Home /News /maharashtra /

मुंबई में करोड़ों की ड्रग्स तस्करी का राजस्थान कनेक्शन, 22 करोड़ की ड्रग्स बरामद

मुंबई में करोड़ों की ड्रग्स तस्करी का राजस्थान कनेक्शन, 22 करोड़ की ड्रग्स बरामद

मुंबई में करोड़ों की ड्रग्स तस्करी का राजस्थान कनेक्शन, 22 करोड़ की ड्रग्स बरामद (File Photo)

मुंबई में करोड़ों की ड्रग्स तस्करी का राजस्थान कनेक्शन, 22 करोड़ की ड्रग्स बरामद (File Photo)

ड्रग्स (Drugs) पहुंचाने वाले को भी 1 से 2 लाख रुपये दिए जाते थे. एंटी नॉरकोटिक्स शाखा (Narcotics Branch) यह पता लगाने में जुटी है कि इतनी बड़ी मात्रा में ड्रग्स की सप्लाई कहां की जानी थी और कौन-कौन से लोग इसमें शामिल हैं. इतना ही नही, एंटी नॉरकोटिक्स शाखा इस केस को लेकर राजस्थान पुलिस के संपर्क में है, ताकि पूरे रैकेट को खत्म किया जा सके.

अधिक पढ़ें ...

मुंबई. मुंबई क्राइम ब्रांच (Mumbai Crime Branch) की एंटी नॉरकोटिक्स शाखा (Narcotics Branch) ने सायन इलाके में बड़ी छापेमारी करते हुए 22 करोड़ की हेरोइन ड्रग्स (Drugs) बरामद की है. इस बरामदगी के साथ एक महिला ड्रग्स सप्लायर (Drugs Supplier) को भी गिरफ्तार किया गया है, जो मुंबई के बड़े ड्रग्स सप्लायरों में से एक है. एंटी नॉरकोटिक्स शाखा की अब तक जांच में यह सामने आया है कि आरोपी महिला एक बड़ा ड्रग्स रैकेट चलाती है.

दरअसल एंटी नॉरकोटिक्स शाखा की घाटकोपर यूनिट को गोपनीय सूत्रों से जानकारी मिली थी कि ड्रग्स का कारोबार करने वाले कई गैंग ट्रेनों और बसों के जरिए राजस्थान से मंबई में न सिर्फ हेरोइन की खेप मंगवा रहे हैं, बल्कि बड़े स्तर पर अलग-अलग इलाकों में सप्लाई भी कर रहे हैं. मिले सुराग के आधार पर जांच के दौरान एंटी नॉरकोटिक्स शाखा को जानकारी मिली कि सायन इलाके में ड्रग्स की बड़ी खेप सप्लाई के लिए आने वाली है. जानकारी मिलते ही फौरन ट्रैप लगाया गया और 22 करोड़ की ड्रग्स के साथ आई महिला को गिरफ्तार कर लिया गया. गिरफ्तार महिला का नाम अमीना शेख है, जो पहले पति के लिए ड्रग्स लाती थी. दो बार पकड़े जाने के बाद जेल गई और वहां लोगों के संपर्क में आने के बाद पिछले 10 सालों से ड्रग्स सप्लाई का कारोबार कर रही है.

एंटी नॉरकोटिक्स शाखा के डीसीपी दत्ता नलावाड़े ने बताया कि ड्रग्स के खिलाफ मुंबई पुलिस ने एक अभियान चला रखा है. इसी अभियान के तहत घाटकोपर यूनिट को जानकारी मिली थी कि ड्रग्स की बड़ी खेप के साथ महिला सायन इलाके में आने वाली है. जानकारी मिलते ही ट्रैप लगाया गया और महिला को 22 करोड़ की हेरोइन के साथ गिरफ्तार किया गया. यह महिला पिछले 10 सालों से ड्रग्स का कारोबार कर रही थी. आरोपी महिला अमीना शेख ड्रग्स सप्लाई का रैकेट चलाती है और इस रैकेट का सीधा कनेक्शन राजस्थान से है.

ड्रग्स पहुंचाने वाले को 1-2 लाख रुपये दिए जाते थे
एंटी नॉरकोटिक्स शाखा के मुताबिक मुंबई में बैठकर यह महिला ड्रग्स का सिंडिकेट चला रही थी, जो राजस्थान तक फैला हुआ था. इस सिंडिकेट से जुड़े लोग राजस्थान के प्रतापगढ़, झालावाड़, चित्तौड़गढ़ से ट्रेनों और बसों के जरिए ड्रग्स खेप को मुंबई भेजते थे. इस दौरान यह गैंग पूरी गोपनीयता बरतता था. ट्रेनों या बसों से जो शख्स ड्रग्स की खेप लेकर मुंबई आता था, उस पर नजर रखने के लिए दो लोग अलग से होते थे. ड्रग्स पहुंचाने वाले को भी 1-2 लाख रुपये दिए जाते थे. एंटी नॉरकोटिक्स शाखा यह पता लगाने में जुटी हुई है कि इतना बड़ी मात्रा में ड्रग्स की सप्लाई कहां की जानी थी और कौन-कौन से लोग इसमें शामिल हैं. इतना ही नही, एंटी नॉरकोटिक्स शाखा इस केस को लेकर राजस्थान पुलिस के संपर्क में है, ताकि पूरे रैकेट को खत्म किया जा सके.

Tags: Drugs case, Mumbai, Mumbai Crime Branch, Narcotics Control Bureau, नशा

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर