होम /न्यूज /महाराष्ट्र /

ओमान से रायगढ़ तक कैसे आई संदिग्ध नाव और AK-47? डिप्टी सीएम का खुलासा, जानिए पूरी कहानी

ओमान से रायगढ़ तक कैसे आई संदिग्ध नाव और AK-47? डिप्टी सीएम का खुलासा, जानिए पूरी कहानी

देवेंद्र फडणवीस ने रायगढ़ में स्थित हरिहरेश्वर तट के पास मिली संदिग्ध नाव को लेकर विधानसभा में जानकारी दी.

देवेंद्र फडणवीस ने रायगढ़ में स्थित हरिहरेश्वर तट के पास मिली संदिग्ध नाव को लेकर विधानसभा में जानकारी दी.

विधानसभा में महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने घटना को लेकर जानकारी दी. उन्होंने कहा, 'रायगढ़ जिले के समद्री तट से एक बोट पाई गई है, जिसमें तीन एके-47 और उसके साथ उसका अमिनेशन व बोट संबंधित कुछ कागजात पाए गए हैं.'

हाइलाइट्स

विधानसभा में डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने संदिग्ध नाव को लेकर जानकारी दी.
देवेंद्र फडणवीस ने बताया कि बोट की मालिक एक ऑस्ट्रेलियन महिला है.
कोस्टगार्ड के सूत्रों से पता चला है कि रायगढ़ में मिली बोट एक 'डिस्ट्रेस बोट' है.

मुंबई. महाराष्ट्र के रायगढ़ जिले में स्थित हरिहरेश्वर तट के पास संदिग्ध नाव मिलने से हड़कंप मचा हुआ है. मुंबई को हाई अलर्ट किया गया है. वहीं विधानसभा में महाराष्ट्र के डिप्टी सीएम देवेंद्र फडणवीस ने घटना को लेकर जानकारी दी. उन्होंने कहा, ‘रायगढ़ जिले के समुद्री तट पर एक बोट पाई गई है,  जिसमें तीन एके-47 और उसके साथ उसका अमिनेशन व बोट के कुछ कागजात पाए गए हैं. इस घटना की सूचना मिलने के बाद तुरंत महाराष्ट्र पुलिस ने और एटीएस ने सभी जगह नाकाबंदी कर तफ्तीश शुरू कर दी. हम लोगों ने तुरंत भारतीय कोस्ट गार्ड के साथ संपर्क किया और उन्होंने भी इसकी तफ्तीश शुरू की है.’

साथ ही उन्होंने यह भी बताया, ‘जांच के दौरान पाया गया कि बोट का नाम लेडी हाल है. इस बोट की  मालिक एक ऑस्ट्रेलियन महिला है. उस महिला के पति इस बोट के कप्तान हैं और यह बोट मस्कट से यूरोप की तरफ जा रही थी और 26 जून को इस बोट का इंजन खराब हो गया और बोट पर जो लोग सवार थे उन्होंने कोरियन नेवी को मदद के लिए कॉल दिया. दरअसल, कोरियन नेवी की बोट आसपास ही थी. इसके बाद कोरियन नेवी ने इन सभी लोगों को उस बोट से सुरक्षित निकाला और ओमान को सुपुर्द कर दिया. उस समय हाइटाइड होने के कारण इस बोर्ड को स्पोर्ट्स स्टोर इन नहीं किया जा सका.’

वहीं कोस्टगार्ड के सूत्रों के हवाले से पता चला है कि  महाराष्ट्र के रायगढ़ में मिली संदिग्ध बोट दरअसल एक ‘डिस्ट्रेस बोट’ है. जो खराब मौसम और रफ-सी यानि समंदर के चलते बह रही थी. ओमान ने मदद कर इस बोट में सवार चार लोगों की जान बचाई थी.  इस बोट को ‘टो’ करके ओमान ले जाया जा रहा था. लेकिन उसी दौरान इसकी रस्सी टूट गई और बोट तेज बहाव में बह गई थी और बहते हुए ये बोट भारत पहुंच गई. वहीं इस मामले में अधिक जांच के लिए भारतीय तटरक्षक बल की एक टीम जल्द मौके पर पहुंच रही है.

बता दें कि महाराष्ट्र में रायगढ़ तट से बृहस्पतिवार को एक संदिग्ध नाव मिली जिसमें तीन एके-47 राइफल और गोलियां रखी हुई थीं. एक पुलिस अधिकारी ने यह जानकारी दी. उन्होंने बताया कि कुछ स्थानीय लोगों ने मुंबई से करीब 190 किलोमीटर दूर श्रीवर्धन क्षेत्र में नाव को देखा और उन्होंने सुरक्षा एजेंसियों को इसकी जानकारी दी. नाव में चालक दल का कोई सदस्य नहीं था. रायगढ़ के पुलिस अधीक्षक अशोक दुधे और अन्य वरिष्ठ अधिकारी मौके पर पहुंचे और उन्होंने नाव की तलाशी ली. (इनपुट भाषा से)

Tags: Devendra Fadnavis, Maharashtra, Maharashtra Police, Raigarh news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर