लाइव टीवी

भारी बारिश के चलते पुणे में आए जल प्रलय से अब तक 22 की मौत, 5 लापता

भाषा
Updated: September 29, 2019, 3:13 AM IST
भारी बारिश के चलते पुणे में आए जल प्रलय से अब तक 22 की मौत, 5 लापता
पुणे में बृहस्पतिवार को आयी बाढ़ में मरने वालों की संख्या बढ़कर 22 हो गई है. वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अभी भी 5 लोग लापता हैं.

पुणे (Pune) और आसपास के क्षेत्रों में बुधवार और गुरुवार के बीच 100 मिलीमीटर से अधिक बारिश दर्ज की गई जिससे कई निचले इलाकों में बाढ़ आ गई.

  • भाषा
  • Last Updated: September 29, 2019, 3:13 AM IST
  • Share this:
पुणे. पुणे (Pune) में बृहस्पतिवार को आयी बाढ़ (Flood) में मरने वालों की संख्या बढ़कर 22 हो गई है. वहीं सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार अभी भी 5 लोग लापता हैं.  बता दें कि पुणे और आसपास के क्षेत्रों में बुधवार और गुरुवार के बीच 100 मिलीमीटर से अधिक बारिश दर्ज की गई जिससे कई निचले इलाकों में बाढ़ आ गई. इसके परिणामस्वरूप अधिकारियों ने तीन हजार से अधिक लोगों को सुरक्षित क्षेत्रों में पहुंचाया.

अधिकारियों ने बताया कि 16 लोगों की मौत पुणे शहर में हुई, जबकि छह लोग जिले के ग्रामीण इलाकों में बाढ़ से संबंधित दुर्घटनाओं में मारे गए. उन्होंने बताया कि जिले में पांच लोग लापता हैं. जिला कलेक्टर नवल किशोर राम ने कहा कि तांगेवाला कॉलोनी में बाढ़ प्रभावितों को राहत कोष से चेक सौंपे गए.

जिला कलेक्टर नवल किशोर राम ने कहा कि तांगेवाला कॉलोनी में बाढ़ प्रभावितों को राहत कोष से चेक सौंपे गए.


पुणे में लगातार भारी बारिश

गौरतलब है कि बुधवार को महाराष्ट्र के पुणे में लगातार भारी बारिश के चलते जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया था. बरसात और बाढ़ की वजह से यहां मरने वालों की संख्या बढ़कर 22 हो गई है.  बताया जा रहा है कि साहकर नगर में मूसलाधार बारिश से एक दीवार ढह गई. जिससे पांच लोगों की मलबे में दबकर मौत हो गई. मृतकों में एक लड़के और दो महिलाएं शामिल हैं.

100 से ज्यादा वाहन बाढ़ में बहे
राज्य के मुख्य अग्निशमन अधिकारी प्रशांत रानपिसे ने बताया कि बुधवार रात अर्नेश्वर क्षेत्र में दीवार गिरने से नौ साल के एक लड़के समेत पांच लोगों की मौत हो गई. भारी बारिश के बाद क्षेत्र में पानी भर गया था. बुधवार को पुणे और आसपास के क्षेत्रों के कई निचले इलाकों में भारी बारिश के बाद बाढ़ जैसे हालात बन गए थे. इस प्राकृतिक आपदा की वजह से दर्जनों मवेशियों की भी मौत हो गई है. साथ ही 100 से ज्यादा वाहन बाढ़ में बह गए हैं.
Loading...

100 से ज्यादा वाहन बाढ़ में बह गए हैं.


पुणे के डिस्ट्रिक्ट कलेक्टर नवल किशोर राम ने बारिश और बाढ़ की स्थिति को देखते हुए गुरुवार को सभी स्कूलों और कॉलेजों में छुट्टी घोषित कर दी थी. उन्होंने बताया कि बारामती इलाके में आए बाढ़ में फंसे लगभग 14 हजार लोगों को निकालकर सुरक्षित जगहों पर पहुंचाया गया है. उन्होंने कहा कि लगातार बारिश से डैम में पानी भर गया. डैम से पानी छोड़ने से इलाके के निचले इलाकों में पानी भर गया.

ये भी पढ़ें: 

अमेरिका से लौटे PM मोदी ने याद दिलाई सर्जिकल स्‍ट्राइक, बोले- उस रात सोया नहीं

हनी ट्रैप मामले में स्पेशल DG और DGP विवाद पर हरकत में आई सरकार

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Pune से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 29, 2019, 2:40 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...