अपना शहर चुनें

States

राज ठाकरे ने की लोगों से बढ़े हुए बिजली बिल का भुगतान न करने की अपील

मनसे के एक प्रतिनिधिमंडल ने राज्य के बिजली मंत्री से मुलाकात की थी. (फाइल फोटो)
मनसे के एक प्रतिनिधिमंडल ने राज्य के बिजली मंत्री से मुलाकात की थी. (फाइल फोटो)

मनसे के एक प्रतिनिधिमंडल ने राज्य के बिजली मंत्री से मुलाकात की थी लेकिन नतीजा उम्मीद जगाने वाला नहीं था. हम राज्यपाल के पास भी गए थे जिन्होंने राज्य सरकार के कुछ राहत पहुंचाने को लेकर उदासीन रुख पर निराशा व्यक्त की थी.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 26, 2020, 10:58 PM IST
  • Share this:
मुंबई. महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) प्रमुख राज ठाकरे (Raj Thackeray) ने महाराष्ट्र के लोगों से कहा कि वे “बढ़े हुए” बिजली बिलों (Electricity bill) का भुगतान न करें. भाजपा के साथ, मनसे भी कोरोना वायरस महामारी के कारण आर्थिक संकट का हवाला देकर बिजली बिलों में रियायत की मांग कर रही है और इसके साथ ही उसने कई उपभोक्ताओं को असामान्य रूप से ज्यादा बिजली बिल आने की भी शिकायत की.

इस मुद्दे पर मुंबई के जिला कलेक्टर को लिखे पत्र में ठाकरे ने कहा, “मेरी लोगों से यह अपील है कि उन्हें बढ़े हुए बिजली बिलों का भुगतान नहीं करना चाहिए.” इस पत्र में उन्होंने उपभोक्ताओं को राहत दिये जाने की मांग की है. उन्होंने कहा, “बिजली वितरण कंपनी के किसी कर्मी ने कनेक्शन काटने की कोशिश की तो उसे हमारे कड़े विरोध का सामना करना पड़ेगा.”

मनसे के प्रतिनिधिमंडल ने की बिजली मंत्री से मुलाकात
उन्होंने कहा,“मनसे के एक प्रतिनिधिमंडल ने राज्य के बिजली मंत्री से मुलाकात की थी लेकिन नतीजा उम्मीद जगाने वाला नहीं था. हम राज्यपाल के पास भी गए थे जिन्होंने राज्य सरकार के कुछ राहत पहुंचाने को लेकर उदासीन रुख पर निराशा व्यक्त की थी.”ठाकरे ने कहा, “मैं राज्य सरकार से अनुरोध करता हूं कि तार्किक रहे और बिल के भुगतान में कुछ रियायत दे.” बिल में छूट की मांग को लेकर मनसे ने मुंबई, ठाणे,पुणे,नासिक, नागपुर और औरंगाबाद में प्रदर्शन भी किया.
मनसे कर्मी हुए गिरफ्तार


महाराष्ट्र नवनिर्माण सेना (मनसे) के 36 कार्यकर्ताओं को औरंगाबाद पुलिस ने गुरुवार को गिरफ्तार किया था, क्योंकि उन्होंने बिजली बिलों के खिलाफ विरोध मार्च निकालने की कोशिश की थी. नवनिर्माण सेना ने शहर के कलेक्टर कार्यालय में महात्मा ज्योतिबा फुले चौक से विरोध मार्च की योजना बनाई थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज