखी गई थी. कांग्रेस चाहती थी कि सभी सीटों का बंटवारा तीन पार्टियों के बीच बराबर हो. उस दौरान शिवसेना के खाते में 5, एनसीपी को 4 और कांग्रेस के खाते में 3 सीटें जाने की चर्चा थी. तब अशोक चव्हाण ने कहा था कि इस मुद्दे पर सीएम उद्धव ठाकरे से बातचीत करके मुद्दे को सुलझा लिया जाएगा.



ये भी पढ़ें:-भारी बारिश से 10 लोगों की मौत, 454 गांवों में घुसा बाढ़ का पानी

सांसद संजय जाधव का इस्तीफा
पिछले दिनों महाराष्ट्र की परभणी लोकसभा सीट से शिवसेना सांसद संजय जाधव ने अपना इस्तीफा CM उद्धव ठाकरे को सौंप दिया था. सूत्रों के मुताबिक संजय जाधव ने आरोप लगाया था कि शिवसेना के कार्यकर्ताओं को NCP लगातार किनारे कर रही है. उन्होंने इसे लेकर अपनी सीट का जिक्र भी किया है. आरोप है कि पार्टी ने एनसीपी के सामने घुटने टेक दिए हैं. हालांकि विवादों की खबरों के बीच भी तीनों ही पार्टी के नेताओं द्वारा कहा जाता रहा है कि गठबंधन में सबकुछ ठीक है. लेकिन अब एक बार फिर संजय जाधव के इस्तीफे ने गठबंधन को लेकर राजनीति गर्म कर दी है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज