• Home
  • »
  • News
  • »
  • maharashtra
  • »
  • महाराष्‍ट्र: गणेश विसर्जन के दौरान मुंबई में डूबे 3 लोग, पुणे में एक की मौत

महाराष्‍ट्र: गणेश विसर्जन के दौरान मुंबई में डूबे 3 लोग, पुणे में एक की मौत

मुंबई में किया गया गणेश विसर्जन. (Pic- PTI)

मुंबई में किया गया गणेश विसर्जन. (Pic- PTI)

Maharashtra: मुंबई में गणेश उत्सव के अंतिम दिन रविवार रात नौ बजे तक शहर में अलग-अलग जगहों पर गणपति और माता गौरी की 19,779 प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    मुंबई. कोविड महामारी (Covid 19) को देखते हुए लगाए गए प्रतिबंधों के बीच रविवार को महाराष्‍ट्र (Maharashtra) में बड़ी संख्‍या में गणेश विसर्जन (Ganesh Visarjan) हुआ. इस बीच मुंबई (Mumbai) के वर्सोवा बीच पर गणेश विसर्जन के दौरान 5 लोग समुद्र में डूब गए. इनमें से दो लोगों को बचा लिया गया था. लेकिन तीन की तलाश अब भी जारी है. इनकी उम्र 18 से 22 साल के बीच बताई जा रही है. जानकारी के अनुसार ये सभी वर्सोवा (Versova Beach) के पास के ही गांव के हैं. वहीं पुणे के पिंपरी चिंचवाड़ में भी एक व्‍यक्ति की मौत हुई है.

    पुणे शहर के पास पिंपरी चिंचवाड़ के अलंदी रोड इलाके में रविवार शाम गणेश विसर्जन के दौरान एक 18 साल के व्यक्ति की मौत हो गई और एक अन्य व्यक्ति के डूबने की आशंका जाहिर की गई है. मृतक के शव की पहचान प्रज्वल काले के रूप में की गई है, जबकि दत्ता थोम्ब्रे (20) की तलाश जारी है. जो काले के साथ नदी में उतर गया था.

    पुलिस ने जानकारी दी है कि वे दोनों उस ग्रुप का हिस्सा थे जो शाम करीब छह बजे गणेश प्रतिमा को विसर्जित करने इंद्रायणी नदी में गया था. पुलिस ने कहा कि काले और थोम्ब्रे अन्य लोगों के साथ मूर्ति को विसर्जित करने के लिए पानी में उतरे थे. लेकिन चूंकि दोनों तैरना नहीं जानते थे, इसलिए वे पानी की गहराई को समझ नहीं पाए और डूब गए.

    मुंबई में गणेश उत्सव के अंतिम दिन रविवार रात नौ बजे तक शहर में अलग-अलग जगहों पर गणपति और माता गौरी की 19,779 प्रतिमाओं का विसर्जन किया गया. स्थानीय निकाय के एक अधिकारी ने बताया कि कोविड-19 के कारण इस बार लगातार दूसरे साल बेहद कड़ी पाबंदियों के साथ गणेश उत्सव मनाया गया.

    भगवान गणेश का यह त्‍योहार 10 सितंबर को शुरू हुआ था. आमतौर पर इस दौरान बड़ी संख्‍या में लोग एकत्रित होते हैं और मंडलों के बाहर बड़ी लाइनें भी देखी जा सकती हैं. लेकिन इस बार लगातार दूसरे कोविड महामारी के कारण कुछ प्रतिबंधों के बीच इसे मनाया गया.

    इस साल बृहन्मुंबई महानगर पालिका (बीएमसी) ने शहर में 173 स्थानों पर कृत्रिम झीलें बनाई थीं. साथ ही महामारी के मद्देनजर भीड़ से बचने के लिए विभिन्न स्थानों पर मूर्ति संग्रह केंद्र और मोबाइल विसर्जन स्थल भी बनाए गए थे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज