लाइव टीवी

जयंत पाटिल बोले- चुनाव से पहले NCP छोड़कर जाने वालों की सिर्फ इस आधार पर होगी 'घर वापसी'

News18Hindi
Updated: November 18, 2019, 6:14 AM IST
जयंत पाटिल बोले- चुनाव से पहले NCP छोड़कर जाने वालों की सिर्फ इस आधार पर होगी 'घर वापसी'
एनसीपी की महाराष्ट्र इकाई के प्रमुख जयंत पाटिल ने कहा कि कई नेता फिर से पार्टी में शामिल होना चाहते हैं. (फाइल फोटो)

पुणे (Pune) में शरद पवार (Sharad Pawar) के आवास पर पार्टी की कोर समिति की बैठक से पहले जयंत पाटिल (Jayant Patil) ने कहा कि चुनावों से पहले भाजपा (BJP) में शामिल हो चुके कई नेता फिर से पार्टी के संपर्क में हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 18, 2019, 6:14 AM IST
  • Share this:
पुणे. राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (Nationalist Congress Party) की महाराष्ट्र इकाई के प्रमुख जयंत पाटिल (Jayant Patil) ने रविवार को कहा कि जो लोग विधानसभा चुनाव से पहले पार्टी को छोड़कर गए थे, उन्हें केवल ‘योग्यता’ के आधार पर ही फिर से पार्टी में शामिल किया जाएगा. एनसीपी प्रमुख शरद पवार (Sharad Pawar) के आवास पर पुणे में पार्टी की कोर समिति की बैठक से पहले पत्रकारों से बातचीत में पाटिल ने कहा कि चुनावों से पहले भाजपा में शामिल होने वाले कई नेता पार्टी के संपर्क में हैं.

कोई मेगा-भर्ती नहीं होगी: जयंत पाटिल
यह पूछे जाने पर कि क्या एनसीपी में ‘मेगा भर्ती’ होगी, इस पर जयंत पाटिल ने कहा, ‘कोई मेगा-भर्ती नहीं होगी. नेताओं को योग्यता के आधार पर पार्टी में शामिल किया जाएगा. पार्टी में उन्हें शामिल करते समय हमें हर निर्वाचन क्षेत्र से उन युवा नेताओं द्वारा दिखाई गई वफादारी पर विचार करना होगा, जो हमारे साथ रहें.’

इन लोगों के बैठक में शामिल होने की संभावना

जयंत पाटिल ने बताया कि शिवसेना और कांग्रेस के साथ गठबंधन में महाराष्ट्र में सरकार बनाने से संबंधित मुद्दों पर कोर समिति की बैठक में चर्चा होने की संभावना है. छगन भुजबल, अजीत पवार, जितेंद्र आव्हाड, नवाब मलिक, धनंजय मुंडे, सुप्रिया सुले और सुनील तटकरे के बैठक में शामिल होने की संभावना है.

शिवसेना या भाजपा को समर्थन देने के मामले में पार्टी में कोई मतभेद नहीं
पाटिल ने इस बात से इनकार किया कि इस बात को लेकर एनसीपी में मतभेद हैं कि पार्टी को शिवसेना को समर्थन देना चाहिए या भाजपा को. उन्होंने कहा, ‘अंतिम निर्णय शरद पवार लेंगे, लेकिन उस पार्टी (भाजपा) के साथ जाने का सवाल ही नहीं है, जिसके खिलाफ एनसीपी ने चुनाव लड़ा, ऐसी पार्टी जो वैचारिक रूप से अलग है.’
Loading...

ये भी पढ़ें -

अयोध्या में राम मंदिर निर्माण के लिए नहीं जुटाया जा रहा है चंदा: विहिप

राम मंदिर के डिजाइन की तरह दिखेगा अयोध्या रेलवे स्टेशन का बाहरी हिस्सा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए Pune से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 17, 2019, 11:14 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...