प्रशांत किशोर के मुंबई पहुंचते ही अटकलों का दौर तेज़, पवार के साथ लंच, शाहरुख के साथ किया डिनर

प्रशांत किशोर और शरद पवार की मुलाकात को लेकर अटकलों को दौर जारी है. (फ़ाइल फोटो)

PK on Mission 2024: सूत्रों का कहना है कि किशोर एक नया मोर्चा बनाने की तैयारी में हैं. वो चाहते हैं ममता बनर्जी और एमके स्टालिन को दूसरे नेताओं का समर्थन मिले, जिससे कि साल 2024 के चुनाव में पीएम मोदी को चुनौती दी जा सके.

  • Share this:
    मुंबई. चुनाव रणनीतिकार प्रशांत किशोर (Prashant kishor) ने शुक्रवार को राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (NCP) के अध्यक्ष शरद पवार से मुलाकात की. पवार के मुंबई स्थित आवास पर इन दोनों के बीच करीब तीन घंटे बातचीत चली. इस मीटिंग को लेकर राजनीतिक गलियारों में अटकलों का दौर शुरू हो गया है. कहा जा रहा है कि साल 2024 के चुनाव को लेकर चर्चा हुई. मौजूदा राजनीतिक स्थिति पर चर्चा के अलावा पवार ने किशोर के लिए लंच का भी आयोजन किया. बैठक दिन में करीब दो बजे बजे तक चली लेकिन न तो किशोर और न ही पवार ने पत्रकारों को कुछ बताया.

    इसके बाद प्रशांत किशोर शाम को दिग्गज फिल्म एक्टर शाहरुख खान से मिलने उनके घर 'मन्नत' पहुंचे. किशोर के करीबी सूत्रों ने मुलाकात को शिष्टाचार भेंट बताया और कहा कि वे दोनों तीन साल से अधिक समय से दोस्त हैं और नियमित रूप से मिलते रहते हैं. कहा जा रहा है कि ममता बनर्जी ने शाहरुख खान को प्रशांत किशोर से मिलवाया था. सूत्रों ने शाहरुख खान के राजनीति में आने की खबरों को भी अफवाह करार दिया. साथ ही ये भी कहा कि शाहरुख का प्रोडक्शन हाउस प्रशांत किशोर पर कोई फिल्म भी नहीं बना रहा है.

    PK का मिशन 2024
    कहा जा रहा है कि प्रशांत किशोर तमिलनाडु और पश्चिम बंगाल विधानसभा चुनावों में द्रमुक और तृणमूल कांग्रेस की जीत के बाद पवार को शुक्रिया कहने आए थे. इन दिनों किशोर हर उस शख्सियत से मिल रहे हैं जिन्होंने चुनाव के दौरान ममता बनर्जी और एमके स्टालिन के समर्थन में हाथ बढ़ाया था. हालांकि सूत्रों का कहना है कि किशोर एक नया मोर्चा बनाने की तैयारी में हैं. वो चाहते हैं ममता बनर्जी और एमके स्टालिन को दूसरे नेताओं का समर्थन मिले, जिससे कि साल 2024 के चुनाव में पीएम मोदी को चुनौती दी जा सके.

    NCP ने क्या कहा
    उधर महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री अजित पवार ने इस बैठक को तवज्जो नहीं दिया और कहा किशोर पहले ही कह चुके हैं कि अब वह चुनाव रणनीतिकार नहीं रहेंगे. शिवसेना नेता संजय राउत ने कहा कि कई नेता किशोर के संपर्क में हैं जबकि राकांपा के छगन भुजबल ने कहा कि उन्हें बैठक के एजेंडा को लेकर कोई जानकारी नहीं है. भुजबल ने कहा कि किशोर एक सफल राजनीतिक रणनीतिकार हैं. उन्हें भरोसा है कि पवार किशोर के सुझावों पर गौर करेंगे. किशोर ने 2019 में उद्धव ठाकरे से मुलाकात की थी, जिसके बाद ठाकरे महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री बने थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.