लाइव टीवी

गायों की सेवा की जिम्मेदारी देने पर कैदियों की आपराधिक प्रवृत्ति में कमी: मोहन भागवत

भाषा
Updated: December 8, 2019, 4:34 AM IST
गायों की सेवा की जिम्मेदारी देने पर कैदियों की आपराधिक प्रवृत्ति में कमी: मोहन भागवत
आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत पुणे में कहा कि गायों की सेवा करने से कैदियों की आपराधिक प्रवृत्ति में कमी आती है.

आरएसएस प्रमुख मोहन (Mohan Bhagwat) भागवत पुणे में ‘गौ विज्ञान’ को समर्पित गो-विज्ञान संशोधन संस्था द्वारा आयोजित एक पुरस्कार समारोह में बोल रहे थे.

  • Share this:
पुणे. राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (RSS) प्रमुख मोहन भागवत (Mohan Bhagwat) ने शनिवार को गाय को लेकर एक बड़ा बयान दिया है. उन्होंने कहा कि यह देखा गया है कि जेल में बंद कैदियों को जब गायों की देखभाल का काम दिया जाता है, तब उनकी आपराधिक प्रवृत्ति में कमी आती है. उन्होंने कहा कि गाय की खूबियों को दुनिया को दिखाने के लिए इस प्रकार के निष्कर्षों को प्रलेखित करना जरूरी है.

आरएसएस प्रमुख मोहन भागवत पुणे में ‘गौ विज्ञान’ को समर्पित गो-विज्ञान संशोधन संस्था द्वारा आयोजित एक पुरस्कार समारोह में बोल रहे थे. उन्होंने कहा, ‘गाय ब्रह्माण्ड की मां है. वह मिट्टी, पशु, पक्षी और मनुष्य को भी पोषित करती है और उन्हें रोगों से बचाती है और मानव हृदय को फूल की तरह कोमल बनाती है.’

जेल अधिकारियों द्वारा साझा की गई जानकारी पर आधारित
भागवत ने कहा, ‘जब जेल में गोशाला बनाई गई और कैदियों ने गाय की सेवा करनी शुरू की तब अधिकारियों ने उन कैदियों की आपराधिक प्रवृत्ति में कमी आते हुए देखा. मैं आपको यह बात कुछ जेल अधिकारियों द्वारा साझा किये अनुभवों के आधार पर बता रहा हूँ.’

उन्होंने कहा, ‘यदि गायों के गुणों को दुनिया के सामने लाना है तो हमें दस्तावेज बनाने होंगे. हमें कैदियों पर मनोवैज्ञानिक प्रयोग करने होंगे और उनके द्वारा कुछ समय तक गौसेवा के बाद उनमें आये बदलावों की समीक्षा करनी होगी. विभिन्न जगहों से इसके परिणाम एकत्रित करने होंगे.’

भागवत ने कहा कि जो संगठन छुट्टा घूमती गायों को आश्रय देते हैं उनके पास जगह की कमी होती जा रही है. भागवत ने कहा कि समाज में यदि हर व्यक्ति एक गाय को पालने का निर्णय कर ले तो यह समस्या सुलझ जाएगी और गाय बूचड़खाने में जाने से बच जाएंगी. उन्होंने कहा कि हालांकि आज हिन्दू ही हैं जो गायों को बूचड़खाने भेज रहे हैं.

ये भी पढ़ें: प्रदेश अध्यक्ष के फोन के बाद साध्वी प्रज्ञा ने खत्म किया MLA के खिलाफ धरना

कर्नाटक में भूस्खलन: तीन मजदूरों की मौत

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Pune से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 8, 2019, 4:34 AM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर