संजय राउत ने जनसंख्‍या नीति का किया सशर्त समर्थन, कहा- यूपी-बिहार की आबादी का दूसरे राज्यों पर भी असर

संजय राउत ने किया जनसंख्‍या नीति का समर्थन. (File pic)

Population Policy: शिवसेना नेता संजय राउत (Sanjay Raut) ने यह भी कहा कि इसे सिर्फ इसलिए पेश नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि चुनाव नजदीक हैं. यूपी और बिहार में अधिक जनसंख्या अन्य राज्यों को भी प्रभावित करती है.

  • Share this:
    मुंबई.उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ (Yogi Adityanath) ने कुछ दिन पहले ‘उत्तर प्रदेश जनसंख्या नीति 2021-2030’ (Uttar Pradesh Population Policy) जारी की थी. इस दौरान उन्‍होंने कहा था कि बढ़ती जनसंख्या समाज में व्याप्त असमानता और अन्य समस्याओं की जड़ है. समाज की उन्नति के लिए जनसंख्‍या नियंत्रण प्राथमिक शर्त है. अब शिवसेना के प्रवक्‍ता संजय राउत ने यूपी सरकार की इस जनसंख्‍या नीति (Population Policy) का सशर्त समर्थन किया है. उन्‍होंने कहा कि उनकी पार्टी यूपी में लागू जनसंख्‍या नीति के प्रभावों का विश्‍लेषण करेगी और फिर इस पर राष्‍ट्रीय स्‍तर पर चर्चा के लिए विचार करेगी.

    शिवसेना नेता संजय राउत ने यह भी कहा कि इसे सिर्फ इसलिए पेश नहीं किया जाना चाहिए क्योंकि चुनाव नजदीक हैं. यूपी और बिहार में अधिक जनसंख्या अन्य राज्यों को भी प्रभावित करती है. पिछले रविवार को यूपी के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने जनसंख्‍या नीति को पेश करते हुए कहा था कि इससे राज्‍य की जनसंख्‍या को बढ़ने से रोकने में मदद मिलेगी. साथ ही इससे मातृत्‍व और शिशु मृत्‍यु दर भी कम होगी.

    जनसंख्‍या नीति के अनुसार उत्तर प्रदेश में दो-बच्चों की नीति का उल्लंघन करने वाले को स्थानीय निकाय चुनाव लड़ने, सरकारी नौकरियों के लिए आवेदन करने, पदोन्नति और किसी भी प्रकार की सरकारी सब्सिडी प्राप्त करने से वंचित कर दिया जाएगा.

    इस बीच असम सरकार ने भी ऐसी ही जनसंख्‍या नीति पेश करने की बात कही है. हालांकि इस प्रस्‍ताव को विपक्षी दलों ने चुनावी प्रोपेगेंडा बताकर इसका विरोध किया है. वहीं सपा और कांग्रेस ने भी यूपी सरकार का इस नीति को लेकर विरोध किया है.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.