• Home
  • »
  • News
  • »
  • maharashtra
  • »
  • पुणे आत्महत्या: पुलिस को हाथ लगी शिवसेना नेता संजय राठौड़ और युवती के बीच कथित कॉल रिकॉर्डिंग

पुणे आत्महत्या: पुलिस को हाथ लगी शिवसेना नेता संजय राठौड़ और युवती के बीच कथित कॉल रिकॉर्डिंग

टिकटॉक स्टार पूजा चव्हाण की पुणे के हडपसर में 8 फरवरी को एक बिल्डिंग से गिर कर मौत हो गई थी. इस घटना के बाद उद्धव सरकार के वन मंत्री संजय राठौर ने इस्तीफा दे दिया था. (फ़ाइल फोटो)

टिकटॉक स्टार पूजा चव्हाण की पुणे के हडपसर में 8 फरवरी को एक बिल्डिंग से गिर कर मौत हो गई थी. इस घटना के बाद उद्धव सरकार के वन मंत्री संजय राठौर ने इस्तीफा दे दिया था. (फ़ाइल फोटो)

Pooja Chavan Suicide Case: पूजा उसी आदिवासी बंजारा समुदाय से थी जिससे संजय राठौड़ ताल्लुक रखते हैं. पूजा बीड की रहने वाली थी और कथित तौर पर पुणे में रह रही थी. उसने यहां पढ़ाई के लिए एक कोर्स में एडमिशन लिया था.

  • Share this:

    पुणे. 22 साल की पूजा चव्हाण की कथित आत्महत्या (Pooja Chavan Suicide Case) के मामले में पुणे पुलिस को कुछ अहम सुराग हाथ लगे हैं. कहा जा रहा है कि मौत से 4-5 दिन पहले महाराष्ट्र के पूर्व मंत्री संजय राठौड़ और युवती के बीच कई बार लंबी बातचीत हुई थी. दावा किया जा रहा है कि इन दोनों के बीच एक बार करीब 90 मिनट तक बातचीत हुई थी. बता दें कि टिकटॉक स्टार पूजा चव्हाण की पुणे के हडपसर में 8 फरवरी को एक बिल्डिंग से गिर कर मौत हो गई थी. इस घटना के बाद उद्धव सरकार के वन मंत्री संजय राठौर ने इस्तीफा दे दिया था.

    अंग्रेजी अखबार इंडियन एक्सप्रेस ने पुलिस सूत्रों के हवाले से लिखा है कि फोन से मिले सबूतों के आधार पर प्रथम दृष्टया ऐसा लग रहा है कि ये बातचीत पूजा और संजय राठौड़ के बीच हो रही है. सूत्रों के मुताबिक पूजा ने उनकी सारी बातचीत रिकॉर्ड कर ली थी. ये बातचीत बंजारा भाषा में हुई थी इसलिए फिलहाल इसका अनुवाद करवाया जा रहा है.

    फोन रिकॉर्डिंग को जांच के लिए भेजा गया
    पूजा उसी आदिवासी बंजारा समुदाय से थी जिससे राठौड़ ताल्लुक रखते हैं. पूजा बीड की रहने वाली थी और कथित तौर पर पुणे में रह रही थी. उसने यहां पढ़ाई के लिए एक कोर्स में एडमिशन लिया था. पूजा की मौत के तुरंत बाद आरोप लगे कि उनके और विधायक के बीच रिलेशनशिप थे. सूत्रों ने कहा कि पूजा के मोबाइल फोन, जिसमें राठौड़ के साथ उनकी कथित बातचीत की रिकॉर्डिंग है उसके डेटा को जांच के लिए पुणे में फोरेंसिक साइंस लेबोरेटरी (एफएसएल) भेजा गया था.

    ये भी पढ़ें:- UP: मुहर्रम के लिए जारी सर्कुलर पर विवाद! DGP बोले- हमारी मंशा धार्मिक भावनाओं को आहत करने की नहीं

    सीसीटीवी फुटेज में भी पूजा
    पुलिस ने एक और सबूत जांच के लिए लैब भेजा था. ये है सीसीटीवी फुटेज. इसमें 6 फरवरी को यवतमाल मेडिकल कॉलेज अस्पताल के परिसर में पूजा दिख रही हैं. कहा जा रहा है कि ये मौत से 24 घंटे पहले का फुटेज है. सूत्रों के अनुसार, फुटेज में पूजा, संजय राठौड़ के करीबी सहयोगी अरुण राठौड़ के साथ दिख रही हैं. अरुण और संजय राठौड़ के एक अन्य सहयोगी, विलास चव्हाण, पूजा के साथ पुणे के मोहम्मद वाडी में हेवन पार्क में किराए के अपार्टमेंट में रह रहे थे, जहां उसकी मौत हुई.

    चल रही है जांच
    पुलिस को पिछले महीने पूजा के फोन और सीसीटीवी फुटेज की एफएसएल रिपोर्ट मिल गई है. लेकिन उन्होंने अभी तक लैब से पूर्व मंत्री की आवाज के नमूनों के रिकॉर्डिंग में आवाज का परीक्षण करने के लिए नहीं कहा है. सूत्रों ने कहा कि पुलिस को इस बात की भी पुष्टि हुई है कि सीसीटीवी फुटेज असली है. संजय राठौड़ ने फिलहाल इस पर कुछ भी कहने से इनकार कर दिया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज